दिल्ली

कोरोना पॉजिटिव निकला पिज्जा डिलीवरी बॉय, क्वारंटीन में रखे गए दिल्ली के 72 परिवार

Nirmal kant
16 April 2020 10:02 AM GMT
कोरोना पॉजिटिव निकला पिज्जा डिलीवरी बॉय, क्वारंटीन में रखे गए दिल्ली के 72 परिवार
x

पिज्जा की डिलीवरी करने वाला युवक पाया गया कोरोना पॉजिटिव, क्वारंटीन किए गए 72 परिवार और 20 डिलीवरी एजेंट...

जनज्वार। भले ही भारत पूरी तरह से बंद है, लेकिन भोजन और किराने के सामान जैसी आवश्यक सेवाओं के लिए रियायतें दी गई हैं। इसका मतलब यह है कि हमारे जो फ्रंटलाइन के हीरो हैं उनके साथ जो महामारी से लड़ते हुए अपनी जान को जोखिम में डाल रहे हैं, उनमें भोजन, दवाइयों और अन्य आवश्यक वस्तुओं के डेलीवरी एजेंटों का एक बड़ा वर्ग है, जो हमें अपने घर के अंदर खाना पहुंचाने में मदद करते हैं। ताजा अपडेट यह है कि दिल्ली में एक पिज्जा डिलीवरी बॉय कोरोना पॉजिटिव पाया गया है जिसके चलते अब 72 परिवारों को क्वारंटीन किया गया है।

19 वर्षीय डिलीवरी बॉय की अबतक कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है और अब अधिकारियों को संदेह हैं कि वह किसी ऐसे व्यक्ति से संक्रमित हुआ होगा जिसे उसने भोजन दिया होगा। डिलीवरी बॉय को दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि उसने हौज खास विलेज और मालवीय नगर में जिन परिवारों तक खाना पहुंचाया था उन्हें क्वारंटीन में रखा गया है। उनके लक्षणों को अब करीब से देखा जाएगा। यह डिलीवरी बॉय 20 और डिलीवरी एजेंटों के संपर्क में भी आया। उन सभी को छतरपुर इलाके में क्वारंटीन किया गया है।

दिल्ली के सभी जिलों को कोरोनावायरस हॉटस्पॉट या रेड ज़ोन घोषित किया गया है, भोजन को डबल पैकेजिंग और संपर्क रहित डिलीवरी जैसी सावधानियों के साथ दिया जा रहा है। उधर जोमैटो ने एक बयान में कहा कि उस डिलीवरी एजेंट ने अपने कुछ ग्राहकों को खाना पहुंचाया था और वह जिस रेस्टोरेंट का कर्मचारी था वह अब बंद हो चुका है। COVID-19 किसी के साथ भी हो सकता है और यह हम सभी के लिए असंभव है कि हम अपने आप को पूरी तरह से अलग-थलग कर लें, खासकर तब जब हमें भोजन जैसे जरूरी चीजों के लिए बाहरी सपोर्ट की आवश्यकता होती है। हम मानते हैं कि हमारे सवारों में से किसी को भी जानबूझकर काम नहीं करना चाहिए। अगर उन्हें पता था कि वे COVID-19 से संक्रमित हैं।

Next Story

विविध