Top
मध्य प्रदेश

दूसरे राज्यों से अब तक मध्य प्रदेश के 14,000 प्रवासी मजदूर लौटकर आए वापस

Nirmal kant
29 April 2020 1:30 AM GMT
दूसरे राज्यों से अब तक मध्य प्रदेश के 14,000 प्रवासी मजदूर लौटकर आए वापस
x

अपर मुख्य सचिव और स्टेट कंट्रोल-रूम प्रभारी आई़ सी़ पी़ केशरी ने बताया कि एक दिन के भीतर गुजरात से 500 और हरियाणा से 1350 श्रमिक 45 बसों में ग्वालियर लाए गए हैं। इन्हें गृह जिले भेजा जा रहा है...

जनज्वार, भोपाल। कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए उठाए जा रहे कदमों के चलते बड़ी संख्या में मध्य प्रदेश के निवासी श्रमिक दूसरे राज्यों फंसे हुए हैं। इनको वापस लाने के राज्य सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। अब तक लगभग 14 हजार श्रमिकों को दूसरे राज्यों से वापस लाया जा चुका है।

पर मुख्य सचिव और स्टेट कंट्रोल-रूम प्रभारी आई़ सी़ पी़ केशरी ने बताया, 'मंगलवार 28 अप्रैल को 6450 श्रमिक 215 बसों में जैसलमेर (राजस्थान) से लाए गए हैं। इन्हें नीमच, आगर-मालवा, श्योपुर और गुना एन्ट्री प्वाइंट पर लाया गया है। इनके स्वास्थ्य परीक्षण और भोजन कराने के बाद संबंधित जिलों में भेज दिया गया है।'

संबंधित खबर : लॉकडाउन -पंजाब में फंसे नवोदय विद्यालय के 23 छात्रों को भेजा गया वापस मध्य प्रदेश

केशरी ने बताया कि आज ही गुजरात से 500 और हरियाणा से 1350 श्रमिक 45 बसों में ग्वालियर लाए गए हैं। इन्हें गृह जिले भेजा जा रहा है। इन्हीं वाहनों में मध्यप्रदेश में फंसे राजस्थान के 2500 श्रमिकों को वापस राजस्थान भेजा जा रहा है।

न्होंने कहा, 'राजस्थान से बुधवार को 2500 और गुरुवार तक पांच हजार श्रमिक लाए जाएंगे। उत्तर प्रदेश के राहत शिविरों में रह रहे श्रमिकों को भी वापस लाने की कार्यवाही की जा रही है।'

है कि रविवार को गुजरात से 2500 और राजस्थान से 700 श्रमिक वापस लाए गए। इसी तरह सोमवार 27 अप्रैल को 500 श्रमिक राजस्थान से लाये गये। वहीं विभिन्न जिलों में फंसे 25 हजार श्रमिक गृह स्थान पहुंचाए गए हैं।

Next Story
Share it