Top
जनज्वार विशेष

विंग कमांडर अभिनंदन ने 'चाय पर चर्चा' करते हुए किया पाकिस्तानी आर्मी का शुक्रिया

Prema Negi
27 Feb 2019 1:40 PM GMT
विंग कमांडर अभिनंदन ने

वीडियो में विंग कमांडर कहते सुनाई दे रहे हैं कि पाकिस्तानी सेना ने उनके साथ बहुत अच्छा व्यवहार किया। मुझे मौत के मुंह से बाहर निकाला। अपने वतन लौटने के बाद भी मैं अपने इस बयान से पलटूंगा नहीं....

जनज्वार। आज सुबह 27 फरवरी को पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ़ गफ़ूर ने भारत के मिग-21 को ध्वस्त करने और विंग कमांडर अभिनंदन समेत एक अन्य कमांडर को अपने कब्जे में लेने का ​दावा किया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हो रहा था, उसमें विंग कमांडर अभिनंदन का पूरा चेहरा खून से सना हुआ था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई थीं।

हजारों—हजार लोग भारत सरकार से पाकिस्तान की इस हरकत के लिए उसे सबक सिखाने की गुजारिश कर रहे थे तो ऐसे लोगों की भी भारी तादाद थी जो किसी भी हालत में विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी की दुआ कर रहे थे और भारत सरकार से निवेदन कर रहे थे कि वह इसके लिए प्रयास करे।

मगर थोड़ी देर पहले भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन का एक और वीडियो सामने आया है, जिसमें वह चाय पीते हुए पाकिस्तानी आर्मी का शु​क्रिया कर रहे हैं कि उन लोगों ने उनकी जान बचायी है।

देखें वीडियो :

में विंग कमांडर अभिनंदन कहते सुनाई दे रहे हैं कि 'पाकिस्तानी सेना ने उनके साथ बहुत अच्छा व्यवहार किया। मुझे मौत के मुंह से बाहर निकाला। अपने वतन लौटने के बाद भी मैं अपने इस बयान से पलटूंगा नहीं। सच कहूं तो पाकिस्तानी आर्मी का यह व्यवहार मेरे लिए सरप्राइजिंग था, और मैं इससे बहुत इम्प्रैस हुआ कि दुश्मन देश के विंग कमांडर के साथ इतना अच्छा व्यवहार किया।'

गौरतलब है कि विंग कमांडर अभिनंदन के पाकिस्तान के कब्जे में होने के बाद से ही सोशल मीडिया पर #SayNoToWar हैशटैग ट्रेंड कर रहा है। इसी हैशटैग के साथ लोगों ने शुक्रिया अदा किया है कि भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन सुरक्षित हैं।

संबंधित खबर : पाकिस्तान ने किया दावा भारतीय विंग कमांडर है उसके कब्जे में

भारतीय सैन्य अधिकारी के इस सलामती वाले बयान के बाद से सोशल मीडिया पर भारत सरकार से #SayNoToWar की अपील की जा रही है।

खबरों के मुताबिक विंग कमांडर अभिनंदन की पत्नी तन्वी मारवाह भी एयर फोर्स में स्क्वाड्रन लीडर के पद पर रह चुकी हैं। रिटायर हो चुकी तन्वी मारवाह एयर फोर्स की जांबाज अफसर मानी जाती थीं। रिटायरमेंट के बाद भी तन्वी मारवाह एयर फोर्स में एक सम्मानित नाम है। लोग उनकी बहादुरी के किस्से सुनाते हैं।

पत्नी के अलावा अभिनंदन के पिता भी एयरफोर्स का हिस्सा रहे हैं। अभिनंदन के पिता एस वर्धमान वायुसेना में एयर मार्शल थे। साल 2017 में मणिरत्नम की फिल्म 'कातरू वेलियिदई' में एस वर्धमान कंसल्टेंट रह चुके हैं, ​जिसकी कहानी 1999 करगिल वॉर में पाकिस्तान में फंसे एक पायलट पर आधारित थी। आज वैसी ही कुछ स्थिति से उनका बेटा अभिनंदन जूझ रहा है।

Next Story

विविध

Share it