Top
चुनावी पड़ताल 2019

भाजपा नेता पर नाबालिग लड़की के यौन उत्पीड़न का आरोप, बाल आयोग ने दिया गिरफ्तारी का आदेश

Prema Negi
11 May 2019 4:33 AM GMT
भाजपा नेता पर नाबालिग लड़की के यौन उत्पीड़न का आरोप, बाल आयोग ने दिया गिरफ्तारी का आदेश

आरोप है कि पश्चिम बंगाल से भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय ने किया था 17 वर्षीय लड़की का यौन उत्पीड़न

जनज्वार। भाजपा नेताओं और विवादों का जैसे चोली दामन का साथ हो गया है। बदजुबानी को लेकर तो आए दिन भाजपा नेता चर्चा में आए रहते ​हैं, अब यौन उत्पीड़न मामले में भी एक भाजपा उम्मीदवार का नाम सामने आया है।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक पश्चिम बंगाल में डायमंड हार्बर संसदीय क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय के खिलाफ शिकायत आई है कि उन्होंने एक 17 वर्षीय नाबालिग लड़की का यौन शोषण किया था। इस मामले में उन पर पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक इस मामले में जब पीड़ित परिवार पहले पुलिस के पास गया तो कोई सुनवाई नहीं हुई। उसके बाद मामला पश्चिम बंगाल के बाल अधिकार सुरक्षा आयोग में पहुंचा। अब आयोग ने भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय पर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

बाल अधिकार सुरक्षा आयोग ने राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को निर्देशित किया है कि वह 24 घंटे के भीतर नीलांजन रॉय के खिलाफ एक्शन ले। इसके साथ ही पुलिस को निर्देशित किया है कि जल्द से जल्द बच्चों को यौन उत्पीड़न संरक्षण कानून (पोक्सो) के तहत नीलांजन रॉय को अरेस्ट करे।

पीड़ित परिवार के मुताबिक जो शिकायत दर्ज कराई गई है उसके मुताबिक यौन उत्पीड़न की यह घटना 26 अप्रैल की है। नाबालिग लड़की का भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय द्वारा उस समय कथित यौन उत्पीड़न किया गया जब वह दक्षिण 24 परगना जिले के फाल्टा स्थित एक घर में उनसे मिलने गई थी।

लड़की अपने पिता के साथ भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय से मिलने गई थी। शिकायत में कहा गया है कि नीलांजन रॉय ने लड़की के पिता को बाहर रुकने को कहा और लड़की को अंदर बुलाया। वहां जाकर रॉय ने नाबालिग के साथ छेड़छाड़ की और उससे फिर मिलने को कहा। पीड़ित परिवार का कहना है कि इस घटना के बाद लड़की ट्रामा में चली गई और उसने अपने पिता को पूरी घटना के बारे में बताया।

नाबालिग लड़की यौन उत्पीड़न की शिकायत करने वाले परिवार का कहना है कि पीड़ित लड़की 24 परगना में इसलिए गई थी ताकि वह भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय से पार्टी कार्यकर्ताओं के दुर्व्यवहार के बारे में शिकायत कर पाये, मगर वहां वह खुद ही यौन उत्पीड़न का शिकार हो गई।

बाल अधिकार सुरक्षा आयोग की अध्यक्ष अनन्या चटर्जी चक्रवर्ती ने मीडिया से जानकारी साझा की कि पीड़ित नाबालिग परिवार ने अगले दिन यानी 27 अप्रैल को फाल्टा थाने में इस संबंध में शिकायत दर्ज करायी थी। अब नाबालिग लड़की का मेडिकल चैकअप करने के बाद उसका बयान दर्ज कर लिया गया है, बावजूद उसके पुलिस अब तक भाजपा उम्मीदवार को गिरफ्तार नहीं पायी है।

हालांकि पश्चिम बंगाल भाजपा का कहना है कि हमारे उम्मीदवार को तृणमूल कांग्रेस यौन उत्पीड़न के झूठे केस में फंसा रही है।

Next Story

विविध

Share it