Top
हिमाचल प्रदेश

कोरोना संकट में चाय बोर्ड ने हिमाचल के चाय उत्पादक किसानों को दी राहत, हुई स्पेशल पैकेज की घोषणा

Prema Negi
24 April 2020 9:49 AM GMT
कोरोना संकट में चाय बोर्ड ने हिमाचल के चाय उत्पादक किसानों को दी राहत, हुई स्पेशल पैकेज की घोषणा
x

चाय उत्पादक किसानों को काफी आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। समय पर पत्तियों की तुड़ाई का काम नहीं हो पाया है। इस वजह से पत्तियों की गुणवत्ता अच्छी नहीं है। बोर्ड से मिलने वाली राहत से चाय उत्पादकों को राहत मिलेगी....

जनज्वार ब्यूरो, चंडीगढ़। भारतीय चाय बोर्ड ने कांगड़ा चाय उद्योग को पैकेज देने की घोषणा की है। यह पैकेज चाय बागानों, कारखानों, छोटे उत्पादकों और मजदूरों की मदद करेगा। इसके लिए 1,108 लाभार्थियों को 196.14 लाख रुपये का पैकेज दिया गया है। बोर्ड के जोनल अधिकारी अनुपम दास ने बताया कि 125.50 लाख रुपये जारी भी कर दिये गये है।

स बार कोरोना की वजह से हिमाचल के चाय उत्पादक खासे परेशान हैं। उनके सामने मजदूरों का संकट खड़ा हो गया है। समय पर पत्तियां की तुड़ाई का काम न होने की वजह से इनकी गुणवत्ता भी प्रभावित हो रही है।

यह भी पढ़ें : हिमाचल में कांगड़ा के चाय उत्पादक किसानों को भारी नुकसान, कोलकाता नहीं भेज पा रहे पत्तियां

चाय उत्पादक किसान सूरज ठाकुर ने बताया कि बड़े किसान तो फिर भी चाय की पत्तियों की तुड़ाई का काम करा सकते हैं, क्योंकि उनके पास मजदूरों को रखने की पूरी व्यवस्था है। लेकिन छोटे किसानों को काफी दिक्कत आ रही हैं। उनके सामने मजदूरों का संकट खड़ा हो गया है। प्रवास मजदूर चले गये हैं। इस वजह से लेबर के रेट भी खासे बढ़ गये हैं, जिससे छोटे किसानों के सामने दोहरा संकट आ गया है।

न्होंने बताया कि बोर्ड की यह पैकेज ऐसे समय में उनके लिए काफी मददगार साबित होगा। उन्होंने यह भी बताया कि अब यदि पत्तियों के दाम उचित मिल जाये तो उनकी समस्या कुछ हद तक कम हो सकती है।

यह भी पढ़ें- कोरोना संकट: किसानों से एक से 5 किलो अनाज दान में मांग रही हरियाणा सरकार

पिछले दिनों ही सरकार ने किसानों को पत्तियां तोड़ने की इजाजत दी है। इसके बाद भी चाय बगानों में मजदूरों की कमी के चलते काम सुचारू रूप से शुरू नहीं हो पाया है। चाय बगान मालिकों को मजदूरों की कमी का सामना करना पड़ रहा है।

Next Story

विविध

Share it