सिक्योरिटी

दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश अब एयरलिफ्ट नहीं होंगे हनुमान जी

Janjwar Team
27 Nov 2017 10:48 AM GMT
दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश अब एयरलिफ्ट नहीं होंगे हनुमान जी
x

जनज्वार, दिल्ली। खुश होइए कि दिल्ली के करोल बाग या कहें कि दिल्ली की पहचान के बतौर ख्यात हो चुकी हनुमान की 108 फीट उंची मूर्ति अब एयरलिफ्ट नहीं होगी। 24 नवंबर को इस मामले में हुई सुनवाई में हाईकोर्ट ने कहा कि हनुमान की मूर्ति वहीं रहेगी, मगर मूर्ति के आसपास से अतिक्रमण जल्द से जल्द हटाया जाए।

अपने आदेश में दिल्ली हाईकोर्ट ने डीडीए, पीडब्‍ल्‍यूडी और एमसीडी से कहा है कि वे मूर्ति के आसपास मौजूद अतिक्रमण को जल्द से जल्द हटाने का कोई प्लान तैयार करें। गौरतलब है कि इस मामले की अगली सुनवाई अब अगले महीने 12 दिसंबर को होनी है। डीडीए का कहना है कि उसने अतिक्रमण हटाने के लिए काम करना शुरू कर दिया है, सुनवाई से पहले दिन यानी 23 नवंबर को उसने बग्गा मोटर की 1200 स्क्वायर यार्ड में मौजूद अतिक्रमण को हटा दिया है।

इससे पहले दिल्ली में बढ़ते अतिक्रमण के तहत एक जनहित याचिका पर विचार करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने राष्ट्रीय राजधानी में अवैध निर्माणों को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए डीडीए, पीडब्‍ल्‍यूडी और एमसीडी को आदेश दिया था कि सेंट्रल दिल्ली से अतिक्रमण हटाने के लिए करोलबाग में लगी 108 फुट ऊंची हनुमान प्रतिमा को एयरलिफ्ट करके दूसरी जगह लगाया जाए।

दिल्ली हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी. हरिशंकर की पीठ अतिक्रमण मसले पर दायर की गई जनहित याचिका मसले को देख रही है। पहले आदेश में इस मसले पर सुनवाई करते हुए पीठ ने कहा था कि अगर अमेरिका में गगनचुंबी इमारतों, स्टेचूज का पूरी तरह स्थानांतरण किया जा सकता है तो, भारत में यह संभव क्यों नहीं है। गौरतलब है कि एक गैर सरकारी संगठन ने दिल्ली के अवैध निर्माण और अतिक्रमण को हटाने की बाबत यह मांग की थी।

यह सही है कि दिल्ली में हद से ज्यादा अतिक्रमण है। इस मूर्ति के आगे तो शनिवार और मंगलवार को इतनी भारी तादाद में भक्त दर्शनार्थ आते हैं कि इसके आगे की 200 मीटर की दूरी को क्रास करने में गाड़ियों को 2 घंटे तक का वक्त लग जाता है। याचिका में भी इस बात का जिक्र किया गया था कि हनुमान की विशाल मूर्ति की वजह से आसपास के इलाकों में भयंकर ट्रैफिक जाम हो जाता है।

जिस जमीन को एयरलिफ्ट करने के लिए कयास लगाए जा रहे थे वह जमीन के नीचे 40 फीट है तो ऊपर 108 फुट। यानी कुल 148 फीट की है यह मूर्ति। भारत में इतनी बड़ी मूर्ति को एयरलिफ्ट करने का कोई ऐसा संसाधन मौजूद नहीं है, जिससे कि इसे सुरक्षित तरीके से कहीं और स्थापित किया जा सके। एयरलिफ्ट करने की कोशिश की भी जाती तो इसमें टूट—फूट जरूर होती। मंदिर प्रशासन ने भी कहा था कि हनुमान प्रतिमा को स्थानांनतरित किया जाना असंभव है।

आप दिल्ली आए हों या किसी को भी करोलबाग से गुजरने का मौका मिलता है तो दिल्ली से पहचान के तौर पर 108 फुट उंची हनुमान जी की मूर्ति आपको जरूर याद रहेगी।

बॉलीवुड फिल्मों या सीरियलों मे दिल्ली को दिखाना हो तो हनुमान की यह मूर्ति जरूर नजर आती है। फोटोग्राफर्स के लिए भी यह दिल्ली का पसंदीदा स्थानों में से एक है। बॉलीवुड की कई सुप्रसिद्ध फिल्मों में 108 फुट उंचे हनुमान जी दिल्ली की पहचान के बतौर जरूर दिखाई दिए हैं।

Next Story

विविध

Share it