Top
समाज

योगीराज : बलरामपुर में पुलिस के सामने सरेआम महिला की पिटाई, वीडियो हुआ वायरल तो 2 पुलिसकर्मी निलंबित

Prema Negi
22 May 2020 3:30 PM GMT
योगीराज : बलरामपुर में पुलिस के सामने सरेआम महिला की पिटाई, वीडियो हुआ वायरल तो 2 पुलिसकर्मी निलंबित
x

बलरामपुर के रेहरा बाजार में जब आधा दर्जन मर्द महिला की सरेआम लिंचिंग कर रहे थे, तब वहां यूपी 112 के पुलिसकर्मी वहां मौजूद थे, लेकिन वह मूकदर्शक ही बने रहे...

मनीष दुबे की रिपोर्ट

जनज्वार। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें कई लोग एक महिला को बीच सड़क पर पीट रहे हैं। यह वीडियो उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिला स्थित थाना रेहरा बाजार के गांव अधीनपुर का है।

स महिला को उसके ही परिवार के 6 लोगों ने लात घूंसों से पीटा। महिला को पीटने वालों में पति, जेठ, देवर व उसके तीन भतीजे शामिल हैं। आज 22 मई को वायरल हुए इसव वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक महिला को कुछ लोगों द्वारा बुरी तरह पीटा जा रहा है और घटना के वक्त यूपी 112 के सिपाही मौजूद थे, लेकिन उन्होंने महिला की कोई मदद नहीं की। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद अब केस दर्ज कर लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक बलरामपुर के रेहरा बाजार का अधीनपुर गांव निवासी अशोक व उसकी पत्नी सुशीला में मकान बेचने को लेकर विवाद चल रहा था। महिला का पति अशोक अपने भाई को मकान बेचना चाहता था, पर सुशीला किसी और को बेचने के पक्ष में थी। इसे लेकर दोनों में विवाद हुआ जिस पर सुशीला ने 112 पर कॉल कर पुलिस बुला ली। इस दौरान विवाद होने पर अशोक पत्नी सुशीला को पीटने लगा। वहां मौजूद महिला के देवर, जेठ और उसके तीनों बेटों ने भी उस पर हमला कर दिया और महिला को लात घूंसों, डंडे लाठी से बुरी तरह गिराकर पीटा।

टना का वीडियो देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इसे पोस्ट करते हुए नेहा यादव नामक युवती ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखतीं हैं की 'ये देखिये उत्तर प्रदेश का रामराज्य जहां सीतातुल्य देवी को खुलेआम मर्दों की भीड़ के द्वारा पुलिस के सामने पिटा जा रहा है। और मूकदर्शक पुलिस सार्वजनिक लिंचिंग को देख रही है, ये घटना बलरामपुर के रेहरा बाजार की है। साथ ही नेहा लिखती है कि अब देखना यह है कि पुलिस क्या कार्रवाई करती है।'



?s=08

लरामपुर के रेहरा बाजार में जब आधा दर्जन मर्द महिला की सरेआम लिंचिंग कर रहे थे, तब वहां यूपी 112 के पुलिसकर्मी वहां मौजूद थे, लेकिन वह मूकदर्शक ही बने रहे। घटना के वक्त मौजूद पुलिसकर्मियों ने महिला को बचाने और उन्हें रोकने का कोई प्रयास नहीं किया। घटना का वीडियो वायरल होने पर केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने सभी आरोपियों पर मुकदमा संख्या 128/20 के तहत धारा 147, 148, 452, 307, 504, 506 सहित 427 IPC का अभियोग पंजीकृत किया है। अब तक चार आरोपियों की गिरफ्तारी हो गई है। दो अन्य की तलाश में दबिश दी जा रही है।

लरामपुर जिले के पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा ने जनज्वार से हुई बातचीत में बताया कि मामले का संज्ञान लेते हुए वहां मौजूद दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। मामले में अब तक महिला के पति, जेठ, देवर व महिला के एक भतीजे को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। हम जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लेंगे। अपने ट्वीटर हैंडल पर भी पुलिस ने इसकी जानकारी साझा की है।



?s=08

Next Story

विविध

Share it