Top
राष्ट्रीय

हरियाणा में कट्टरपंथी कर रहे दंगे की कोशिश, पुलिस हुई सतर्क

Prema Negi
4 April 2020 2:04 PM GMT
हरियाणा में कट्टरपंथी कर रहे दंगे की कोशिश, पुलिस हुई सतर्क
x

सोशल मीडिया पर अफवाह से लोगों में दहशत का माहौल हो जाता है। इसी पर रोक लगाने के लिए हरियाणा पुलिस ने उठाया कदम। एडीजी ने कहा अफवाह से हो सकती है स्थिति खराब...

जनज्वार ब्यूरो, चंडीगढ़। व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर कोविड-19 को लेकर भ्रामक जानकारी, फर्जी समाचार व अफवाहें फैलाने के आरोप में 36 लोगों के खिलाफ 38 एफआईआर दर्ज की गई हैं। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्क ने बताया कि गृह मंत्री अनिल विज द्वारा पुलिस विभाग को इस संबंध में निर्देश जारी किये थे।

गृह मंत्री ने कहा था कि कोविड-19 के बारे में सोशल मीडिया पर फर्जी, भ्रामक और असत्य जानकारी प्रसारित करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाये, जिससे आमजन के बीच संभावित भ्रम और दहशत ना हो।

वदीप सिंह विर्क कहा कि ऐसे सभी अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ आईपीसी और आईटी एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने आमजन को सलाह देते हुए कहा कि वे न तो अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर असत्यापित जानकारी पोस्ट करें और न ही दूसरों को व्हाट्सएप, फेसबुक मैसेंजर आदि मैसेजिंग एप्स पर फॉरवर्ड करें, क्योंकि इससे वे परेशानी में पड़ सकते हैं। इसलिए हर किसी को सोशल मीडिया पर समझदारी से काम लेना चाहिए।

वाट्सअप पर फैलाई जा रही खबर इस प्रकार से है...

'गोहाना ब्रेकिंग न्यूज़ भेस्वान चौकी में 5 मुस्लिम यूपी नंबर एंबुलेंस में और बहुत भारी संख्या में पैसों से भरे बैग उनके पास जो की हरियाणा में स्पेशल करोना फैलाने के लिए आए थे जो कि भेस्वान चौकी में पुलिस और स्थानीय लोगों की सहायता से पकड़े गए हैं'

निजामुद्दीन की घटनाओं के बाद अफवाहों का दौर तेज हो गया है। एक वर्ग विशेष के खिलाफ अफवाहें तेजी से फैलायी जा रही हैं।

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि आजकल कोरोना को लेकर समाज के विघटन की भी कई खबरें सोशल मीडिया पर आती हैं। हमें इन पर यकीन नहीं करना है। हमें इस समय पर जाति, मजहब, क्षेत्रवाद से ऊपर उठकर सब लोगों को एक होकर चलना है। यही संदेश हमें लगातार देना है तथा यही हमारा राष्ट्रीय दायित्व हैं।

सीएम ने कहा कि सोशल मीडिया पर हम निर्भर हो गए हैं। सोशल मीडिया गलत खबरें भी दे रहा हैं, सही भी दे रहा हैं। सोशल मीडिया की समाज को बांटने वाली खबरों पर हमें विश्वास नहीं रखना है। ऐसी खबरें आती हैं तो लोगों को समझाना भी है, ताकि गलत खबरों पर वे विश्वास न रखें। परिस्थितियां समय-समय पर बदलती हैं, परंतु हमें संतुलन बनाकर रखना है।

सीएम ने सोशल मीडिया के ग्रुप एडमिन से भी अपील की कि वह अपनी ओर से इस तरह की अफवाहों पर रोक लगाने के लिए काम करें। इस वक्त सभी को मिल कर काम करना होगा। सारा विश्व संकट के दौर से गुजर रहा है। ऐसे मौके पर जब हम लॉकडाउन का सामना कर रहे हैं, ऐसे में एक भ्रामक जानकारी भी बड़ी परेशानी की वजह बन सकती है। हमें इस तरह की स्थिति को हर हालत में टालना है। उन्होंने कहा कि जो भी जानकारी यदि सोशल मीडिया पर शेयर हो रही है तो उसे पहले जांच लें। इसके बाद ही उसे साझा करना चाहिए।

Next Story

विविध

Share it