राजनीति

कंगना ने प्रधानमंत्री को बताया 'दुनिया का सबसे काबिल नेता', पूर्व IAS बोले आयोडिन युक्त नमक का सेवन करो बेटा

Janjwar Desk
25 April 2021 11:40 AM GMT
कंगना ने प्रधानमंत्री को बताया दुनिया का सबसे काबिल नेता, पूर्व IAS बोले आयोडिन युक्त नमक का सेवन करो बेटा
x
सूर्य प्रताप सिंह ने लिखा कि कंगना जी, आप प्रधानमंत्री की समर्थक हैं या उनकी धुर विरोधी? क्यूँकि इस वक्त पर ऐसा ट्रेंड कोई दुश्मन ही करवा सकता है छवि और बिगाड़ने के लिए....

जनज्वार डेस्क। अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाली फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत इस बार पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह से उलझ गयीं। इस समय जब कोरोना ने देश का हाल-बेहाल कर दिया है। सोशल मीडिया पर यूजर्स ऑक्सीजन, बेड और दवाईयों की कमी को लेकर सरकार को घेर रहे हैं, कंगना रनौत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में ट्वीट किया और कहा कि इस भीषण आपदा के लिए पीएम मोदी को दोष देना ठीक नहीं है। एक्ट्रेस के इस ट्वीट के बाद अब ट्विटर पर उनके समर्थकों ने #भारत_का_वीर_पुत्र_मोदी जैसे हैशटैग ट्रेंड किया।

कंगना रनौत ने लिखा, 'जब आपके पास दुनिया का सबसे काबिल नेता हो, तो खुद प्रधानमंत्री बनने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। उनका समर्थन करो, यही हमारा धर्म और कर्म है।' रिटायर्ड आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने कंगना के ट्वीट पर आपत्ति जताई।

सूर्य प्रताप सिंह ने लिखा, 'कंगना जी, आप प्रधानमंत्री की समर्थक हैं या उनकी धुर विरोधी? क्यूँकि इस वक्त पर ऐसा ट्रेंड कोई दुश्मन ही करवा सकता है छवि और बिगाड़ने के लिए। जब चारों तरफ लाशें ही लाशें हैं हैं तब आपका ट्रेंड किसी की 'मैयत' में पटाखे फोड़ने जैसा कृत्य है। आयोडिन युक्त नमक का सेवन करो बेटा।'

सूर्य प्रताप का यह ट्वीट कंगना को पसंद नहीं आया और उन्होंने भी इसका जवाब दिया, 'सूर्या जी जो इंसान अपना पूरा जीवन देश की सेवा में लगा दे, और बदले में उसे सिर्फ ईर्ष्या, नफरत और झूठ मिले, इन मुश्किल घड़ियों में ऐसे इंसान को जो पूरे देश का नेतृत्व कर रहा हो उसे मनोबल देना, उसके प्रयासों की, काम की प्रशंसा करना उस पे एहसान नहीं है, इस देश पे एहसान है।'

इस ट्वीट का जवाब देते हुए अब सूर्य प्रताप सिंह ने लिखा, 'हम जरूरतमंदो की मदद कर और सिस्टम की कमियों को उजागर कर देश की मदद कर रहे हैं, आप प्रधानमंत्री जी की प्रशंसा कर देश की मदद कर रही हैं। लक्ष्य एक है, पर सोच कितनी अलग।'

कंगना ने भी जवाब में कहा, 'प्रधानमंत्री ही देश हैं, यह विचार रखना की वो हमसे अलग हैं तो फिर लोकतंत्र का ढोंग ही क्यूँ करना, मत देकर एक प्रतिनिधि चुनने का इतना भारी आर्थिक लागत का काम ही क्यूँ करना, प्रधानमंत्री देश के लिये पिता समान हैं, उनकी नियत पे संदेह या उनके परास्त/ हार जाने की कामना करना बेवकूफी है।'

इसके बाद सूर्य प्रताप सिंह ने फिर कंगना की पढ़ाई पर सवाल खड़ा करते हुए लिखा, 'प्रधानमंत्री ही देश है?? कंगना जी, जो कोई भी आपके लिए ट्वीट लिख रहा है उसने 8वीं कक्षा तक भी 'नागरिकशास्त्र' की किताब नहीं पढ़ी है। लोकतंत्र शासन का वह प्रकार है, जिसमें प्रभुत्व शक्ति समष्टि रूप में जनता के हाथ में रहती है, जनता अन्तिम नियंत्रण रखती है। कृपया और पढ़ाई करें।'

इसके बाद जब मीडिया में खबरें चलने लगीं कि एक पूर्व आईएएस ने फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत की क्लास लगा दी तो इस पर सूर्यप्रताप सिंह ने लिखा- मैंने कोई क्लास नहीं लगायी, बस लोकतंत्र की असल परिभाषा बताई। एक बेहतर समाज बन पाना तभी संभव है जब सरकार की जवाबदेही तय हो। एक स्वस्थ लोकतंत्र को एक जवाबदेह, उत्तरदायी और वैध सरकार प्रोड्यूस करनी चाहिए।

Next Story

विविध

Share it