Top
राष्ट्रीय

करोड़पति बुजुर्ग व्यापारी से शादी रचाई, फिर हत्या-लूटपाट कर गैंग के साथ हो गई थीं फरार, आरोपी महिला गिरफ्तार

Janjwar Desk
27 April 2021 8:44 AM GMT
करोड़पति बुजुर्ग व्यापारी से शादी रचाई, फिर हत्या-लूटपाट कर गैंग के साथ हो गई थीं फरार, आरोपी महिला गिरफ्तार
x
हरीपर्वत के फ्रीगंज में तिरंगा अपार्टमेंट में रहने वाले व्यापारी किशन गोपाल अग्रवाल की 12 अप्रैल की आधी रात को हत्या कर दी गई थी....

जनज्वार डेस्क। उत्तर प्रदेश के आगरा से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। बीते 14 दिन पहले एक अपार्टमेंट में करोड़पति बुजुर्ग व्यापारी की रहस्यमयी तरीके से हत्या कर दी गई थी, इसके लूटपाट की गई थी। पुलिस के मुताबिक लुटेरों के गिरोह में शामिल एक महिला ने पहले करोड़पति कारोबारी से शादी रचाई। इसके बाद अपने गिरोह के साथ मिलकर उनकी हत्या कर दी और फिर जेवरात लूटकर गैंग के साथ फरार हो गई।

पुलिस के मुताबिक शादी के बिचौलिए व्यापारी के परिचित थे, जो घटना वाली रात को साजिश में शामिल युवती को दुल्हन बनाकर व्यापारी के पास लेकर गए थे। महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। घटना में शामिल चार अन्य लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

आगरा के एसपी ने बताया कि हरीपर्वत के फ्रीगंज में तिरंगा अपार्टमेंट में रहने वाले व्यापारी किशन गोपाल अग्रवाल की 12 अप्रैल की आधी रात को हत्या कर दी गई थी। आरोपी व्यापारी की तिजोरी में लाखों के नकदी-जेवरात लूट ले गए थे। घटना को बिना नंबर की कार से आई महिला और उसके तीन साथियों ने अंजाम दिया था। सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों के फिरोजाबाद और एटा की तरफ भागने का पता चला था।

एसपी सिटी के मुताबिक कि हत्या और लूटपाट करने वाले आरोपियों में से शनिवार को पुलिस ने महिला सहित दो आरोपियों को शिकोहाबाद रोड से गिरफ्तार किया। आरोपियों ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल किया है।

आरोपियों ने पुलिस बताया कि किशन गोपाल ने छह महीने पहले परिचित बिल्लू से अपनी शादी कराने की बातचीत की थी। बिल्लू ने इसका जिक्र यज्ञपाल से किया था। सभी ने मिलकर बुजुर्ग व्यापारी को शादी के बहाने लूटने की योजना बनाई और इस साज़िश मे महिला को भी शामिल कर लिया।

आरोपियों के मुताबिक एक महीने पहले विजय और यज्ञपाल ने किशन गोपाल से संपर्क कर उसे महिला का फोटो दिखाते हुए शादी कराने की कहा। व्यापारी ने शादी के लिए महिला को पसंद कर लिया और उससे शादी करने को तैयार हो गया। इसके बाद विजय और यज्ञपाल ने अपने साथियों अवधेश, सचिन और बंटी को साजिश में शामिल किया।

पूछताछ में महिला ने पुलिस को बताया कि 12 अप्रैल की रात को व्यापारी ने उसे शादी के लिए बुलाया था। उसने व्यापारी और साथियों को खाना बनाकर खिलाया। वहीं पर गला दबाकर उसकी हत्या करने के बाद तिजोरी में रखे नकदी-जेवरात लूटकर ले गए। महिला ने बताया कि वह तीन बच्चों की मां है। पति से विवाद हो गया है। अलग रहती है। पति से केस चल रहा है।

महिला ने पुलिस को बताया कि लूट की रकम और जेवरात में आधा-आधा बांटना तय हुआ था। एसपी सिटी ने बताया आरोपियों से मोबाइल फोन, जेवरात और 9100 रुपये बरामद किए हैं। घटना में शामिल विजय उर्फ करुआ, अवधेश, सचिन और बंटी की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it