Top
सिक्योरिटी

सोशल मीडिया पर घूम रही भारत-चीनी सैनिकों के बीच झड़प की वीडियो सामग्री प्रमाणित नहीं

Prema Negi
31 May 2020 12:59 PM GMT
सोशल मीडिया पर घूम रही भारत-चीनी सैनिकों के बीच झड़प की वीडियो सामग्री प्रमाणित नहीं

वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि चीनी सैनिकों ने भारत की सीमा में प्रवेश करने की कोशिश की, लेकिन भारतीय सेना की तरफ से उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया गया...

नई दिल्ली, जनज्वार। भारतीय सेना ने रविवार को सोशल मीडिया पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प के एक कथित वीडियो के सामने आने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इसकी सामग्री प्रमाणित नहीं है।

भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चल रहे विवाद के बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि चीनी सैनिकों ने भारत की सीमा में प्रवेश करने की कोशिश की, लेकिन भारतीय सेना की तरफ से उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया गया। इस पर भारतीय सेना ने एक बयान में कहा, "प्रसारित किए जा रहे वीडियो की सामग्री प्रमाणित नहीं है।"

सेना ने कहा कि इसे उत्तरी सीमा पर स्थिति से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है, जो दुर्भावनापूर्ण है। भारतीय सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वर्तमान में कोई हिंसा नहीं हो रही है।

सेना ने कहा, "दोनों देशों के बीच सीमाओं के प्रबंधन पर स्थापित प्रोटोकॉल के तहत सैन्य कमांडरों के बीच बातचीत के माध्यम से मतभेदों को दूर किया जा रहा है।"

सेना ने राष्ट्रीय सुरक्षा को प्रभावित करने वाले मुद्दों को सनसनीखेज बनाने के प्रयासों की भी निंदा की।

ता दें कि इन दिनों पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में एलएसी के पास भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच तनाव बढ़ा हुआ है और वे आमने-सामने हैं। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर दोनों पक्षों ने चार स्थानों पर 1,000 से अधिक सैनिकों को तैनात किया हुआ है।

भारतीय सेना पूर्वी लद्दाख और पैंगवान घाटी क्षेत्र के पैंगोंग त्सो क्षेत्र में कड़ी निगरानी रख रही है, जहां चीनियों ने अपनी तैनाती बढ़ा दी है। हालांकि मुद्दे को सुलझाने के लिए दोनों देश बातचीत में लगे हुए हैं।

Next Story
Share it