Top
समाज

जब छूट जाये ओला में मोबाइल या सामान तो मिलना नहीं आसान

Prema Negi
8 Jun 2019 11:41 AM GMT
जब छूट जाये ओला में मोबाइल या सामान तो मिलना नहीं आसान
x

इतने बड़े कारोबार को चला रहे ओला का नहीं है कोई कस्टमर केयर नंबर

जिस उपभोक्ता द्वारा ओला एप से टैक्सी बुक कराई जाती है, ओला द्वारा मेल पर उसकी डिटेल और गाड़ी नंबर तक कस्टमर को नहीं कराये जाते उपलब्ध...

प्रेमा नेगी की रिपोर्ट

जनज्वार। ओला एप पर टैक्सी बुकिंग सेवा देने वाली प्रमुख कंपनी है, मगर ताज्जुब है कि इतने बड़े पैमाने पर कारोबार चला रही इस कंपनी के पास एक भी कस्टमर केयर नंबर नहीं है। इतना ही नहीं जिस उपभोक्ता द्वारा ओला एप से टैक्सी बुक कराई जाती है, ओला द्वारा मेल पर उसकी डिटेल और गाड़ी नंबर तक कस्टमर को उपलब्ध नहीं कराई जाती।

पहले से ही आए दिन ओला—उबर में दुर्घटनाओं की खबरें अखबारों और टीवी में छाई रहती हैं, इन लापरवाहियों या कहें जान—बूझकर की गई खामियों जैसे कस्टमर केयर नंबर तक न होने से ओला सरेआम ठगी को दावत दे रहा है।

अगर किसी कस्टमर के साथ कुछ अनहोनी या फिर किसी तरह की ठगी होती है तो ऐसा कोई फोन नंबर नहीं है जो हमें यह बताये कि जिस टैक्सी का यूज किया गया है उसके ड्राइवर का नंबर और टैक्सी नंबर क्या है। जहां से टैक्सियों का हब होता है उस आफिस से संपर्क करने पर कहा जाता है कि आपके साथ किसी भी दुर्घटना की हालत में आपको सिर्फ ओला के आफिस में संपर्क करना होगा और वहीं से आपको किसी भी तरह की जानकारी दी जायेगी।

ओला में मोबाइल फोन छूट जाने के बाद जब पेशे से शिक्षक विजय मोहन ने गूगल से ओला के कस्टमर केयर नंबर खंगालने चाहे तो यह देखकर दंग रह गये कि 24x7 customer support team के नाम पर बंग्लौर का एक नंबर 080-67350900 दिया गया है जिसे कोई रिसीव तक नहीं करता। इसके अलावा सिर्फ विकल्प के तौर पर एकमात्र सपोर्ट मेल आईडी support@olacabs.com दिया गया है, फिर आप भगवान भरोसे इंतजार कीजिए कि आपके साथ कोई चमत्कार हो जाये और वो आपसे संपर्क करें।

विजय कहते हैं, 'मेरा नेट आन था और मैंने मोबाइल में कोड डाला था जिस कारण मेरा मोबाइल मुझे वापस मिला, मगर काफी मुश्किलों के बाद। हालांकि फोन की हालत देखकर लग रहा था कि उसका लॉक तोड़ने की काफी कोशिश की गई थी। ओला के दफ्तर जाने पर जब ओला वालों ने ड्राइवर से संपर्क किया तो पहले उसने 2—3 बार फोन रिसीव नहीं किया, उसके बाद फोन उठाया तो मेरा फोन कैब में छूटने की बात स्वीकारी।'

विजय आगे अंदेशा जताते हैं, 'शायद मेरा फोन भी गायब हो चुका होता, मगर लॉक होने के कारण वह ऐसा नहीं कर पाया होगा। दूसरी बात यह कि ओला आफिस द्वारा की गई रिकॉर्डेड कॉल में वह मोबाइल टैक्सी में होने की बात स्वीकार चुका था।'

