Top
राजनीति

करणी सेना ने दी चेतावनी, रिलीज हुई पदमावत तो 1826 महिलाएं करेंगी जौहर

Janjwar Team
19 Jan 2018 10:52 AM GMT
करणी सेना ने दी चेतावनी, रिलीज हुई पदमावत तो 1826 महिलाएं करेंगी जौहर
x

कोर्ट ने दिया आदेश पूरे देशभर में रिलीज किया जाए संजय लीला भंसाली की फिल्म को, यह राज्य सरकारों की जिम्मेदारी कि कानून व्यवस्था कैसे बनाए रखें....

विवादों और'पदमावती' से पदमावत हुई फिल्म और विवादों का तो लगता है चोली—दामन का साथ हो गया है। से पीछा नहीं छूट रहा है। ख्यात फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली द्वारा बनाई गई इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने नाम बदलने और 5 जगह कट करने के बाद रिलीज की अनुमति दी थी। बावजूद इसके कई राज्यों की सरकारों ने अपने राज्य में फिल्म की रिलीज पर बैन लगा दिया था।

यह भी पढ़ें : फिल्म पदमावती को लेकर सेंसर बोर्ड ने दिया अजीबोगरीब फैसला

इसी पर फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि किसी भी राज्य में पदमावत को बैन करने की अनुमति नहीं है, यह जिम्मेदारी सरकारों की बनती है कि वे अपने राज्यों में कानून व्यवस्था संभालें। किसी भी सेना या संगठन की धमकी या इतिहास की छेड़छाड़ की बात कोई बिना फिल्म देखे कैसे कह सकता है।

यह भी पढ़ें : मलिक मोहम्मद जायसी पर दर्ज हो राजद्रोह का मुकदमा !

जहां सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म रिलीज को देशभर में हरी झंडी दे दी है वहीं फिल्म निर्माण के समय से ही मीडिया में छाई करणी सेना ने अब एक नया शिगूफा छेड़ दिया है। कहा है कि अगर पदमावत को रिलीज किया जाएगा तो 24 को देश में जौहर होगा, जिसमें तकरीबन 2000 महिलाएं अपना जीवन स्वाहा करेंगी। करणी सेना के मुताबिक इसके लिए 1826 राजपूत महिलाएं राजी भी हो गई हैं।

यह भी पढ़ें : विवादित 'पदमावती' फिल्म की ब्रांडिंग करती पुणे पुलिस

राजपूतों की सेना कही जाने वाली करणी सेना के कर्ताधर्ता महिपाल मकराना कहते हैं कि 24 जनवरी को राजपूत महिलाएं चित्तौड़गढ़ में जौहर करेंगी। जौहर के लिए 1826 महिलाएं राजी भी हो गई हैं। यह जौहर 'पदमावत' रिली के विरोध में चित्तौड़गढ़ की सर्वसमाज समिति और श्रीराजपूत करणी सेना कराएगी। साथ ही करणी सेना ने लोगों से सिनेमाघरों पर कर्फ्यू लगाने की अपील की है।

यह भी पढ़ें : 'पदमावत' के निर्माता पहुंचे फिल्म रिलीज मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट

कोर्ट के इस फैसले के बाद कि पूरे देशभर में फिल्म को रिलीज किया जाएगा, बिहार में राजपूत समाज के लोगों ने तोड़फोड़ की घटनाओं को अंजाम दिया गया। मुजफ्फरपुर स्थित एक सिनेमा घर में हिंदुत्ववादियों ने जमकर उत्पात मचाया। वहीं अहमदाबाद में भी राजपूत सेनाओं ने हाईवे पर आगजनी की।

यह भी पढ़ें : भाजपाइयों के लिए सिर काटना हुआ छमियां का ठुमका

बिहार में तो पदमावती को बैन करने की मांग राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी के नेता कर रहे हैं। जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह कहते हैं, 'विवादित फिल्म को आहत होती मानवीय भावनाओं और विरोध के बीच हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और मध्यप्रदेश की सरकारों ने बैन कर दिया था। बिहार में 'पदमावत' बैन करने के मुद्दे पर वो खुद नीतीश कुमार से बात करेंगे।'

यह भी पढ़ें : करणी सेना ने धमकाया फिल्म रिलीज हुई तो दीपिका को बना देंगे शूर्पणखा

रणवीर, दीपिका, शाहिद कपूर स्टारर और संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बनी फिल्म को और कितने विवादों को झेलना है, यह तो समय बतायेगा। मगर मध्य प्रदेश सरकार ने फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के आदेश को मामने से यह कहते हुए इंकार कर दिया है कि राज्य में तब तक पदमावती पर बैन लगा रहेगा, तब तक कि सरकार कोर्ट के फैसले की समीक्षा नहीं कर लेती।

यह भी पढ़ें : मुख्यमंत्री शिवराज ने राजनीतिक फायदे के लिए किया पदमावती को बैन : भाजपा महिला नेता

Next Story

विविध

Share it