समाज

कोरोना वायरस की चंडीगढ़ में दस्तक, पीजीआई में भर्ती कराए गए दो संदिग्ध मरीज

Nirmal kant
5 March 2020 8:50 AM GMT
कोरोना वायरस की चंडीगढ़ में दस्तक, पीजीआई में भर्ती कराए गए दो संदिग्ध मरीज
x

चंडीगढ़ में कम से कम 50 लोगों को डाक्टरों की कड़ी निगरानी में रखा जा रहा है। 17 विदेशी यात्री भी शामिल है। कोरोना के इस क्षेत्र में फैलने से अब लोग खासे डरे हुए है...

चंडीगढ़ से मनोज ठाकुर की रिपोर्ट

जनज्वार ब्यूरो। कोरोना वायरस अब धीरे-धीरे हमारे आस पास भी फैलता जा रहा है। चंडीगढ़ में दो संदिग्ध मरीज पीजीआई में भर्ती कराए गए हैं। यह दोनों अभी हाल में इंडोनेशिया और सिंगापुर की यात्रा करके वापस आए थे। दोनों मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। सैंपल लिए गए हैं। इसकी जांच के बाद ही पता चलेगा कि स्थिति क्या है? चंडीगढ़ में कम से कम 50 लोगों को डाक्टरों की कड़ी निगरानी में रखा जा रहा है। 17 विदेशी यात्री भी शामिल है। कोरोना के इस क्षेत्र में फैलने से अब लोग खासे डरे हुए हैं।

मास्क की ब्लैक जोरो पर

दूसरी ओर हरियाया और पंजाब में मास्क की कालाबाजारी जोरों पर है। दो ढाई रुपए में मिलने वाला मास्क अब पचास रुपए से लेकर 100 रुपए में मिल रहा है। हरियाणा और पंजाब में एक दिन में दो से ढाई लाख मास्क बिक रहे हैं। हैंड सेनिटाइजर को लेकर भी मारामारी मची हुई है। इसके दाम भी डबल से ज्यादा वसूले जा रहे हैं। दवा विक्रेताओं ने बताया कि उन्हें पीछे से ही सामान महंगा मिल रहा है। अब महंगा बेचने के सिवाय उनके पास चारा नहीं है।

संबंधित खबर : कोरोना वायरस के नाम पर भारत में कालाबाजारी शुरू

करेंगे कड़ी कार्यवाही

दूसरी ओर हरियाणा के हेल्थ मिनिस्टर अनिल विज ने कहा कि ब्लैक को किसी भी तरह से बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि डाक्टरों को हिदायत दी गयी कि वह दवा विक्रेताओं पर नजर रखे। उन्होंने यह भी बताया कि यदि किसी ने मास्क या इसी तरह का सामान स्टोर किया तो उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा। पंजाब के चीफ मिनिस्टर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि घबराए नहीं। सरकार स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

हरियाणा पुलिस ने जारी की कर्मचारियों के लिए एडवाइजरी

रियाणा के पुलिस विभाग ने कोरोनावायरस से बचाव के लिए भीड़भाड़ वाले इलाकों में ड्यूटी करने वाले पुलिस कर्मचारियों को प्रोटेक्शन इक्विपमेंट उपलब्ध करवाने का फैसला किया है। एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर नवदीप सिंह विर्क ने सभी एसपी, कमिशनर ऑफ पुलिस और बटालियन कमाडेंट इंचार्ज को इस संबंध में आदेश दिए हैं।

सिंह विर्क द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि जो पुलिसकर्मी दूसरे व्यक्तियों से नजदीक से संपर्क में आते हैं, भीड़ को नियंत्रित करते हैं, ट्रैफिक ड्यूटी करते हैं, उन्हें तत्काल प्रोटेक्टिंग इक्विपमेंट उपलब्ध करवाए जाएं। इसमें दस्ताने, मास्क और हैंड सेनिटाइजर जैसी चीजें शामिल हैं।

पंजाब से बड़ी संख्या में लोगों को बाहर आना जाना लगा रहता है

क्योंकि पंजाब के लोग अलग अलग देशों में बसे हुए हैं। इसलिए यहां के लोगों का बाहर आना जाना लगा रहता है। हेल्थ विभाग की ओर से एडवाइजरी जारी की गयी कि विदेश में जाने से बचे। यदि जरूरी है तो बाहर जाने से पहले अपना चैकअप कराए। आने के बाद अपनी यात्रा का विवरण देते हुए मेडिकल जांच जरूरी करानी चाहिए।

हिमाचल में तिब्बतियन चिल्ड्रन विलेज बंद

र्मशाला में तिब्बतियन चिल्ड्रन विलेज स्कूल को मंगलवा से अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। दो महीने के शीतकालीन अवकाश के बाद टीसीवी स्कूल की आठ शाखाओं को फिर से खोलना था, लेकिन कक्षा 8 तक के छात्रों के लिए अगली सूचना तक अवकाश बढ़ा दिया गया है।

संबंधित खबर : क्या रामदेव पतंजलि को उबारने के लिए कर रहे कोरोना वायरस के नाम पर इलाज के फर्जी दावे?

विद्यार्थियों ने विभिन्न देशों से भारत आना था। किसी भी तरह के कोरोना वायरस के संकट से बचने के लिए केंद्रीय तिब्बती प्रशासन व टीसीवी प्रशासन ने एहतियाती कदम उठाते हुए छात्रों की छुट्टियों को बढ़ा दिया है।

तिब्बती प्रशासन द्वारा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, लद्दाख और कर्नाटक में तिब्बती चिल्ड्रन विलेज (टीसीवी) स्कूल की आठ शाखाओं ने कोरोनोवायरस के खतरे के चलते कक्षा 8 तक के छात्रों के लिए छुट्टी की घोषणा की है। टीवीसी स्कूल के अध्यक्ष थुप्तेन दोरजी ने कहा कि कक्षा 8 तक के बच्चों के लिए छुट्टी बढ़ा दी गई है।

Next Story

विविध

Share it