Top
अंधविश्वास

अंधविश्वास : तांत्रिक ने पूजा-पाठ के बहाने किया 3 दलित बहनों का बलात्कार

Prema Negi
15 Dec 2019 10:13 AM GMT
अंधविश्वास : तांत्रिक ने पूजा-पाठ के बहाने किया 3 दलित बहनों का बलात्कार

सतना जिले के मैहर थानाक्षेत्र में धर्मगुरु नारायण स्वरूप त्रिपाठी ने 14, 15 और 17 साल की तीन बहनों का पूजा-पाठ के बहाने किया बलात्कार, लड़कियों के मां-बाप उनकी जन्मकुंडलियों में काल सर्प दोष के निवारण के लिए बच्चियों को त्रिपाठी के पास गये थे लेकर...

जनज्वार। अंधविश्वास के नाम पर उत्पीड़न खासकर महिला उत्पीड़न की घटनायें आये दिन मीडिया में छाई रहती हैं। कभी डायन-बिसही के नाम पर कोई महिला मार दी जाती है, मल तक खिला दिया जाता है तो बाल काटना, नंगा घुमाना जैसी घटनायें तो डायन के नाम पर सामान्य हो चुकी हैं। धर्म के ठेकेदार बने तथाक​थित गुरु भी आये दिन जादू-टोना, पूजा-पाठ, भूत भगाने के बहाने महिलाओं का यौन शोषण करते रहते हैं। न केवल हिंदू धर्म बल्कि हर धर्म में अंधविश्वास हाइट पर पहुंचा हुआ है। बाबा-पीर, गुरु, तांत्रिक के नाम पर न केवल ठगी का धंधा फलता-फूलता है, बल्कि महिलायें इनकी सबसे आसान और ज्यादा शिकार होती हैं।

ब ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के सतना जनपद स्थित मैहर थाना क्षेत्र में सामने आया है। सतना जिले के मैहर में एक 55 साल के तथाकथित धर्मगुरु नारायण स्वरूप त्रिपाठी ने तीन दलित बहनों का यौन शोषण किया। इस मामले में पुलिस ने आरोपी तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक सतना जिले के मैहर थानाक्षेत्र में धर्मगुरु नारायण स्वरूप त्रिपाठी ने 14, 15 और 17 साल की तीन बहनों का पूजा-पाठ के बहाने बलात्कार किया। तीनों नाबालिग बच्चियों का बलात्कार उसने अपने घर ही किया। लड़कियों के मां-बाप उनकी जन्मकुंडलियों में काल सर्प दोष के निवारण के लिए बच्चियों को त्रिपाठी के पास लेकर गए थे।

थाकथित धर्मगुरु नारायण स्वरूप त्रिपाठी ने जन्मकुंडलियों में काल सर्प दोष निवारण के लिए अनुष्ठान हेतु तीनों बहनों को एक-एक करके एक कमरे में बुलाया और अनुष्ठान के नाम पर उनका बलात्कार किया।

स मसले पर मैहर थाने के प्रभारी भूपेंद्र मणि पांडे कहते हैं कि, आरोपी धर्मगुरु से विस्तार से पूछताछ के बाद हमने गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ आईपीसी, पॉस्को और एससी-एसटी (एट्रोसिटीज प्रोटेक्शन एक्ट) के तहत मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी तांत्रिक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

हीं मध्य प्रदेश में ही एक अन्य मामला सामने आया है। भोपाल में मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण एक्ट 201 ) के तहत एक बाबा और पीड़ित महिला के पति के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इस मसले पर भोपाल के एसएचओ अजय नायर के मुताबिक एक मुस्लिम महिला की हमारे पास शिकायत आई कि उसके पति ने पहले उसे तीन तलाक दिया था, और उसके बाद उसने एक बाबा को बुलाकर कहा कि वह दोबारा अपनी बीवी को अपनाना चाहता है इसलिए हलाला चाहता है। आरोपी बाबा ने मुस्लिम महिला के साथ लगातार 3 दिनों तक बलात्कार किया।

मुस्लिम महिला ने पुलिस के पास शिकायत दर्ज करायी कि उसके ससुराली बलात्कार आरोपी बाबा के भक्त हैं और उस पर अंधश्रद्धा रखते हैं। इस अंधविश्वास का फायदा उठाकर 51 साल के आरोपी बाबा अनवर खान ने महिला का 3 दिनों तक लगातार रेप किया। यह बात आरोपी अनवर खान ने पुलिस के सामने भी स्वीकार कर ली है। महिला ने कहा कि बाबा ने हलाला के बहाने उससे लगातार 3 दिन तक रेप किया।

पीड़ित मुस्लिम महिला ने पुलिस के पास दर्ज अपनी शिकायत में कहा कि आरोपी "निकई अब्बा" पहले भी उससे नियमित रूप से मिलने आता था और अश्लील हरकतें और बातचीत करता रहता था। उसने इस बारे में जब अपने ससुराल वालों से शिकायत की थी तो उन्होंने उस पर विश्वास नहीं किया। अब महिला की शिकायत के बाद आरोपी बाबा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Next Story

विविध

Share it