Top
आंदोलन

योगेंद्र यादव की बहन के घर इनकम टैक्स का छापा

Prema Negi
11 July 2018 9:55 AM GMT
योगेंद्र यादव की बहन के घर इनकम टैक्स का छापा
x

स्वराज पार्टी अध्यक्ष योगेंद्र यादव बोले, मोदी जी मेरी जांच करो, मेरे घर रेड करो, परिवार को क्यों तंग करते हो...

जनज्वार, दिल्ली। मोदी सरकार के ​मुखर विरोधी स्वराज पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने परसों ही रेवाड़ी में किसान यात्रा खत्म की थी कि आज रेवाड़ी में ही अस्पताल चलाने वाली उनके बहन—जीजा के यहां इनकम टैक्स की रेड पड़ गयी है।

योगेंद्र यादव ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से यह जानकारी साझा करते हुए ट्वीट किया है, 'बौखलाई मोदी सरकार अब मेरे परिवार के पीछे पड़ी। परसों मेरी रेवाड़ी की पदयात्रा पूरी हुई, MSP और ठेका बंदी का आंदोलन शुरू हुआ। आज सुबह रेवाड़ी में मेरी बहन, जीजा और भांजे के हस्पताल और नर्सिंग होम पर इनकम टैक्स रेड। मोदी जी, मेरी जांच करो, मेरे घर रेड करो, परिवार को क्यों तंग करते हो?'

इसी आशय का दूसरा ट्वीट योगेंद्र यादव ने लिखा है, 'मेरी सूचना के अनुसार आज सुबह 11 बजे दिल्ली से इनकम टैक्स और गुडगाँव पुलिस के 100 लोगों ने रेवाड़ी और कलावती और कमला नर्सिंग होम पर छापा मारा। डॉक्टरों को केबिन में बंद किया है, हस्पताल (जिसमे नवजात बच्चों का ICU भी है) सील कर दिया है, धमकाने की कोशिश जारी है।'

गौरतलब है कि योगेंद्र यादव किसानों—वंचितों के मुद्दों को उठाते रहते हैं। थोड़े दिन पहले उन्होंने MSP और ठेका बंदी के खिलाफ पदयात्रा शुरू की थी, माना जा रहा है कि उसी से बौखलाई मोदी सरकार ने उनके परिवार को निशाना बनाया है।

हालांकि योगेंद्र यादव के इस आशय की खबर ट्वीट करने पर कई लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया है तो कई उनका फेवर भी कर रहे हैं। अरविंद केजरीवाल नाम से एक ट्वीटर हैंडल से उनके कमेंट बॉक्स में लिखा है, 'अच्छा तो तेरे साथ साथ तुम्हारे परिवार ने भी 2 नम्बर का खूब माल कमाया है। नौटंकी ही कर सकते हो तो वही कर लो, वैसे भी तुम्हारे पास काम तो कुछ है नहीं। वैसे एक बात समझ लो कि मोदी के पास इतना फालतू टाइम नहीं है कि तेरे जैसे लुच्चे टुच्चे के यहाँ रेड डलवाएं। फालतू फुटेज मत खा।'

आशीष सैनी ने ट्वीट किया है, 'विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों के अनुदान के लिए सरकार के पास फंड नहीं है, लेकिन अंबानी के जियो इंस्टिट्यूट जो अभी खुला ही नहीं उसके लिए हजार करोड़? सरकार लाख छुपाए लेकिन उसकी प्राथमिकता और गरीबों के प्रति रवैया छुप नहीं पाता। जियो इंस्टिट्यूट के गरीब छात्र दुआएं देंगे।'

गौरतलब है कि 1 जुलाई से देश की बिगड़ती हालात को लेकर स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने रेवाड़ी में एक पदयात्रा की शुरुआत की थी, जिसका समापन 9 जुलाई को हुआ। पदयात्रा की बात मीडिया से साझा करते हुए योगेंद्र यादव ने कहा था कि पदयात्रा इसलिए की जा रही है ताकि गाँवों के हालात सुधरें।

पदयात्रा के जरिए मांग रखी गई थी कि किसानों को फसल का पूरा दाम मिले, मजदूरों को पूरी मजदूरी दी जाए, जल संरक्षण और अवैधानिक शराब ठेके सरकार अविलंब बंद करे।

Next Story

विविध

Share it