राजनीति

अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे स्वामी अग्निवेश के साथ भाजपाई गुंडों ने फिर की मारपीट

Prema Negi
17 Aug 2018 8:32 AM GMT
अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे स्वामी अग्निवेश के साथ भाजपाई गुंडों ने फिर की मारपीट
x

कुछ दिनों में दूसरी बार सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश दूसरी बार हुए हैं भाजपाइयों की लिंचिंग का शिकार, अग्निवेश बोले मेरे साथ हाथापाई करने के अलावा भाजपाइयों ने किया अपमानित, कहा गद्दार हो तुम...

जनज्वार। दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देने पहुंचे सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के साथ भाजपाइयों ने मारपीट की।

मीडिया से बातचीत में स्वामी अग्निवेश ने कहा कि भाजपाइयों ने न सिर्फ मेरे साथ हाथापाई की, बल्कि मुझे गद्दार कहकर अपमानित भी किया। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले झारखंड के पाकुड़ में स्‍वामी अग्‍नि‍वेश के साथ भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इस हद तक मारपीट की थी कि उनकी जान बमुश्किल बची।

सोशल मीडिया पर स्वामी अग्निवेश के साथ दोबारा भाजपाइयों द्वारा की गई इस मारपीट की कड़ी निंदा की जा रही है। लोग कह रहे हैं कि भाजपा नहीं यह गुंडाराज है, जहां अभिव्यक्ति की आजादी तो छोड़िए भाजपा के एक वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री की श्रद्धांजलि सभा में तक ये गुंडे आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने से नहीं चूक रहे।

अग्निवेश के मुताबिक आज जब वे अटल जी को श्रद्धा सुमन अर्पित करने अपने आर्य समाज के साथी के संग गये थे तो पैदल जा रहे थे। वहां पहुंचने के बाद उन्होंने भाजपा नेता हर्षवर्धन से फोन पर बात की उन्होंने कहा कि आप आराम से भीतर आ जाइये। तभी अचानक से स्वामी अग्निवेश के खिलाफ नारेबाजी हुई और भाजपाइयों ने उन्हें गद्दार कहते हुए उनके साथ मारपीट शुरू कर दी।

स्वामी अग्निवेश कहते हैं,'भाजपाइयों ने मेरी पगड़ी उतार दी। मुझे उन लोगों ने मारा-पीटा। हम कुछ नहीं कर सकते थे, क्योंकि हम बस दो तीन लोग थे। हम उन उग्र भाजपाइयों को समझाने की कोशिश कर रहे थे कि आज के दिन प्लीज ऐसा मत कीजिए, क्योंकि आज गलत संदेश जाएगा। मगर ये लोग नहीं माने। जब वो मेरे खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे और मेरी पगड़ी उतारकर मुझे पीटने लगे तब भी मैंने ज्यादा विरोध नहीं किया, मैं कहता रहा कि आज ऐसा मत करो, मगर वो लोग मुझे तरह से अपमानित कर रहे थे।'

एनडीटीवी में प्रकाशित खबर के मुताबिक अग्निवेश ने बताया 'हम सुरक्षा का गेट पार कर दूसरी तरफ गये, वहां भी ये लोग आ गये और फिर हमला कर दिया। मैं हाथजोड़ कर कहने लगा कि भाई ये मत करो, मुझसे क्या परेशानी है। फिर हमें पुलिस की गाड़ी मिली जिसमें बैठकर मैं जंतर मंतर आया। उन लोगों ने पुलिस की गाड़ी पर भी हमला किया।'

गौरतलब है कि कल शाम 5 बजकर 5 मिनट पर पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का आज अंतिम संस्कार होना है। उन्हीं को श्रद्धांजलि देने स्वामी अग्निवेश भी पहुंचे हुए थे।

Next Story

विविध

Share it