राजनीति

BJP नेता का बेटा एक्स्ट्रा सर्विस के बहाने रिशेप्सनिस्ट अंकिता भंडारी को धकेलना चाहता था देह व्यापार के धंधे में, विरोध करने पर प्रताड़ना के बाद हत्या का आरोप

Janjwar Desk
23 Sep 2022 8:29 AM GMT
भारत जोड़ो यात्रा में भी सुनाई दी अंकिता मर्डर केस की गूंज, राहुल गांधी बोले - मुरादाबाद-उत्तराखंड की घटनाओं ने सबका दिल दहलाया
x

भारत जोड़ो यात्रा में भी सुनाई दी अंकिता मर्डर केस की गूंज, राहुल गांधी बोले - मुरादाबाद-उत्तराखंड की घटनाओं ने सबका दिल दहलाया

Ankita Bhandari missing and murder case : जानकारी के मुताबिक 18 सितंबर को इन लोगों ने अंकिता भंडारी को देह व्यापार के धंधे में झोंकने के लिए इतना प्रताड़ित किया कि अंकिता ने रोते हुए रिसोर्ट स्टाफ से खुद को बचाने की गुहार लगाई। अंकिता ने इन लोगों की हरकतों का पूरा ब्यौरा अपने एक दोस्त के साथ वाट्सएप चैट में भी दिया....

Ankita Bhandari missing and murder case : तीर्थनगरी ऋषिकेश में संस्कारी भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राज्यमंत्री के बेटे पर आरोप लगा है कि उसने अपने ही रिसोर्ट में कार्यरत रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी का एक बिगड़ैल ग्राहक के सामने एकस्ट्रा सर्विस देने के नाम पर सौदा कर दिया। जब रिसेप्शनिस्ट का काम करने वाली अंकिता ने देह व्यापार करने से साफ इंकार कर दिया तो उसे कई दिन तक बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट की गई। अंततः उसकी हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया गया। हालांकि पुलिस द्वारा अभी तक अंकिता की हत्या की पुष्टि नहीं की गयी है।

यह सनसनीखेज घटनाक्रम पौड़ी जिले के यमकेश्वर प्रखंड के गंगा भोगपुर स्थित भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य के युवा पुत्र पुल्कित आर्य के वननतारा रिसोर्ट की है। जानकारी के मुताबिक करीब महीने भर पहले नादलस्यूं पट्टी, श्रीकोट गांव की अंकिता भंडारी पुत्री उपेंद्र सिंह भंडारी ने अपने एक जम्मू स्थित मित्र द्वारा बताए गए इस रिजॉर्ट में नौकरी के लिए आवेदन किया था। 10 हजार रुपए महीने पर पुल्कित आर्य के इस रिसोर्ट में अंकिता को रिसेप्शनिस्ट की नौकरी मिली।

आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य के युवा पुत्र पुल्कित आर्य और उसकी गैंग में शामिल प्रबंधक सौरभ भास्कर, सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता की नियत शुरू से ही अंकिता को लेकर खराब थी। सौरभ व अंकित नाम के यही दोनों लोग रिजॉर्ट में नाम के ही प्रबंधक थे। इनका मुख्य काम सारा दिन रिसोर्ट में गलत कामों को प्रेरित करना और रिसोर्ट स्टाफ पर दबंगई करना ही था। अपनी इसी रणनीति के तहत इस गिरोह ने अपना यह जाल अंकिता पर भी फेंकना शुरू कर दिया।

अंकिता भंडारी भाजपा नेता के बेटे के इसी रिसाॅर्ट में करती थी रिशेप्सनिस्ट की नौकरी

जानकारी सामने आ रही है कि अंकिता ने शुरू में इनकी वरिष्ठता का लिहाज करते हुए इनकी हरकतों को इग्नोर किया, लेकिन जल्द ही यह शैतान अपने असली रूप में आ गए। जानकारी के मुताबिक 18 सितंबर को इन लोगों ने अंकिता भंडारी को देह व्यापार के धंधे में झोंकने के लिए इतना प्रताड़ित किया कि अंकिता ने रोते हुए रिसोर्ट स्टाफ से खुद को बचाने की गुहार लगाई। अंकिता ने इन लोगों की हरकतों का पूरा ब्यौरा अपने एक दोस्त के साथ वाट्सएप चैट में भी दिया है। अंकिता भंडारी ने होटल के स्टाफ ओर होटल मालिक के बारे शराब पीकर छेड़छाड़ करने और स्पेशल गेस्ट को एक्सट्रा सर्विस के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए हैं।

अंकिता के वाट्सअप चैट से पता चलता है कि उसे एकस्ट्रा सर्विस के नाम पर दस हजार का प्रलोभन दिया जा रहा था। अंकिता की व्यथा उसकी एक लाइन इस होटल वालों ने तो मुझे रां...समझ रखा है क्या...' सब कुछ बता रही है। इस वाट्सएप चैट के स्क्रीन शॉट अब पब्लिक डोमेन में पहुंच चुके हैं।

इल्जाम है कि 18 सितंबर की शाम को ही आरोपी अंकिता को अपने साथ किसी अज्ञात स्थान पर लेकर चले गए। लड़की के गायब होने पर परिजनों ने राजस्व क्षेत्र होने के कारण पटवारी से संपर्क किया, लेकिन पटवारियों की हड़ताल होने के कारण परिजन बेटी की तलाश में भटकते रहे। मामले का शोर सोशल मीडिया पर हुआ तो बमुश्किल यह केस रेगुलर पुलिस को सौंपा गया।

संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुई रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी के साथ अनहोनी की आशंका जताई जा रही है। गुरुवार 21 सितंबर को यह मामला राजस्व पुलिस से नागरिक पुलिस को हस्तांतरित होने के बाद अपर पुलिस अधीक्षक पौड़ी शेखर सुयाल के नेतृत्व में टीम का गठन कर मामले की जांच शुरू की गई थी। इस मामले में 6 लोग को हिरासत में लेते हुए पुलिस ने रिसॉर्ट में ताला जड़ दिया था। इस मामले में लक्ष्मण झूला पुलिस ने रिसार्ट के मालिक को पुलकित आर्य, प्रबंधक सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता को हिरासत में लिया है।

पुलिस के मुताबिक अंकिता भंडारी गुमशुदगी मामले में पुलिस को कुछ अहम जानकारी मिली है। आज ही इस पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाएगा, जबकि इस मामले में अपुष्ट सूत्रों का कहना है कि आरोपियों के पुलिस हिरासत में दिए गए बयान के मुताबिक अंकिता अब जीवित नहीं है। सोशल मीडिया पर भी अंकिता की मौत की सूचना वायरल होने पर कोहराम मचा हुआ है।

Next Story

विविध