Top
उत्तर प्रदेश

नेताओं के आतंक से नाम बदल कर सब्जी बेचने को मजबूर हुआ मुस्लिम, BJP विधायक की धमकी, कहा- ‘दोबारा मोहल्ले में ना दिखना’

Raghib Asim
29 April 2020 7:10 AM GMT
नेताओं के आतंक से नाम बदल कर सब्जी बेचने को मजबूर हुआ मुस्लिम, BJP विधायक की धमकी, कहा- ‘दोबारा मोहल्ले में ना दिखना’
x

विधायक ने उस सब्जी वाले को इसलिए भगा दिया, क्योंकि वह मुस्लिम था और हिन्दू नाम बताकर सब्जी बेच रहा था. विधायक ने उस सब्जी वाले को फिर कभी उस मोहल्ले में ना आने की धमकी दी है...

जनज्वार। उत्तर प्रदेश में कोरोना के खतरे के बीच नफरत का वायरस फैलाने का सिलसिला जारी है। कोरोना वायरस के खतरे के बीच लॉकडाउन में धर्म विशेष बिक्रेताओं से मारपीट की खबरें भी मिल रही है। नफरत फैलाने में एक और बीजेपी के विधायक का नाम शुमार हुआ है।

स बार विधायक बृजभूषण शरण राजपूत पर सब्जी वाले को भगाने का आरोप लगा है। दरअसल सब्जी वाला मुस्लिम था और बिक्री की गरज से वो हिन्दू नाम बताकर सब्जी बेच रहा था। विधायक बृजभूषण को जब सच्चाई का पता चला तो वे सब्जीवाले के खिलाफ पिल पड़े और उसे मौके से भगा दिया।

ता दें कि लखनऊ के गोमती नगर इलाके में भाजपा विधायक बृजभूषण राजपूत का निजी आवास है। यहीं पर सब्जीवाले के साथ ये घटना हुई। विधायक ने पहले तो सब्जी वाले से पहचानपत्र मांगा। नहीं दिखाने के बाद नाम पूछने पर उसने हिंदू नाम बताया। पूछताछ पर पता चला कि सब्जीवाला मुस्लिम है। जिसके बाद विधायक आग बबूला हो गए। विधायक ने सब्जीवाले को फिर दोबारा कभी मुहल्ले में नहीं दिखने की धमकी दे डाली।

मामले में विधायक की हरकत गैरजिम्मेदाराना बताई जाती है। पहले तो सब्जी वाले का नाम पूछकर सब्जी खरीदना सभ्यता नहीं है। ये जरूर है कि सब्जीवाले ने अपना नाम गलत बताया। इस बारे में उसकी मजबूरी भी समझी जा सकती है। वो विधायक के तेवर समझ चुका था। उसे लगा कि असली नाम बताने पर उसकी फजीहत हो सकती है लिहाजा उसने हिंदू नाम बताया।

ता दें कि धर्म के नाम पर नफरत फैलाने वालों में बीजेपी के दिग्गज नेताओं का नाम ही सामने आ रहा है। इससे पहले बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने नेताओं को साफ आदेश दिया है कि वे किसी भी इस तरह की हरकत से बाज आएं। दो दिन पहले ही भाजपा विधायक सुरेश तिवारी का एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें तिवारी लोगों से मुस्लिम विक्रेताओं से सब्जी नहीं खरीदने की अपील करते देखे गए। मामले में संज्ञान लेते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एक्शन भी लिया है।

भारतीय जनता पार्टी नेताओं की हरकतों के कारण विपक्ष को बैठे बिठाए मुद्दा मिल गया है। लोग बेजेपी पर नफरत का वायरस फैलाने का आरोप लगा रहे हैं। हालिया घटनाओं के कारण भाजपा बैकफुट पर नजर आती है। बता दें कि इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी लोगों से अपील की है। उनके मुताबिक कोरोना की इस त्रासदी को किसी भी धर्म या सम्प्रदाय से जोड़कर देखना ठीक नहीं है। लिहाजा समाज में भाईचारा कायम रखते हुए कोरोना वायरस के लिए किसी सम्प्रदाय या समुदाय को जिम्मेदार नहीं ठहराया जाय।

Next Story

विविध

Share it