Top
राष्ट्रीय

राहुल गांधी ने आरोग्य सेतु एप पर उठाए सवाल, 'लोगों के डर का फायदा नहीं उठाना चाहिए''

Manish Kumar
3 May 2020 1:50 AM GMT
राहुल गांधी ने आरोग्य सेतु एप पर उठाए सवाल, लोगों के डर का फायदा नहीं उठाना चाहिए
x

गृह मंत्रालय ने जारी एक अधिसूचना में अधिक प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों और सभी निजी व सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए इस एप के उपयोग को अनिर्वाय बताया है...

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को कोरोनावायरस महामारी से निपटने के लिए केंद्र द्वारा शुरू की गई आरोग्य सेतु मोबाइल एप्लीकेशन पर सवाल उठाया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि यह प्राइवेट ऑपरेटर से आउटसोर्स की गई एक निगरानी प्रणाली है, जिसकी कोई संस्थागत निगरानी नहीं है।

राहुल ने अपने एक ट्वीट में कहा, "आरोग्य सेतु एप एक अत्याधुनिक निगरानी प्रणाली है, इसे एक प्राइवेट ऑपरेटर से आउटसोर्स किया गया है, जिसकी कोई संस्थागत निगरानी नहीं है। इससे डेटा चोरी होने और निजता को लेकर गंभीर चिंताएं पैदा हो रही हैं। टेक्नोलॉजी सुरक्षित रहने में हमारी मदद कर सकती है, लेकिन लोगों के डर का लाभ उठाकर उनकी अनुमति के बिना उन्हें ट्रैक नहीं किया जाना चाहिए।"



?s=20

सरकार ने शुक्रवार को देशव्यापी लॉकडाउन को और दो हफ्तों यानी 17 मई तक बढ़ा दिया है। गृह मंत्रालय ने जारी एक अधिसूचना में अधिक प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों और सभी निजी व सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए इस एप के उपयोग को अनिर्वाय बताया है।

यह भी पढ़ें- काम ना आई मोदी की अपील रिलायंस ने वेतन में 50 फीसदी तक कर दी कटौती, मुकेश अंबानी भी नहीं लेंगे साल भर सैलरी

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी कहा कि कई विशेषज्ञों ने आरोग्य सेतु एप की गोपनीयता को लेकर कई मुद्दे उठाए हैं।

आरोग्य सेतु राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र द्वारा विकसित एक कोविड-19 ट्रैकिंग मोबाइल एप्लिकेशन है जो भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

Next Story

विविध

Share it