Top
राजनीति

नोटबंदी की तीसरी सालगिरह पर ट्वीटर पर ट्रेंड कर रहा #आओ_मोदी_चौराहे_पर

Prema Negi
8 Nov 2019 10:14 AM GMT
नोटबंदी की तीसरी सालगिरह पर ट्वीटर पर ट्रेंड कर रहा #आओ_मोदी_चौराहे_पर
x

सोशल मीडिया पर जनता ने नोटबंदी को अब तक का सबसे बड़ा घपला बताते हुए कहा कि मोदी ने नोटबंदी अपने मित्र पूंजीपतियों के फायदे के लिए की थी लागू, जिसमें आम लोगों को सिवाय तकलीफ के और कुछ नसीब नहीं हुआ...

जनज्वार। आज मोदी सरकार 1 द्वारा की गयी नोटबंदी के 3 साल पूरे हो गये हैं। नोटबंदी के कारण लाखों लोगों की नौकरी गयी, कई लोगों की मौत हुई और कई आत्महत्या के मामले भी सामने आये। आज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्वीटर पर नोटबंदी की तीसरी सालगिरह पर #आओ_मोदी_चौराहे_पर ट्रेंड कर रहा है।

क्षितिज नाम के ट्वीटर हैंडल से मोदी के नोटबंदी के बाद दी गये उस बयान को शेयर किया गया है जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर नोटबंदी पर मेरा फैसला गलत हो तो मुझे चौराहे पर जिंदा जला देना। इसे शेयर करते हुए क्षितिज लिखते हैं, 'मोदी अपने शब्दों पर कायम रहने वाले इंसान नहीं हैं। कोई भी उन्हें या कुछ भी जलाना नहीं चाहता है, लेकिन कम से कम एक बार आगे आकर अपनी विनाशकारी गलती को स्वीकार करना चाहिए। यह पूछना अपने आप में काफी है, आखिर अगली बार उन पर कैसे भरोसा किया जा सकता है?'

नोटबंदी को सबसे बड़ा आतंकी हमला बताते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी लिखते हैं, 'डिमोनेटाइजेशन के आतंकी हमले के 3 साल पूरे हो चुके हैं। इसने भारतीय अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया, कई लोगों की जान ले ली, लाखों छोटे व्यवसायियों को तो मिटा ही दिया और लाखों भारतीयों को बेरोजगार कर दिया। इस शातिर हमले के पीछे उन लोगों को न्याय मिलना अभी बाकी ही है, जो इसके शिकार बने।'

प्रदीप कुमार गौतम ने ट्वीट किया है, आज से 3 साल पहले, एक अहंकार से भरे इंसान ने हमारी अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया और लाखों लोग इसकी जद में आये। नोटबंदी में 150 लोग मारे गए, जो अपनी मेहनत की कमाई पाने के लिए कतार में इंतजार कर रहे थे और राष्ट्र अभी भी इस सदी के सबसे बड़े ब्लंडर से उबर नहीं पाया है।'

हैशटैग के साथ प्रधानमंत्री मोदी के नोटबंदी के फायदे गिनाने वाले कई भाषण, नोटबंदी में जान गंवाने वाले लोगों की खबरें, नोटबंदी से तबाह हुए लोगों के वीडियो समेत तमाम चीजें शेयर की गयी हैं। सबसे ज्यादा शेयर मोदी का वह बयान किया गया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर मेरा नोटबंदी का फैसला गलत साबित होगा तो जनता मुझे 50 दिन के अंदर चौराहे पर जिंदा जला दे।

#आओ_मोदी_चौराहे_पर हैशटैग के साथ लोग तरह—तरह की टिप्पणियां कर रहे हैं। कोई कहीं मोदी को चौराहे पर आने को कह रहा है तो कोई नोटबंदी में तबाह हुए लोगों के किस्से बता रहा है।

file photo

#आओ_मोदी_चौराहे_पर हैशटैग के साथ दीप्ति मिश्रा लिखती हैं, आज हमारे पास हर कलर की करेंसी है, आखिर काला धन कहां गया। क्या सारा काला धन इन रंग—बिरंगी नोटों में तब्दील कर दिया गया है।

राहुल शर्मा ने ट्वीट किया है, 'आज का दिन इतिहास का काला दिन, नोटबन्दी 21वीं सदी की सबसे बड़ी गड़बड़ी। #NotebandiSeMandiTak' इस ट्वीट को अलका लांबा ने भी शेयर किया है।

हेश मीणा ने ट्वीट किया है, 'आज प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी के फायदे गिनाने वाला कोई ट्वीट ​नहीं किया है। आखिर इतना सन्नाटा क्यों है भाई?'

सोशल मीडिया पर लोगों ने नोटबंदी को अब तक का सबसे बड़ा घपला बताया है। आरोप लगाया है कि मोदी ने नोटबंदी अपने मित्र पूंजीपतियों को लागू की थी। इसमें आम लोगों को सिवाय तकलीफ के और कुछ नसीब नहीं हुआ।

Next Story

विविध

Share it