Top
आंदोलन

जोमैटो पर मंदी की मार, 541 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता

Prema Negi
9 Sep 2019 9:00 AM GMT
जोमैटो पर मंदी की मार, 541 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता
x

इससे पहले भी जोमैटो कंपनी ने 60 कर्मचारियों को यह कहकर निकाल बाहर किया था कि कंपनी अपनी सेवा की गुणवत्ता में सुधार के लिए ऐसा कर रही है...

जनज्वार। ऑटोमोबाइल सेक्टर की तमाम कंपनियों, पारले-जी समेत अन्य कई कंपनियों से लाखों लोगों की नौकरी जाने के बाद अब ऑनलाइन फूड डिलीवरी करने वाली कंपनी जोमैटो ने सैकड़ों कर्मचारियों को एक साथ शनिवार 7 सितंबर को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। सैकड़ों कर्मचारियों की एक साथ नौकरियां जाने का कारण सीधे—सीधे मंदी है, हालांकि जोमैटो ने इन्हें कंपनी से बाहर करने का कारण कुछ और बताया है।

गौरतलब है कि ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो ने अपने गुडगांव स्थित कंपनी के दफ्तर से 541 कर्मचारियों को एक साथ नौकरी से निकाल दिया है। जिन कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया गया है, उनमें मुख्य रूप से कस्टमर सपोर्ट और डिलीवरी पार्टनर के कर्मचारी शामिल हैं।

तने बड़े पैमाने पर छंटनी का कारण बताते हुए कंपनी की ओर से एक बयान जारी किया गया है कि हमने अपने 541 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला है, जो कि जोमैटो के कुल कर्मचारियों का 10 प्रतिशत है। छंटनी के बाद कंपनी के कर्मचारियों की कुल संख्या 5,000 रह गई है। हमने जिन कर्मचारियों को निकाला है, उन्हें दो से चार महीने का भुगतान किया जा रहा है। कंपनी की तकनीक में हुए सुधार के बाद ये नौकरियां खत्म हुई हैं।

जोमैटो ने आगे कहा है कि 'पिछले कुछ महीनों में हमने देखा है कि हमारे टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट और प्लेटफॉर्म बेहतर हुए हैं। हमने शिकायत सुलझाने की स्पीड बेहतर कर ली है और अब हमारे सिर्फ 7.5 फीसदी ऑर्डर के लिए सहयोग की आवश्यकता होती है।'

पिछले महीने भी जोमैटो कंपनी ने 60 कर्मचारियों को यह कहकर निकाल बाहर किया था कि कंपनी अपनी सेवा की गुणवत्ता में सुधार के लिए ऐसा कर रही है। ये कर्मचारी भी जोमैटो के गुड़गांव ऑफिस से आवश्यकता से अधिक स्टाफ कहकर निकाल बाहर किये गये थे।

ही नहीं 2015 में भी जोमैटो ने खर्चों में कटौती के नाम पर 300 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया था। सैकड़ों लोगों को अब जोमैटो ने तब बाहर का रास्ता दिााया है जबकि वह दावा करती है कि जोमैटो भारत में हर माह चार करोड़ ऑर्डर डिलीवरी करती है।

Next Story

विविध

Share it