Top
राजनीति

बिहार में का बा का जवाब दिया मोदी ने, फिर से नीतीश कुमार को बनाया मुख्यमंत्री

Janjwar Desk
11 Nov 2020 5:04 PM GMT
बिहार में का बा का जवाब दिया मोदी ने, फिर से नीतीश कुमार को बनाया मुख्यमंत्री
x
बिहार में एनडीए के खाते में बहुमत से ज्यादा कुल 125 सीटें आई हैं। भाजपा को जहां 74, वहीं नीतीश कुमार की जदयू को सिर्फ 43 सीटें ही मिलीं, जदयू की कम सीटें आने पर भाजपा के अंदरखाने से मुख्यमंत्री पद की मांग उठने लगी थी...

नवनीत मिश्र की रिपोर्ट

दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू से भाजपा की ज्यादा सीटें आने के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर सियासी गलियारे में उठीं चर्चाओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान ने विराम दे दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बुधवार 11 नवंबर को भाजपा मुख्यालय पर 'धन्यवाद समारोह' को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए के कार्य करने की बात कही। इससे संकेत साफ हो गए हैं कि मुख्यमंत्री पद को लेकर एनडीए में किसी तरह का कोई पेंच नहीं फंसा है। हालांकि, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृहमंत्री अमित शाह चुनाव के पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि भले ही जदयू की सीटें कम आएं, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही बनेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव नतीजे आने के बाद बुधवार 11 नवंबर को भाजपा मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, "हम सभी भाजपा और एनडीए के कार्यकर्ता, नीतीश कुमार के नेतृत्व में, हर बिहारवासी के साथ, इस संकल्प को सिद्ध करने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे।"

इधर, प्रधानमंत्री मोदी ने नीतीश कुमार के नेतृत्व में भाजपा और एनडीए कार्यकर्ताओं के बिहार के लिए काम करने की बात कही, उधर नतीजों के बाद खामोश चल रहे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी ट्वीट कर अपना संदेश दिया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, "जनता मालिक है। उन्होंने एनडीए को जो बहुमत प्रदान किया, उसके लिए जनता-जनार्दन को नमन है। मैं पीएम नरेंद्र मोदी को उनसे मिल रहे सहयोग के लिए धन्यवाद करता हूं।"

दरअसल, बिहार में एनडीए के खाते में बहुमत से ज्यादा कुल 125 सीटें आई हैं। भाजपा को जहां 74, वहीं नीतीश कुमार की जदयू को सिर्फ 43 सीटें ही मिलीं। जदयू की कम सीटें आने पर भाजपा के अंदरखाने से मुख्यमंत्री पद की मांग उठने लगी। इसकी शुरूआत बिहार भाजपा के एससी मोर्चा अध्यक्ष अजित चौधरी के बयान से हुई। भाजपा का मुख्यमंत्री बनाने के उनके बयान ने सियासी गलियारे में सरगर्मी छेड़ दी।

उधर, मंगलवार 10 नवंबर की सुबह साढ़े चार बजे तक नतीजों के आने के बाद पूरे दिन नीतीश कुमार खामोश रहे, जिस पर सियासी गलियारे में तरह-तरह की चर्चाएं उठने लगीं। लेकिन भाजपा मुख्यालय पर शाम को आयोजित धन्यवाद कार्यक्रम में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीतीश के नेतृत्व में काम करने की बात कहकर उहापोह खत्म की तो उधर से नीतीश ने भी ट्वीट कर जनता को मालिक बताते हुए प्रतिक्रिया जताई। नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री मोदी का आभार भी जताया।

Next Story

विविध

Share it