सिक्योरिटी

बिहार में शौच के लिए बाहर निकली नाबालिग लड़की की हत्या कर शव को लटका दिया पेड़ पर

Prema Negi
30 Aug 2019 12:38 PM GMT
बिहार में शौच के लिए बाहर निकली नाबालिग लड़की की हत्या कर शव को लटका दिया पेड़ पर
x

जब बच्ची सुबह शौच के लिए गई तो कुछ लोगों ने कर लिया उसे किडनैप, बाद में उसकी हत्या कर लाश को गांव के चंवर में खाड़ के समीप उसके दुपट्टे से ही लटका दिया एक पेड़ पर...

जनज्वार। 'बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ' का नारा पता नहीं कहा फलीभूत हो रहा है, असलियत में तो बेटियां भेड़ियों की तरह नोचकर नृशंसता से मार दी जाने के लिए पैदा हुई लगती हैं। 6 माह की बच्ची से लेकर स्कूली बच्चियों की रेप के बाद हत्या की खबरें आये दिन छायी रहती हैं, तो कोख में मार दी जाने को लड़कियां पहले से अभिशप्त हैं।

सुशासन बाबू के नाम से ख्यात नीतीश सरकार में तो हिंसा का ग्राफ कुछ ज्यादा ही बढ़ता जा रहा है, हालांकि वे बिहार में बहार का दावा करते रहते हैं। और हर घर को शौचालय तो हमारे प्रधानमंत्री महोदय का दावा पहले से है ही। शौचालय हालांकि गांव-गांव, घर-घर में बने होते तो कई बेटियां इस तरह नृशंसता से मौत के घाट न उतारी जातीं।

ताजा घटना आज शुक्रवार, 30 अगस्त की सामने आयी है। बिहार के गोपालगंज जिले के उचकागांव में घर से बाहर शौच के लिए निकली एक बच्ची को अगवा कर हत्या करने की घटना सामने आयी है। यही नहीं उसकी हत्या कर हत्यारों ने उसे आत्महत्या का रूप देने के लिए शव को पेड़ से लटका दिया।

सातवीं में पढ़ने वाली इस बच्ची का शव मिलने के बाद से इलाके में आक्रोश व्याप्त है। जानकारी के मुताबिक मीरगंज थाने के पिपरा खास गांव के मंशी साह की बेटी पिंकी कुमारी की हत्या कर शव पेड़ से लटका दिया गया। जानकारी मिलने के बाद पहुंची पुलिस ने लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

टनाक्रम के मुताबिक पिपरा खास गांव के मंशी साह की पुत्री पिंकी आज सुबह शौच के लिए घर से बाहर निकली थी। जब वह शौच के लिए जा रही थी तो उसे कुछ लोगों ने किडनैप कर लिया और बाद में उसकी हत्या कर शव को गांव के चंवर में खाड़ के समीप एक पेड़ पर लटका दिया। पिंकी की लाश को उसके दुपट्टे से ही फंदा डाला गया था। दिन में लगभग साढ़े दस बजे ग्रामीणों को पेड़ से लटकती पिंकी की लाश नजर आयी तो पुलिस को सूचना दी गई।

मीरगंज थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर किशोरी की लाश को अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए उसे सदर अस्पताल भेज दिया गया। परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी की हत्या कर उसकी लाश को पेड़ से लटका दिया गया, ताकि उसे आत्महत्या साबित किया जा सके।

गर दूसरी तरफ पुलिस ने इस घटना को प्रेम-प्रसंग को लेकर की गई आत्महत्या ठहराने की कोशिश की है। पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच में यह बात सामने आयी है कि किसी बात को लेकर परिजन ने किशोरी को डांटा था, जिसके बाद उसने गुस्से में आकर आत्महत्या कर ली। वह सुबह चार बजे ही घर का दरवाजा बंद कर गायब हो गयी थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Next Story

विविध

Share it