Top
राजनीति

गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस को फिर किया आगाह, चुनाव जीतने के लिए सांगठनिक ढांचा खड़ा करना जरूरी

Janjwar Desk
23 Nov 2020 3:37 AM GMT
गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस को फिर किया आगाह, चुनाव जीतने के लिए सांगठनिक ढांचा खड़ा करना जरूरी
x
गुलाम नबी आजाद ने एक फिर कांग्रेस में ब्लाॅक स्तर से सांगठनिक ढांचा खड़ा करने की जरूरत पर जोर दिया है। उन्होंने कहा है कि इसके बिना हम चुनाव नहीं जीत सकते हैं। ढांचा रहेगा तो कोई भी नेता चलेगा...

जनज्वार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने एक बार फिर कांग्रेस को वहां घर कर गई संस्कृति को लेकर आगाह किया है। गुलाम नबी आजाद ने रविवार को कहा है कि पार्टी के नेता आम जनता से कट गए हैं और संगठन में पांच सितारा संस्कृति घर कर गई है। उन्होंने कहा है कि पार्टी के सांगठनिक ढांचे में व्यापक बदलाव की जरूरत है। गुुलाम नबी आजाद ने कहा कि हमारा सांगठनिक ढांचा टूट गया है और चुनाव जीतने के लिए पहले उसे खड़ा करना होगा।


बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के घटक दल के रूप में कांग्रेस के सबसे खराब प्रदर्शन रहने के बाद पहली बार आजाद ने मीडिया में संगठन को लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि प्रखंड से लेकर जिला और राज्य स्तर तक चुनाव कर पार्टी के ढांचे में आमूल-चूल बदलाव की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कम से कम चुनाव के दौरान पार्टी नेताओं को पांच सितारा संस्कृति छोड़ देना चाहिए।


गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जिला, प्रखंड और राज्य स्तर पर लोगों और कांग्रेस नेताओं में बड़ा फासला है। जनता से पार्टी का जुड़ाव एक सतत प्रक्रिया होनी चाहिए, यह केवल चुनावों के लिए नहीं होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि पार्टी नेताओं को राज्य के नेताओं के साथ क्षेत्र का दौरा करना न चाहिए न कि केवल उन्हें पांच सितारा होटल में रहना चाहिए और फिर लौट जाना चाहिए। गुलाम नबी ने कहा कि नेताओं को प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र की जानकारी होनी चाहिए, सिफ दो-तीन दिन के लिए राज्य जाकर और पांच सितारा होटल में रहकर लौट पैसे की बर्बादी के अलावा कुछ नहीं है।


गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हम सुधारवादी हैं, विद्रोही नहीं। ब्लाॅक, जिला व राज्य स्तर पर चुनाव की वकालत करते हुए उन्होंने कहा कि हम नेतृत्व के खिलाफ नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि पार्टी के लिए एक कार्यक्रम जरूरी है। उन्होंने कहा कि हम कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ पार्टी हित में यह मुद्दा उठा रहे हैं।

गुलाम नबी आजाद कांग्रेस के उन 23 नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने पार्टी में व्यापक बदलाव के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखा था।

Next Story

विविध

Share it