राजनीति

Uttarakhand Breaking News : भाजपा मंत्री यशपाल आर्य की घरवापसी, कांग्रेस बना सकती है दलित CM का चेहरा

Janjwar Desk
11 Oct 2021 5:55 AM GMT
Uttarakhand Breaking News : भाजपा मंत्री यशपाल आर्य की घरवापसी, कांग्रेस बना सकती है दलित CM का चेहरा
x

कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए भाजपा मंत्री यशपाल आर्या की फिर से घरवापसी

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला और प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव की मौजूदगी में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य की घर वापसी हो रही है...

Uttarakhand news, देहरादून ब्यूरो। किसान आंदोलन की तपिश झेल रही भारतीय जनता पार्टी (BJP) के हाथ चुनाव से चार महीने पहले बुरी तरह झुलस गए हैं। सोमवार 11 अक्टूबर को प्रदेश के सबसे बड़े दलित चेहरे व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने एक बार फिर कांग्रेस (Congress) का हाथ थाम लिया है।

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal), रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) और प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव की मौजूदगी में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य की घर वापसी की यह घोषणा हुई है।

कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रणजीत सिंह रावत ने जनज्वार से हुई वार्ता में खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि वह खुद एआईसीसी मुख्यालय दिल्ली पर मौजूद हैं। उत्तराखण्ड के परिवहन मंत्री यशपाल आर्य व उनके विधायक पुत्र संजीव आर्य की घर वापसी होनी है।

बता दें कि हाल ही में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत (Harish Rawat) ने कहा था कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के पद पर किसी दलित को देखना चाहते हैं। रावत ने यह बयान पंजाब कांग्रेस में हुई उथल-पुथल के बाद चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) को मुख्यमंत्री बनाए जाने के बाद दिया था। चन्नी दलित समुदाय से ही आते हैं।

हरीश रावत ने पार्टी परिवर्तन यात्रा (Parivartan Yatra) के दौरान हरिद्वारा जिले के लकसर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि कांग्रेस ने पंजाब में एक दलित को मुख्यमंत्री बनाकर इतिहास रचा है। आजीवन गाय के गोबर से कंडे बनाने वाली महिला के बेटे को मुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस ने न केवल पंजाब बल्कि पूरे उत्तर भारत में इतिहास रचा है।

पंजाब कांग्रेस के एआईसीसी प्रभारी रावत ने कहा कि जब पंजाब के नए मुख्यमंत्री एक संवाददाता सम्मेलन में अपने गरीब परिवार के बारे में बता रहे थे तो हम सबकी आंखों में आंसू आ गए। उन्होंने दलित के बेटे को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को धन्यवाद दिया और कहा कि इतिहास में ऐसे मौके बेहद कम देखने को मिलते हैं जब ऐसी नजीर पेश की गई।

रावत ने कहा था कि मैं भगवान और मां गंगा से प्रार्थना करता हूं कि मुझे मेरे जीते जी एक दलित के बेटे को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के तौर पर देखने का अवसर मिले। हम इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेंगे।

Next Story
Share it