राजनीति

बिहार: बसपा के बाद क्या अब चिराग की पार्टी में नीतीश ने लगा दी है सेंध?

Janjwar Desk
25 Jan 2021 3:26 PM GMT
बिहार: बसपा के बाद क्या अब चिराग की पार्टी में नीतीश ने लगा दी है सेंध?
x
वे मंत्री डॉ अशोक चौधरी के आवास पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे और पत्रकारों के एक सवाल के जबाब में यह कह कर सबको चौंका दिया कि वे एनडीए में हैं और बिहार में एनडीए के नेता नीतीश कुमार हैं..

जनज्वार ब्यूरो/पटना। बहुजन समाज पार्टी के एकमात्र विधायक और एकमात्र निर्दलीय विधायक के सत्ताधारी दल जेडीयू में शामिल होने के बाद अब लोक जनशक्ति पार्टी के एकमात्र विधायक के भी पाला बदलने की चर्चा शुरू हो गई है।

इसके पीछे की वजह यह है कि वे आज सोमवार को राज्य सरकार में मंत्री जेडीयू के डॉ अशोक चौधरी के आवास पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे और पत्रकारों के एक सवाल के जबाब में यह कह कर सबको चौंका दिया कि वे एनडीए में हैं और बिहार में एनडीए के नेता नीतीश कुमार हैं।

इसके बाद से ही राजनीतिक हलकों में तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। खासकर इसलिए चूंकि अभी बहुत दिन नहीं गुजरे, जब राज्य में बसपा के एकमात्र विधायक व निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह ने सरकार को समर्थन दे दिया है।

बता दें कि हालिया संपन्न बिहार विधानसभा चुनावों में जेडीयू का प्रदर्शन खराब रहा था और उसे कुल जमा 43 सीटों पर ही सफलता मिल पाई थी, जबकि पिछली विधानसभा में पार्टी के 72 विधायक हुआ करते थे।

एनडीए को हालांकि बहुमत तो मिल गया था, पर एनडीए को 125 सीटें मिली थीं, जो बहुमत के लिए जरूरी आंकड़े से महज 3 सीट ज्यादा थी। इन सबके बीच राजद की ओर से बार-बार यह दावा भी किया जा रहा था कि जेडीयू में टूट होनेवाली है।

बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नीतीश कुमार के विरुद्ध चिराग पासवान काफी आक्रामक थे। दोनों दलों के बीच तल्खी काफी बढ़ गई थी और जेडीयू को कम सीटें मिलने के पीछे चिराग की पार्टी लोजपा का हाथ माना जा रहा है।

ऐसे में बिहार में लोजपा के एकमात्र विधायक राजकुमार सिंह ने नीतीश कुमार को बिहार एनडीए के नेता और खुद के एनडीए में होने की बात कह एक बड़ा संकेत दे दिया है। राजकुमार सिंह ने कहा कि बिहार में एनडीए मतलब नीतीश कुमार और वे नीतीश के साथ हैं।

विधायक राजकुमार सिंह ने कहा कि चिराग पासवान नीतीश कुमार पर जो आरोप लगाते हैं, उसके बारे में मीडिया को चिराग पासवान से ही पूछना चाहिये। हालांकि उन्होंने यह जरूर कहा कि वे जेडीयू में शामिल नहीं हुए हैं।

बता दें कि बिहार में लोक जनशक्ति पार्टी के इकलौते विधायक राजकुमार सिंह सोमवार को एक किताब के विमोचन समारोह में जेडीयू नेता और राज्य सरकार में मंत्री अशोक चौधरी के घर पहुंचे हुए थे।

किताब का विमोचन होने के बाद मीडिया ने घेरा और पूछा कि क्या वे जेडीयू के साथ आ गये हैं? इसके जबाब में लोजपा के विधायक बोले- 'हम एनडीए के साथ हैं। बिहार में एनडीए का मतलब नीतीश कुमार और केंद्र में एनडीए का मतलब नरेंद्र मोदी। हम इन्हीं दोनों के साथ हैं।'

इसके बाद पत्रकारों ने पूछा कि चिराग पासवान नीतीश कुमार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हैं, इसपर आप क्या कहेंगे। लोजपा विधायक ने कहा कि इस बारे में पत्रकार चिराग पासवान से ही पूछें, वे कुछ नहीं बोलेंगे। वे बिहार में नीतीश कुमार को एनडीए का नेता मानते हैं।

वैसे लोक जनशक्ति पार्टी के विधायक ने पुस्तक विमोचन समारोह में शामिल होने पर यह स्पष्टीकरण दिया कि वे अपने व्यक्तिगत रिश्ते के कारण अशोक चौधरी के घर आये थे। चूंकि दिल्ली यूनिवर्सिटी में वे अशोक चौधरी के साथ पढ़े हैं। अशोक चौधरी से उनका कॉलेज के दिनों से रिश्ता रहा है।

Next Story

विविध

Share it