आज ज्यादातर लोग ओला-उबर का प्रयोग करते हैं, और आए दिन दुर्घटनाएं भी होती रहती हैं। ओला कैब ड्राइवरों द्वारा यात्रियों के साथ दुर्व्यवहार, बदतमीजी तथा उनके साथ ठगी के कई मामले पहले से ही सामने आ रहे हैं। ऐसे में सवाल है कि अगर हमारा मोबाइल या कोई अन्य सामान टैक्सी में छूट जाये तो ड्राइवर का नंबर या फिर कस्टमर केयर उपलब्ध न होने पर ग्राहक क्या करें।

सबसे पहले ग्राहक जिस शहर में हों, वहां ओला आफिस में संपर्क करें और रजिस्टर्ड नंबर उपलब्ध करायें। हालांकि यह काफी मुश्किल काम है, मगर उम्मीद की जानी चाहिए कि ओला आफिस में संपर्क करने पर ओला टैक्सी में छूटा सामान आपको मिल जाये।

जब इन तमाम दिक्कतों को लेकर जनज्वार ने ओला के मीडिया सेल की मेल आईडी media@olacabs.com पर 4 दिन पहले कुछ सवाल भेजे, तो अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है।

जनज्वार द्वारा ओला से पूछे गए कुछ सवाल

1- ओला से संपर्क करने का कस्टमर केयर नंबर क्या है?

2- ओला कस्टमर केयर नंबर के रूप में जो नंबर आते हैं, उनमें से किसी को कोई उठाता नहीं है, कृपया वो नंबर बताएं जिसे ग्राहकों के लिए पिक किया जाता हो?

3- अगर ओला टैक्सी में यात्रा के दौरान मोबाइल छूट जाए तो ड्राईवर से कस्टमर किस नंबर पर संपर्क करे?

4- आपके द्वारा यात्रा पूरी होने पर जो डिटेल मेल की जाती है उसमें ड्राईवर का नंबर और गाड़ी का नंबर भी नहीं होता, फिर जिसकी मोबाइल ओला में ही छूट जाए तो कस्टमर कैसे संपर्क करे?

5- अगर भारत भर में ग्राहकों के लिए कोई राष्ट्रीय कस्टमर केयर नंबर हो तो उसे उपलब्ध कराएं या राज्वार या शहरवार हो तो उसे भी दें?

6- ओला एक एप बेस्स्ड टैक्सी सर्विस है, जबकि नेट पर एक भी नंबर नहीं हैं, जो ओला कंपनी के साथ जुड़ते हैं?

7- जो नंबर हैं वे वेंडर के हैं और वे बताते हैं कि अगर आपका दिल्ली—एनसीआर में कहीं भी मोबाइल खो जाए तो आपक दो जगह जाएं या तो नोएडा सेक्टर 65 या फिर गुड़गांव के सेक्टर 425 में? क्या ओला टैक्सी में मोबाइल खो जाने या सामान छूट जाने पर वहीं जाना विकल्प है या कोई ऐसा नंबर है जिस पर फोन कर ड्राईवर से संपर्क किया जा सकता है?

8- आपके यहां हर महीने ओला टैक्सी में यात्रा के दौरान मोबाइल छूटने या सामान छूटने की कितनी शिकायतें राष्ट्रीय स्तर पर दर्ज होती हैं, राज्यवार और शहरों के स्तर पर कितनी आती हैं?

9- शिकायत दर्ज करने का क्या तरीका है? उसे दर्ज करने के बाद ग्राहक को जवाबी पर्ची आप कैसे देते हैं?

10- शिकायतों का कितना प्रतिशत हल हो पाता है और कितना अधूरा रह जाता है?

11- अगर कोई ड्राईवर इनकार कर दे कि कस्टमर कि मोबाइल नहीं छूटी है, जबकि आपके ट्रैक में वह दिखा रहा है तो आप उस पर क्या कार्रवाई करते हैं?

Next Story

विविध

Share it