समाज

सोनभद्र में 3000 टन सोना होने की खबर जियोलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने किया खारिज

Vikash Rana
22 Feb 2020 2:55 PM GMT
सोनभद्र में 3000 टन सोना होने की खबर जियोलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने किया खारिज
x

जीएसआई के निदेशक डॉ जीएस तिवारी ने बताया कि सोनभद्र की खदान में 3000 टन सोना होने की बात जीएसआई नहीं मानता। सोनभद्र में 52806.25 टन स्वर्ण अयस्क होने की बात कही गई है न कि शुद्ध सोना...

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में सोने का भंडार मिलने के बाद देश ही नहीं पूरी दुनिया की नजरें भारत के इस जिले पर अटकी हुई है. लोग इंतजार कर रहे हैं कि आखिर सोनभद्र में सोने की खान का जो पता मिला है, वहां खुदाई कब शुरू होगी और उससे कितना सोना बाहर निकलेगा

त्तर प्रदेश के सोनभद्र में सोने का भंडार मिलने के बाद देश ही नहीं पूरी दुनिया की नजरें दिल्ली के इस जिले पर अटकी हुई है। लेकिन जियोलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (जीएसआई) ने शनिवार को खदान में 3000 हजार टन नहीं, बल्कि सिर्फ 160 किलो सोना होने का दावा किया है। जीएसआई के निदेशक डॉ जीएस तिवारी ने बताया कि सोनभद्र की खदान में 3000 टन सोना होने की बात जीएसआई नहीं मानता। सोनभद्र में 52806.25 टन स्वर्ण अयस्क होने की बात कही गई है न कि शुद्ध सोना।

सोनभद्र में मिले स्वर्ण अयस्क से प्रति टन सिर्फ 3.03 ग्राम ही सोना निकलेगा। ऐसे में पूरे खदान से 16 किलो सोना ही निकलेगा। तिवारी ने कहा कि सोनभद्र में सोने की तलाश अभी जारी है। जीएसआई का सर्वे अभी चल रहा है। वहां पर और सोना मिलने की संभावना से अभी इनकार नहीं किया जा सकता। लेकिन अभी जो अयस्क मिला है, उससे 160 किलो ही सोना निकलेगा।

संबंधित खबर: सोनभद्र जिले में मिला सोने का विशाल भंडार, जमीन के अंदर है 3000 टन सोना

तिवारी का कहना कि इस संबंध में सोनभद्र के जिलाधिकारी से भूमि संबंधी रिपोर्ट प्राप्त की जा रही है। उसके बाद क्षेत्र को भू-राजस्व मानचित्र पर अंकित कर खनन के लिए उपयुक्त क्षेत्र की आवश्यक औपचारिकता पूरी करते हुए नीलामी की कार्यवाही की जाएगी। बता दें कि उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले की सोन और हरदी पहाड़ी में अधिकारियों ने सोना मिलने की पुष्टि की है। इसके अलावा क्षेत्र की पहाड़ियों में एंडालुसाइट, पोटाश, लौह अयस्क आदि खनिज संपदा होने की बात भी चर्चा में है।

सोना निकले जाने की जानकारी के बाद से ही क्षेत्र के आसपास की पहाड़ियों में लगातार 15 दिनों से हेलिकॉप्टर से सर्वे किया जा रहा है। बतयाा जा रहा है कि हवाई सर्वे के माध्यम से यूरेनियम का भी पता लगाया जा रहा है। यूरेनियम की मौजूदगी की भी प्रबल संभावना सोनभद्र में जताई जा रही है। भारत में सबसे ज्यादा सोना कर्नाटक की हुत्ती खदान से निकाला जाता है। इस लिहाज से भारत में कर्नाटक सोने का सबसे बड़ा उतापदक राज्य है।

संबंधित खबर: नर्मदा घाटी के मछुआरों का रोजगार संकट में, सरकार ने बाहरी ठेकेदारों के लिए जारी की निविदा तो मेधा पाटकर के नेतृत्व में प्रदर्शन

इससे पहले उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में सोने का विशाल भंडार मिलने का दावा किया गया था। जमीन के अंदर 3000 टन सोना मिलने के बाद इसे निकालने का काम जल्द ही शुरू कर दिया गया था। भूतत्व एवं खनिज निदेशालय ने भी इसकी पुष्टि कर दी थी। 22 फरवरी तक इस संबंध में रिपोर्ट जिओ टैगिंग करके लखनऊ सौंपी जानी थी।

Next Story

विविध

Share it