Top
उत्तर प्रदेश

योगीराज : मजदूर पिता का आरोप बिस्कुट लेने गया था बेटा और पुलिस ने पीट—पीट कर मार डाला

Raghib Asim
19 April 2020 4:59 AM GMT
योगीराज : मजदूर पिता का आरोप बिस्कुट लेने गया था बेटा और पुलिस ने पीट—पीट कर मार डाला
x

उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में लॉकडाउन के दौरान घरेलू समान लेने निकले दिहाड़ी मजदूर युवक की पुलिस ने जमकर पिटाई कर दी। इससे उसकी इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई। मामला टांडा कोतवाली क्षेत्र के छज्जापुर दक्षिणी मुहल्ले का है। मोहल्ला निवासी इसराइल का 22 वर्षीय पुत्र रिजवान अहमद दिहाड़ी मजदूरी करता है...

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में लॉकडाउन के दौरान घरेलू समान लेने निकले दिहाड़ी मजदूर युवक की पुलिस ने जमकर पिटाई कर दी। इससे उसकी इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई। मामला टांडा कोतवाली क्षेत्र के छज्जापुर दक्षिणी मुहल्ले का है। मोहल्ला निवासी इसराइल का 22 वर्षीय पुत्र रिजवान अहमद दिहाड़ी मजदूरी करता है। परिवार का कहना है कि 15 अप्रैल को शाम चार बजे घरेलू सामान लेने गया था। पोस्ट ऑफिस के निकट पुलिस का एक वाहन पहुंचा। इसमें एक महिला दारोगा व अन्य पुलिसकर्मी मौजूद थे। मामले पर परिवार का आरोप है रिजवान को रोककर पुलिस कर्मियों ने पहले उसकी लाठी से पिटाई की उसके बाद घायल युवक ने घर पर पहुंच के परिजनों को पूरे मामले की जानकारी दी। पिता के मुताबिक लॉकडाउन व पुलिस की दहशत से घर पर ही रिजवान का देशी उपचार करता रहा। हालत बिगड़ने पर शुक्रवार को इलाज के लिए सीएचसी टांडा ले जाया गया। यहां से उसे जिला चिकित्सालय भेज दिया गया जहां शनिवार की सुबह उसकी मौत हो गई।

संबंधित खबर : BJP शासित मध्यप्रदेश में ग़रीबों के राशन पैकेट में बड़ा घोटाला,विधायक के हंगामे के बाद बैठी जांच

क्षेत्राधिकारी अमर बहादुर, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक संजय पांडेय पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे। पिता इसराइल ने पुलिस को तहरीर दी है। एसपी आलोक प्रियदर्शी ने कहा कि आरोपों की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही पीड़ित परिवार को हरसंभव मदद दिलाई जाएगी। एएसपी अवनीश कुमार मिश्र ने भी घटना के बाबत जानकारी एकत्र कर अधीनस्थ अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

टना की सत्यता के लिए पुलिस पोस्ट ऑफिस के आसपास लगे सीसी कैमरे की फुटेज को भी खंगालने में जुटी है। साथ ही शांति व्यवस्था बनाए रखने को लेकर मुहल्ले में बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी तैनात कर दी गई है। टांडा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के एक फार्मासिस्ट ने बताया शुक्रवार को 10.20 बजे युवक रिजवान को लेकर परिजन आए थे। उसके बाएं पैर के पीछे जंघे पर चार-पांच दिन पुरानी चोट के निशान व सूजन था। सांस फूलने की भी शिकायत रही।

यह भी पढ़ें- इंदौर में कोरोना वारियर्स पर फिर से हमला, अपराधी प्रवृत्ति के हमलावर ने पड़ोसी को भी मारा चाकू

टना के बाबत अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र का कहना है कि परिजनों ने पुलिस की पिटाई से हुई मौत का आरोप लगाया है। मामले की जांच की जा रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। पुलिसकर्मियों पर युवक की पिटाई का गंभीर आरोप लगा है। परिवार वालों का आरोप है कि पुलिस की पिटाई से युवक की मौत हुई है। वही युवक की मौत से पुलिस की कार्यप्रणाली पर एक बार फिर गंभीर सवाल खड़े हो गए है।

Next Story

विविध

Share it