कश्मीर

कोरोना सामुदायिक स्तर पर न फैले इसलिए श्रीनगर में एक और घनी आबादी वाला इलाका रेड जोन घोषित

Prema Negi
7 April 2020 2:24 PM GMT
कोरोना सामुदायिक स्तर पर न फैले इसलिए श्रीनगर में एक और घनी आबादी वाला इलाका रेड जोन घोषित
x

श्रीनगर शहर के दो अन्य घनी आबादी वाले क्षेत्रों छत्ताबल और जवाहर नगर में कोविड-19 रोगी मिलने के बाद इन्हें पहले ही रेड जोन में बांटा जा चुका है...

श्रीनगर, जनज्वार। श्रीनगर के प्रशासनिक अधिकारियों ने मंगलवार 7 अप्रैल को को श्रीनगर शहर की घनी आबादी वाले ईदगाह इलाके को रेड जोन घोषित कर दिया। ईदगाह इलाके से तीन व्यक्तियों का परीक्षण पॉजिटिव आने के बाद अधिकारियों ने कोरोनोवायरस संक्रमण की जांच करने के लिए इस घनी आबादी वाले क्षेत्र को रेड जोन घोषित किया है।

सुरक्षा बलों ने क्षेत्र में बाहर के लोगों को आने से रोकने के लिए प्रवेश और निकास बिंदुओं को ब्लॉक करने के लिए रेजर फिटेड कंसर्टिना तार के कॉइल लगाए हैं।

यह भी पढ़ें — कोरोना : कश्मीरी डॉक्टरों को सरकार की धमकी, अगर ‘मीडिया’ को कुछ भी बताया तो करेंगे ‘सख्त’ कार्रवाई

श्रीनगर शहर के दो अन्य घनी आबादी वाले क्षेत्रों - छत्ताबल और जवाहर नगर में कोविड-19 रोगी मिलने के बाद इन्हें पहले ही रेड जोन में बांटा जा चुका है।

गौरतलब है कि चट्टाबल और ईदगाह पुराने शहर का हिस्सा हैं। वहीं जवाहर नगर दुकानों, डिपार्टमेंटल स्टोर्स और रिहायशी मकानों से सटा हुआ एक शहर है, जिसमें सरकारी अधिकारियों और नेताओं के फ्लैट और क्वार्टर आदि भी हैं।

संबंधित खबर : ‘मेरे बेटे को मार सकता है लॉकडाउन, हमें कश्मीर हमारे घर भेज दो’

पुलवामा, गांदरबल और बांदीपोरा के गांवों को भी संबंधित जिला मजिस्ट्रेटों द्वारा रेड जोन क्षेत्र घोषित किया गया है। कश्मीर में रेड जोन क्षेत्रों में सबसे अधिक प्रभावित बांदीपोरा जिले का हाजिन इलाका है।

प्राधिकरण यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि रेड जोन घोषित किए गए क्षेत्रों में सभी आवश्यक आपूर्ति बिना किसी रुकावट के जारी रहे।

संबंधित खबर : निजामुद्दीन जमातियों की कानपुर में मूवमेंट के बाद 7 इलाके रेड जोन घोषित

तना ही है कि इन क्षेत्रों में और इन क्षेत्रों से लोगों की आवाजाही को कड़ाई से मॉनीटर किया जा रहा है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि कश्मीर में यह महामारी सामुदायिक स्तर पर न फैल सके।

Next Story

विविध