Top
राजनीति

इलेक्ट्रिक स्कूटर का सहारा लेकर सचिवालय पहुंचीं ममता बनर्जी, पेट्रोल की बढ़ती कीमतों का किया विरोध

Janjwar Desk
25 Feb 2021 8:58 AM GMT
इलेक्ट्रिक स्कूटर का सहारा लेकर सचिवालय पहुंचीं ममता बनर्जी, पेट्रोल की बढ़ती कीमतों का किया विरोध
x
मुख्यमंत्री ने कहा, "केंद्र सरकार हर दिन रसोई गैस और डीजल की कीमतें बढ़ा रही है। यह एक गंभीर विषय है। चुनाव के करीब आने पर केंद्र सरकार केवल कुछ ही दिनों के लिए कीमतों को कम करेगी।"

कोलकाता। पेट्रोलियम उत्पादों (Petrolium Products) की कीमतों में हो रही वृद्धि के खिलाफ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने गुरुवार को अभूतपूर्व ढंग से अपना विरोध जताया। कोलकाता (Kolkata) के निकटवर्ती हावड़ा (Howrah) जिले में स्थित राज्य सचिवालय नबन्ना भवन (State Secretariat Nabanna Bhawan) में अपने कार्यालय तक पहुंचने के लिए उन्होंने इस दिन एक इलेक्ट्रिक स्कूटर का सहारा लिया।

जहां कोलकाता के मेयर और बंगाल के शहरी विकास व नगर मामलों के मंत्री फिरहाद हकीम दक्षिण कोलकाता के हाजरा क्रॉसिंग से नबन्ना तक इस ई-स्कूटर चलाकर गए, वहीं मुख्यमंत्री पीछे की सीट पर बैठी रहीं। दोनों इस दौरान हेलमेट पहने हुए नजर आए और ममता बनर्जी ने स्कूटर पर बैठकर गले में महंगाई का पोस्टर भी लटका रखा था।

मुख्यमंत्री ने कहा, "केंद्र सरकार हर दिन रसोई गैस और डीजल की कीमतें बढ़ा रही है। यह एक गंभीर विषय है। चुनाव के करीब आने पर केंद्र सरकार केवल कुछ ही दिनों के लिए कीमतों को कम करेगी।"

राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने केंद्र के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार पर अपने हमलों को तेज कर दिया है क्योंकि पेट्रोल की कीमतें आम आदमी की जेब पर भारी पड़ रही हैं। गुरुवार को कोलकाता में पेट्रोल की बिक्री 91.20 रुपये प्रति लीटर की दर से हुई, जबकि मुंबई में पेट्रोल की कीमत 97 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गई है।

पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर ममता का यह विरोध प्रदर्शन उस वक्त सामने आया है, जब यहां राज्य विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा अपने पांव जमाने की कोशिश कर रही है।

Next Story

विविध

Share it