समाज

अंधविश्वासी परिजनों ने जिस तांत्रिक को भूत भगाने के लिए आदर-सत्कार से बुलाया था अपने घर, वही बेटी का बलात्कार कर हुआ फरार

Prema Negi
10 July 2019 2:03 PM GMT
अंधविश्वासी परिजनों ने जिस तांत्रिक को भूत भगाने के लिए आदर-सत्कार से बुलाया था अपने घर, वही बेटी का बलात्कार कर हुआ फरार
x

आदर-सत्कार कर भूत भगाने के लिए बुलाया गया तांत्रिक बच निकलता पाक-साफ, अगर बलात्कार पीड़िता युवती ने नहीं बताई होती उसकी दरिंदगी की आपबीती...

बलरामपुर से फरीद आरजू की रिपोर्ट

जनज्वार। इक्कीसवीं सदी में इंसान भले ही ऊंची बुलंदियां हासिल कर विज्ञान के जरिये अंतरिक्ष में नए नए कीर्तिमान कायम कर रहा हो, मगर आज भी एक बड़ी आबादी तंत्र मंत्र के चक्कर में पड़कर ढोंगियों का शिकार हो रही है।

क ऐसा ही ताजा मामला बलरामपुर में सामने आया है। एक ढोंगी बाबा ने तंत्र मंत्र की आड़ में एक युवती को नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ बलात्कार किया। होश आने पर युवती ने जब सारी सच्चाई घर वालों को बताई तो सबके होश फाख्ता हो गए। बलात्कार पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर ढोंगी तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है।

ह मामला कोतवाली नगर क्षेत्र के बिजली का है, जहां एक युवक ने तांत्रिक को पूजा के लिए अपने घर बुलाया था। घर में पूजा के लिए आए तांत्रिक फूलचंद ने 22 वर्षीय युवती को घर में अकेले पूजा करने के बहाने बैठाया और परिजनों को घर से बाहर कर दिया। उस दौरान तांत्रिक ने युवती को नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश कर दिया और उसके साथ बलात्कार किया। युवती का बलात्कार करने के बाद ढोंगी तांत्रिक मौके से फरार हो गया।

होश आने पर युवती ने ढोंगी बाबा द्वारा जबर्दस्ती धोखे से अपने साथ हुए बलात्कार की सारी सच्चाई परिवार वालों को बताई तो सबके होश उड़ गए। घटना की जानकारी परिजनों ने पुलिस को दी। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी कथित तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक यह कथित तांत्रिक इससे पहले भी कई परिवारों को अपना शिकार बना चुका है। पुलिस अन्य मामलों की जाँच में भी जुट गई है।

पुलिस ने भले ही इस तथाकथित तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया हो, लेकिन ऐसे हजारोंं ढोंगी हैं, जो तंत्र मंत्र के नाम पर गरीब भोली भाली जनता को ठगते हैं। बल्कि मौका मिलने पर बच्चियों और महिलाओं का शारीरिक शोषण भी करते हैं। अंधविश्वास से मुक्त हो ऐसे ढोंगियों से जब तक आम आदमी होशियार नहीं होगा, तब तक ये लोग को गंडा-ताबीज, तंत्र-मंत्र के नाम पर छलते रहेंगे।

Next Story

विविध