Top
सिक्योरिटी

डायन कहकर विधवा महिला को खिलाया मानव मल, मारपीट के बाद काट डाले बाल

Prema Negi
19 Jun 2019 10:27 AM GMT
डायन कहकर विधवा महिला को खिलाया मानव मल, मारपीट के बाद काट डाले बाल
x

डायन के नाम पर तरह-तरह से किया जाता है मजबूर और विधवा महिलाओं को प्रताड़ित, मानव मल खिलाने की घटनायें आ चुकी हैं कई जगह सामने, बलात्कार से लेकर मॉब लिंचिंग तक की घटनायें को दिया जाता है डायन के नाम पर अंजाम...

जनज्वार। अंधविश्वासों की जकड़न से हमारा समाज बाहर निकलने का नाम नहीं ले रहा है। महिलाओं के मामले में तो अंधविश्वास के नाम पर होने वाले उत्पीड़न का प्रतिशत सबसे ज्यादा है। कभी डायन, कभी चुड़ैल कहकर किसी भी मजबूर, विधवा औरत का शारीरिक, मानसिक उत्पीड़न की घटनाएं खबरों में आती रहती हैं।

ऐसा ही एक मामला सामने आया है बिहार के सहरसा में। प्रभात खबर में प्रकाशित एक खबर के मु​ताबिक सहरसा के सोनवर्षाराज स्थित वार्ड नंबर 10 में सोमवार 17 जून की सुबह एक विधवा महिला पर डायन का आरोप लगाकर पहले तो मारपीट की गई। उसके बाद जबरन उसके सिर के बाल मुंडवाने समेत मानव मल पिलाने का जघन्य मामला सामने आया है।

डायन के नाम पर महिलाओं के साथ होने वाली अत्याचार की घटनाओं में बिहार-झारखंड ने चरम छुआ हुआ है।

इस बाबत पीड़ित महिला ने 17 जून की शाम को पुलिस के पास लिखित शिकायत दर्ज करायी गई। ताज्जुब यह कि इतनी जघन्य वारदात होने के बावजूद इस मामले को स्थानीय स्तर पर हर तरीके से रफा दफा करने और दबाने का प्रयास किया गया। गौरतलब है कि पहले भी डायन के नाम पर कई महिलाओं के साथ बलात्कार तक की घटनायें सामने आ चुकी हैं। कई लोग इस नाम पर मॉब लिंचिंग तक का शिकार हो चुके हैं, मगर ऐसी घटनायें बजाय कम होने के दिन—ब—दिन बढ़ती जा रही हैं।

जानकारी के मुताबिक पीड़ित विधवा महिला के साथ मानव ​मल पिलाने और मारपीट के अलावा उसका सिर मुंडने की वारदात सहरसा के सोनवर्षाराज स्थित वार्ड नंबर 10 के उसके घर में 17 जून को उस समय घटित हुई, जब वह सुबह का नाश्ता बना रही थी।

उसी समय उसकी पड़ोस में रहने वाले पिता-पुत्र रतन विश्वास व रणविजय विश्वास विधवा महिला के घर पहुंचे। बाप—बेटे रतन विश्वास व रणविजय विश्वास ने महिला के बाल पकड़कर सबसे पहले उसे घसीटा और खूब ज्यादा मारा—पीटा, उसके साथ गाली—गलौज की। बाल पकड़कर घसीटते हुए और मारपीट करते हुए वे लोग उसे यह कहते हुए अपने घर ले गये कि तुम डायन हो और तुमने जादू—टोने से मेरी मां को बीमार कर दिया है। इसे ठीक करो नहीं तो तुम्हें मैला पिलाकर तुम्हारी भीतर की डायन को खत्म कर देंगे। यह कहते रणविजय विश्वास ने गिलास में श्मैला घोलकर पीड़ित महिला का मुंह पकड़कर जबर्दस्ती पिला दिया।

मैला पीते ही पीड़ित महिला को उल्टी होने लगी। उल्टी करते हुए जब वह अपने घर की तरफ भागने लगी तो पिता पुत्र ने उसे ​फिर जबर्दस्ती पकड़ा और उसके सिर के बाल मूंड दिये।

इतना ही नहीं, जब पीड़ित महिला का पुत्र वहां पहुंचा तो रतन विश्वास और रणविजय विश्वास ने धमकी दी कि अगर इसकी जानकारी किसी को भी दी तो तुम्हारी मां को नदी में फेंक देंगे। जबरन खिलाये गये मानव मल के बाद जब पीड़ित महिला की तबीयत बिगड़ने लगी तो वह अस्पताल पहुंची और उसके बाद शिकायत दर्ज करवाने के लिए थाने गई। पीड़ित महिला ने पुलिस से गुहार लगायी कि वह आरोपियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई करे। इस मामले में जांच कर रहे थानाध्यक्ष शिवशंकर कुमार ने कहा कि महिला के साथ हुई ज्यादती की इस घटना की छानबीन कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

Next Story

विविध

Share it