Top
राजनीति

वीडियो में हुआ खुलासा, अमित शाह के रोड शो में बंगाल भाजपा नेता ने भड़काया था दंगा

Prema Negi
16 May 2019 3:49 AM GMT
वीडियो में हुआ खुलासा, अमित शाह के रोड शो में बंगाल भाजपा नेता ने भड़काया था दंगा
x

भाजपा नेता कह रहा है वीडियो में कि अमित शाह के रोड शो में भाजपा कार्यकर्ताओं को झमेला किसी भी हाल में क्रिएट करना है, चाहे उसके लिए लोग खरीदने क्यों न पड़ें। कल अमित शाह का रोड शो है, जिसमें आपमें से हर किसी को कम से कम 8 फीट का डंडा लेकर पहुंचना है, ताकि पुलिस और टीएमसी से भिड़ सकें...

जनज्वार। कोलकाता में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की चुनावी सभा के दौरान 14 मई को जो हिंसक घटना हुई थी, वह भाजपा की सोची-समझी साजिश थी। इसका खुलासा इस खबर के साथ दिए जा रहे वीडियो से हो जाती है, जिसमें भाजपा नेता राजेश सिंह फाटाफाटी ग्रुप से जुड़े भाजपा कार्यकर्ताओं को दंगे के लिए तैयार रहने को कह रहे हैं। वह वीडियो में भाजपाइयों को उकसा रहे हैं कि किसी भी तरह के दंगे के लिए तैयार रहें। यह वीडियो अमित शाह की चुनावी रैली के दौरान हुई हिंसा से पहले दिन का है।

राजेश सिंह वीडियो में कह रहे हैं कि 'फाटाफाटी के जो हमारे सदस्य हैं वो किसलिए हैं आपको पता है। कल के रोड शो में झमेला, झंझट हो सकता है, जो सदस्य नहीं आएंगे उसे इस फाटाफाटी ग्रुप से बाहर कर दिया जायेगा। कल आप फाटाफाटी ग्रुप से जुड़े कार्यकर्ताओं को झमेला किसी भी हाल में क्रिएट करना है, चाहे उसके लिए लोग खरीदने क्यों न पड़ें। कल अमित शाह का रोड शो है, जिसमें आपमें से हर किसी को कम से कम 8 फीट का डंडा लेकर पहुंचना है, ताकि पुलिस और टीएमसी से भिड़ सकें।'

अमित शाह के रोड शो के लिए बंगाल भाजपा नेता जारी किया था भड़काउ वीडियो - Part 1

नेता राजेश सिंह का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसी के साथ एक और वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें यही राजेश सिंह दंगा भड़काने के बाद लोकतंत्र बचाने की दुहाई देते दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो से जहां भाजपा का दोहरा चरित्र सामने आया है, वहीं यह भी पूरी तरह साफ हो गया है कि बंगाल में हुआ बवाल भाजपा ने भड़काया था। चुनाव पूर्व दंगा भड़काकर भाजपा का इरादा लोगों को डराने—धमकाने का था, यह भी साफ हो चुका है।

इसके अलावा एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें भगवा गुंडे सरेआम लाठी—डंडे बरसाते हुए आतंक मचा रहे हैं।

गौरतलब है कि 14 मई को अमित शाह की रैली के दौरान विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया था कि आगजनी और पत्थरबाजी भी की गई। आगजनी और पत्थरबाजी करने वालों में भी भाजपाई आगे थे। सोशल मीडिया पर आगजनी और पत्थरबाजी के जो वीडियो वायरल हो रहे हैं उनमें यह साफतौर पर देखा जा सकता है।

कोलकाता में कॉलेज स्ट्रीट पर जब भाजपा प्रमुख अमित शाह के चुनावी रोड शो का काफिला गुजर रहा था तो टीएमसी और भाजपा समर्थकों में टकराव हुआ था, जिसके बाद भाजपाइयों ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिये। इस घटना में कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा।

भाजपा नेता ने पहले बनाया भड़काउ वीडियो, बाद में बताया फर्जी - Part 2

है कि 19 मई को लोकसभा चुनावों का अंतिम यानी सातवें चरण के लिए मतदान होना है। इसीलिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में 14 मई को कोलकाता में रोड शो किया था। अमित शाह का यह रोड शो शाम 4:30 बजे कोलकाता के एस्प्लेनेड इलाके से शुरू होकर उत्तरी कोलकाता में स्वामी विवेकानंद भवन पर जाकर खत्म हुआ। अमित शाह उत्तरी कोलकाता से बीजेपी उम्मीदवार राहुल सिन्हा और दक्षिणी कोलकाता से चंद्र कुमार बोस के साथ एक रोड शो में मौजूद थे।

इस हिंसा पर सौमित्र रॉय फेसबुक पर लिखते हैं, 'वीडियो में दिख रहा है कि किस तरह बीजेपी के भगवाधारी गुंडे तड़ीपार के रोड शो के बहाने आतंक मचा रहे हैं। इस वीडियो को देखकर मैं भगवा आतंकवाद को कतई खारिज़ नहीं कर सकता। चूना आयोग को यह नहीं दिखेगा।'

इस रोड शो में भाजपा समर्थक ‘जय श्री राम’, ‘नरेंद्र मोदी जिंदाबाद’ और ‘अमित शाह जिंदाबाद’ के नारे लगा रहे थे। यही नहीं रोड शो में भगवान राम और हनुमान की तरह सजे-धजे लोग भी मौजूद थे। रोड शो के दौरान जब गुंडागर्दी शुरू हुई तो भाजपाइयों द्वारा विद्यासागर कॉलेज में बनी ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति भी ढहा दी।

Next Story

विविध

Share it