राजनीति

झारखंड विस में 'नमाज' के लिए आवंटित किया गया कमरा, भाजपा बोली 'हनुमान मंदिर' के लिए भी जगह दो

Janjwar Desk
4 Sep 2021 10:55 AM GMT
झारखंड विस में नमाज के लिए आवंटित किया गया कमरा, भाजपा बोली हनुमान मंदिर के लिए भी जगह दो
x
भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि लोकतंत्र का मंदिर, लोकतंत्र के मंदिर के ही रूप में रहना चाहिए। नमाज के लिए अलग कमरा (झारखंड विधानसभा) आवंटित करना गलत है, हम इस फैसले के खिलाफ हैं.....

जनज्वार। झारखंड विधानसभा की नई बिल्डिंग में स्पीकर ने नमाज अदा करने के लिए एक कमरा आवंटित किया है। विधानसभा सचिवालय के मुताबिक दो सितंबर को एक आदेश के तहत मुस्लिम विधायकों के लिए कमरा संख्या टीडब्ल्यू 348 आवंटित किया गया है ताकि वे वहां नमाज पढ़ सकें। विधानसभा अध्यक्ष के आदेश से उपसचिव नवीन कुमार ने यह आदेश जारी किया है।

वहीं दूसरी भाजपा ने इसकी आड़ में ही विधानसभा परिसर में हनुमान मंदिर बनाने के लिए स्थान आवंटित करने की मांग की है। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और भाजपा नेता सीपी सिंह ने कहा- मैं नमाज के लिे कमरा आवंटित करने के खिलाफ नहीं हूं लेकिन झारखंड विधानसभा परिसर में मंदिर भी बनना चाहिए। मैं यहां तक मांग करता हूं कि वहां हनुमान मंदिर की स्थापना की जाए। अगर स्पीकर ने मंजूरी दी तो हम अपने खर्च पर मंदिर बना सकते हैं।

भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि लोकतंत्र का मंदिर, लोकतंत्र के मंदिर के ही रूप में रहना चाहिए। नमाज के लिए अलग कमरा (झारखंड विधानसभा) आवंटित करना गलत है। हम इस फैसले के खिलाफ हैं।

वहीं दूसरी ओर भाजपा विधायक अनंत ओझा ने ट्वीट कर सवाल उठाया कि ये क्या स्पीकर साहब, अब राज्य की सबसे बड़ी पंचायत भी तुष्टिकरण को पोषित करने की राह पर? झारखंड विधानसभा में नमाज अदा करने के लिए कक्ष। झारखंड की जनता सब देख रही है। सर्वधर्म सम्भाव की मूल आत्मा को कलंकित करने वाला निर्णय।

झारखंड भाजपा प्रवक्ता प्रतुल शाह देव ने अपने ट्वीट में लिखा- जब चौतरफा असफलताओं से घिर जाओ तो ध्यान भटकाने की कोशिश करो। झारखंड के इतिहास में पहली बार विधानसभा भवन में नमाज अदा करने के लिए नमाज भवन बनाया गया। तुष्टिकरण की सारी सीमाएं पार हो गईं। क्या विधानसभा में बहुसंख्यक समाज के लिए मंदिर या प्रार्थना कक्ष की व्यवस्था है?

भाजपा महिला मोर्चा की प्रवक्ता नीतू डबास ने अपने ट्वीट में इसको कट्टरपंथ से जोड़ दिया और लिखा- "इस्लामिक कट्टरपंथ को बढ़ावा देने के लिए झारखंड की JMM-Congress सरकार देश के संविधान की धज्जियां उड़ाकर विधानसभा में "नमाज रूम" बना रही है। वोट आदिवासियों के, वादा आदिवासियों के उत्थान का लेकिन विकास और उत्थान सिर्फ कट्टरपंथ का.. तुष्टिकरण को लालायित कांग्रेस सरकार।"

बता दें कि झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता रवींद्र नाथ महतो इस समय झारखंड विधानसभा के स्पीकर हैं। विधानसभा का मानसून सत्र शुक्रवार तीन सितंबर से शुरू हो गया लेकिन विपक्षी भाजपा सदस्यों के जोरदार हंगामें की वजह सदन की आगे की कार्रवाही नहीं चल सकी।

Next Story

विविध