Top
राजनीति

डिबेट में आई महिला सपा नेता की भाजपाइयों ने फाड़ी सदरी

Prema Negi
5 April 2019 1:22 PM GMT
डिबेट में आई महिला सपा नेता की भाजपाइयों ने फाड़ी सदरी
x

चैनल में बहस के दौरान भाजपाइयों ने महिलाओं से की अश्लीलता तो दलित नेता को गालियां देकर बुरी तरह पीटा...

मुश्ताक़ अली अंसारी की रिपोर्ट

लखीमपुर खीरी। भाजपा विकास के वादे के साथ सत्ता में आई थी, लेकिन उसने अपने बैनर तले गुंडों को नफ़रत और हिंसा की राजनीति की खुली छूट दे दी है। मोदीराज में सवाल उठाने, झूठ उजागर करने और सच बोलने को देश विरोधी करार दिया जाता है, जहां असहमति पर बात हो सकती थी, वहां मीडिया चैनलों की बहस में दलितों से गाली—गलौच और महिलाओं से सरेआम गुंडागर्दी की जा रही है।

गौरतलब है कि एक न्यूज चैनल द्वारा आयोजित डिबेट 'कौन बनेगा प्रधानमंत्री' में लखीमपुर खीरी के कंपनी बाग में भाजपाइयों ने सपा की महिला नेता से अश्लीलता की और एक दलित नेता को पीट दिया।

इस मामले में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधि मंडल अपर पुलिस अधीक्षक खीरी घनश्याम चौरसिया से मिला और एफआईआर के लिए प्रार्थना पत्र दिया। सपा की अधिवक्ता सभा के जिला उपाध्यक्ष जसकरण राज ने पुलिस अधीक्षक को दिए गए पत्र में कहा है कि इंडिया वन न्यूज़ टीवी चैनल द्वारा आयोजित कार्यक्रम में 'कौन बनेगा प्रधानमंत्री' की बहस कंपनी बाग में आयोजित की गई थी, जिसमें सपा, बसपा, भाजपा, कांग्रेस पार्टी के प्रतिनिधि व कार्यकर्ता अपनी अपनी बात रखने के लिए मौजूद थे।

देखें वीडियो :

शुरू होने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने विपक्षी दलों के लिए गंदी गालियां से और अपशब्दों का प्रयोग शुरू कर दिया, जिसमें प्रमुख रूप से संजय गुप्ता, शांतम तिवारी, चेतन गुप्ता, सुमित जायसवाल, सुमित मोदी ने योगी—मोदी राज का विरोध करने पर वहां मौजूद दलितों और महिला नेता से गाली—गलौच, मारपीट की।

इन लोगों ने जब मारपीट शुरू की तो अंजली सिंह, अरुण गुप्ता और तृप्ति अवस्थी ने बीचबचाव की कोशिश की तो भाजपा के गुंडा तत्वों ने अंजली सिंह का दुपट्टा छीन लिया और अश्लील हरकतें करते हुए उनकी सदरी को फाड़ दिया। सपा नेत्री पूनम यादव द्वारा बीचबचाव में आने पर उनके साथ भी धक्का—मुक्की की गई।

इस घटना की सूचना मौके पर पुलिस को दी गई, पुलिस ने बीचबचाव करा करा दिया, मगर पीड़ित महिलाओं और दलित नेता ने इस मामले में भाजपा नेताओं—कार्यकर्ताओं पर जल्द से जल्द पुलिसिया कार्यवाही करने की मांग की।

Next Story

विविध

Share it