राजनीति

असम के सीएम ने मुसलमानों का डर दिखा हिंदुओं से मांगा वोट, कहा - अगर मोदी नहीं जीते तो हर शहर में पैदा होगा आफताब

Janjwar Desk
19 Nov 2022 11:25 AM GMT
असम के सीएम ने मुसलमानों का डर दिखा हिंदुओं से मांगा वोट, कहा - अगर मोदी नहीं जीते तो हर शहर में पैदा होगा आफताब
x
Gujrat Chunav 2022 : सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ( Himanta Biswa Sarma ) ने श्रद्धा हत्याकांड को 'लव जिहाद' ( Love Jihad ) का खतरनाक रूप करार देते कहा कि आफताब बहला-फुसलाकर उसे मुंबई से दिल्ली ले आया और उसके 35 टुकड़े कर दिए।

Gujrat Chunav 2022 : असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ( Himanta Biswa Sarma ) ने 19 नवंबर को गुजरात के कच्छ में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। उन्होंने भाजपा ( BJP ) प्रत्याशियों के पक्ष में चुनाव प्रचार करते हुए हिंदू मतदाताओं ( Hindu ) को अल्पसंख्यक ( Muslim ) मतदाताओं को खौफ दिखाते हुए कहा कि अगर देश में कोई मजबूत नेता नहीं होगा तो तो हम अपने समाज की रक्षा नहीं कर पाएंगे। मोदी ( PM Modi ) को जिताना बहुत जरूरी है, अगर वह नहीं जीते तो हर शहर में आफताब ( Aftab ) पैदा होगा।

लव जिहाद सबसे बड़ा खतरा

हिमंत बिस्वा सरमा ( Himanta Biswa Sarma ) ने दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड को 'लव जिहाद' का खतरनाक रूप करार देते कहा कि आफताब ( Aftab ) बहला-फुसलाकर उसको मुंबई से दिल्ली ले आया और लव जिहाद के नाम पर उसके 35 टुकड़े कर दिए। एक लड़की की लाश फ्रिज में रखी थी। इसके बावजूद दूसरी लड़की को घर लाकर डेट करने लगा।

पीएम करते हैं मुस्लिम महिलाओं की भी चिंता

असम के सीएम ( Himanta Biswa Sarma ) यही नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि भाजपा मुस्लिम महिलाओं का सम्मान करती है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक की प्रथा से मुक्ति मिली है। नरेंद्र मोदी ने जो काम किया,उसे शांति से पूरा किया। कश्मीर से धारा 370 हटाई और तीन तलाक की प्रथा को खत्म किया। सब कुछ कानून के दायरे में शांतिपूर्ण तरीके से हुआ। कहीं कोई हंगामा नहीं हुआ। उन्होंने कच्छ की जनता से कहा कि आप लोग थोड़ा सब्र रखो। मोदी सरकार सभी के लिए एक समान कानून यानि कॉमन सिविल कोड देश में लागू करेगी। उसके बाद हमारी मुस्लिम माताओं और बहनों को चार-चार शादियों की पीड़ा से भी छुटकारा मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी केवल हिंदुओं की नहीं बल्कि मुस्लिम महिलाओं की भी चिंता करते हैं। तीन तलाक की जंजीरों से पीएम ने ही उन्हें आजाद कराया है।

इस बार गुजरात में त्रिकोणीय मुकाबला

Gujrat Chunav 2022 : बता दें कि 27 साल से भाजपा गुजरात की सत्ता पर काबिज है। हर चुनाव में मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ही रही है लेकिन इस बार आम आदमी पार्टी की भी एंट्री हो गई है। इससे समीकरण बदलने के आसार भी हैं। पंजाब चुनाव जीतने के बाद आम आदमी पार्टी ने गुजरात में भी पूरी ताकत लगा दी है। ऐसे में मुकाबला त्रिकोणीय हो सकता है। पहले चरण की वोटिंग 1 दिसंबर और दूसरे चरण की वोटिंग 5 दिसंबर को होगी। मतगणना 8 दिसंबर को होगी।

Next Story