राजनीति

'टूलकिट' मामले में दिशा रवि की गिरफ्तारी पर विपक्ष का निशाना, राहुल गांधी बोले- भारत को चुप नहीं कराया जा सकता

Janjwar Desk
15 Feb 2021 7:31 AM GMT
टूलकिट मामले में दिशा रवि की गिरफ्तारी पर विपक्ष का निशाना, राहुल गांधी बोले- भारत को चुप नहीं कराया जा सकता
x
कांग्रेस के राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, पी चिंदबरम ने प्रतिक्रियाएं दी हैं, वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी विरोध प्रकट किया है..

जनज्वार। टूलकिट मामले में पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि की बैंगलुरु से गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने इसे लोकतंत्र पर हमला बताते हुए कहा है कि लोकतंत्र में किसी आवाज को बंद नहीं कराया जा सकता। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष व सांसद राहुल गांधी, प्रियंका गांधी व पूर्व वित्तमंत्री पी चिंदबरम ने ट्वीट कर प्रतिक्रियाएं दी हैं।

जहां पी चिदंबरम ने सवाल उठाया है कि क्या किसानों के समर्थन वाली टूलकिट भारतीय सीमा में चीनी घुसपैठ से ज्यादा खतरनाक है? वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, शशि थरूर और दिल्ली के मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने भी दिशा की गिरफ्तारी को लेकर प्रतिक्रिया दी है।


राहुल गांधी ने जलवायु कार्यकर्ता की टूलकिट मामले में हुई गिरफ्तारी का विरोध करते हुए कहा कि भारत को चुप नहीं कराया जा सकता है। उन्होंने लिखा, 'बोल कि लब आजाद हैं तेरे, बोल कि सच जिंदा है अब तक। वो डरे हैं, देश नहीं। भारत को चुप नहीं कराया जा सकता।'

वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने सोमवार को ट्वीट कर लिखा, 'डरते हैं बंदूकों वाले एक निहत्थी लड़की से, फैले हैं हिम्मत के उजाले एक निहत्थी लड़की से।'


कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने चीनी घुसपैठ की चर्चा करते हुए ट्वीट किया है। ट्वीट में उन्होंने कहा, 'यदि माउंट कार्मेल कॉलेज की 22 वर्षीया छात्रा और जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि देश के लिए खतरा बन गई है, तो भारत बहुत ही कमजोर बुनियाद पर खड़ा है। चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की तुलना में किसानों के विरोध का समर्थन करने के लिए लाया गया एक टूलकिट अधिक खतरनाक है।'


एक और ट्वीट कर उन्होंने लिखा 'भारत बेतुका रंगमंच बन रहा है और यह दुखद है कि दिल्ली पुलिस उत्पीड़कों का औजार बन गई है। मैं दिशा रवि की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करता हूं और सभी छात्रों और युवाओं से आग्रह करता हूं कि वे निरंकुश शासन के खिलाफ आवाज उठाएं।'

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरावील ने दिशा रवि की गिरफ्तारी को लेकर कहा, '21 साल की दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला है। हमारे किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नहीं है।'


रविवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा बेंगलुरु से 21 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को गिरफ्तार किया गया था। स्पेशल सेल के अधिकारियों के मुताबिक दिशा रवि केस की एक कड़ी हैं। दिल्ली पुलिस गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा, लाल किला मामला के साथ टूलकिट मामले की भी जांच कर रही है।

दिशा पर आरोप है कि उन्होंने टूलकिट में कुछ चीजें एडिट की और फिर उसमें कुछ चीजें जोड़ी थीं और आगे बढ़ाया था। बताया गया कि स्पेशल सेल दिशा को रिमांड पर लेकर आगे की पूछताछ कर सकती है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि अभी इस केस में कई और गिरफ्तारियां हो सकती हैं।


Next Story
Share it