Top
उत्तर प्रदेश

काम की तलाश में गया था मुंबई, श्रमिक स्पेशल ट्रेन के शौचालय में मिला मज़दूर का शव, कई दिनों से पड़े होने की आशंका

Raghib Asim
30 May 2020 4:06 AM GMT
काम की तलाश में गया था मुंबई, श्रमिक स्पेशल ट्रेन के शौचालय में मिला मज़दूर का शव, कई दिनों से पड़े होने की आशंका
x

यूपी के झांसी में श्रमिक स्पेशल ट्रेन के शौचालय में एक 38 वर्षीय प्रवासी मजदूर का शव पाया गया है। शव होने का पता गुरुवार शाम को चला, उस समय रेलवे कर्मचारी डिब्बों को सैनिटाइज कर रहे थे। आशंका जताई जा रही है कि ये शव पिछले काफी दिनों से है...

जनज्वार। यूपी के झांसी में श्रमिक स्पेशल ट्रेन के शौचालय में एक 38 वर्षीय प्रवासी मजदूर का शव पाया गया है। शव होने का पता गुरुवार शाम को चला, उस समय रेलवे कर्मचारी डिब्बों को सैनिटाइज कर रहे थे। आशंका जताई जा रही है कि ये शव पिछले काफी दिनों से है।

व की पहचान पूर्वी उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के रहने वाले मोहन लाल शर्मा के तौर पर की गई है। मोहन मुंबई में चिप्स की एक फैक्ट्री में काम करता था, लॉकडाउन के कारण उसकी कमाई का साधन बंद हो गया था। 23 मई को वह जैसे-तैसे झांसी पहुंचने में कामयाब रहा, जहां जिला प्रशासन ने उन्हें गोरखपुर की ट्रेन पकड़ने के लिए रेलवे स्टेशन भेज दिया।

सफाई के दौरान शव की जानकारी मिली

धिकारियों ने बताया कि 27 मई को ट्रेन के रखरखाव और सफाई के लिए रैक खोलने पर शव मिला। झांसी-गोरखपुर ट्रेन 23 मई को रवाना हुई थी और 24 मई को गोरखपुर पहुंची थी। उत्तर मध्य रेलवे के प्रवक्ता अजीत कुमार सिंह ने कहा, "जब 27 मई को ट्रेन झांसी पहुंची तो उसका का रेक खोला गया और उसकी सफाई की गई तब कर्मचारियों ने शव बरामद किया।"

न्होंने कहा कि कहा कि ट्रेन के मूवमेंट के बारे में पता किया गया तो जानकारी हुई कि रास्ते में कोई मेडिकल सहायता नहीं मांगी गई। प्रोटोकॉल के अनुसार, श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से यात्रियों को डी-बोर्ड करने के बाद, इसे लॉक कर दिया जाता है और रेक वापस भेज दिया जाता है। यह साफ किया जाता है जब खाली रेक वापस अपने गंतव्य तक पहुंचते हैं।

आधार कार्ड से हुई पहचान

जीआरपी इंस्पेक्टर अंजना वर्मा ने कहा, ‘27 मई को हमें शव मिलने की जानकारी मिली थी। हम तुरंत मेडिकल टीम के साथ वहां पहुंचे थे। हमें उनका आधार कार्ड मिला, जिससे उनकी पहचान हो सकी।’

श्रमिक स्पेशल में मिली प्रवासी मजदूर की लाश को जीआरपी ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और स्वास्थ्य विभाग ने कोविड-19 परीक्षण के लिए नमूने लिए हैं। मृतक के परिवार के पांच सदस्य बस्ती से यहां पहुंच गए हैं। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

Next Story

विविध

Share it