Top
आंदोलन

क्या हगने और मरने से पहले भी जरूरी होगा आधार : ममता बनर्जी

Janjwar Team
22 July 2017 4:24 PM GMT
क्या हगने और मरने से पहले भी जरूरी होगा आधार : ममता बनर्जी
x

ममता ने शुरू किया 'भाजपा भारत छोड़ो' अभियान

भाजपा को देश से हटाने के लिए ममता ने किया आह्वान, कहा भाजपा ने देश पर लादा सुपर इमरजेंसी का बोझ, 9 अगस्त से शुरू हो रहा अभियान

जनज्वार, कोलकाता। 'केंद्र की भाजपा सरकार ने देश में सुपर इमरजेंसी की शुरुआत कर दी है। भाजपा आधार कार्ड सबके लिए जरूरी कर आम लोगों के सभी अधिकार छीनना चाहती है। ऐसा लगता है बिना आधार के कुछ भी नहीं होगा। जैसे बाथरूम जाते समय, विवाह करते समय, मरने जाते समय, श्मशान जाते समय आधार कार्ड दिखाना जरूरी होगा।' यह कटाक्षपूर्ण बातें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कल 21 जुलाई को शहीद दिवस के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहीं।

गौरतलब है कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने 9 अगस्त से 'भाजपा भारत छोड़ो' अभियान चलाने की घोषणा की है। यह आंदोलन 30 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान भाजपा पर तीखे वार करते हुए ममता ने कहा कि केंद्र में जिस तरह भाजपा ने निर्वाचित होकर सरकार बनाई है, उसी तरह राज्य में तृणमूल कांग्रेस निर्वाचन के जरिए सत्ता में आई है और यह बात भाजपा भूल रही है। वह सिर्फ विभिन्न संप्रदायों में फूट डालकर देश में अशांति फैला रही है।'

जीएसटी और नोटबंदी को गलत कदम ठहराते हुए ममता ने कहा कि इन दोनों के कारण देश की अर्थनीति बर्बाद हो रही है। नोटबंदी के बाद कितनी राशि जब्त की गई, इसका आंकड़ा सरकार अभी भी सार्वजनिक नहीं कर पाई है। दूसरी तरफ किसान मसलों पर बोलते हुए ममता ने कहा कि देश में 12 हजार किसान आत्महत्या कर चुके हैं, मगर सरकार की तरफ से कृषि ऋण माफ कर उन्हें बचाने जैसा कोई कदम नहीं उठाया गया।

केंद्र से कृषि ऋण माफ करने की मांग करते हुए उन्होंने मोदी सरकार पर सभी क्षेत्रों में असफल होने का आरोप जड़ा। साथ ही यह भी कहा कि जिस तरह हमने वाममोर्चे के 34 सालों के शासन को राज्य से उखाड़ा है, उसी तरह भाजपामुक्त भारत करेंगे। भाजपा के खिलाफ उन्होंने किसी भी दल के साथ जाने पर सहमति जताई और कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में देशभर के विपक्षी दलों का गठबंधन भाजपा का सफाया कर देगा।

पश्चिम बंगाल के 24 परगना स्थित बशीरहाट में भड़की सांप्रदायिक हिंसा पर ममता ने कहा कि कुछ बाहर तत्व आकर यहां हिंसा फैलाने का काम कर रहे हैं, मगर तृणमूल कांग्रेस के राज में वो यहां सांप्रदायिकता का माहौल कायम करने में सफल नहीं हो पायेंगे।

गौरक्षकों पर तंज कसते हुए ममता बोलीं कि गौरक्षा के नाम पर भाजपाई गो राक्षस बन गए हैं। अब वो तय कर रहे हैं देश में किसे क्या खाना चाहिए और कैसा लिबास पहनना चाहिए।

Next Story
Share it