Top
राष्ट्रीय

बिहार में युवती ने कोरोना पीड़ित मां के साथ रेप का लगाया था आरोप, हुई मौत तो बेटी ने कहा बंद करो अस्पताल

Janjwar Desk
20 May 2021 5:36 AM GMT
बिहार में युवती ने कोरोना पीड़ित मां के साथ रेप का लगाया था आरोप, हुई मौत तो बेटी ने कहा बंद करो अस्पताल
x

मां की लाश पर बिलख-बिलखकर रोती युवती ने कहा जहां मेरी मां के साथ हुई दरिंदगी उस अस्पताल को करो बंद

हॉस्पिटल के आईसीयू के अंदर स्टाफ के लोगों पर बेटी ने अपनी मां के साथ हाथ-पैर रस्सी से बांधकर अमानवीय व्यवहार व रेप करने का गंभीर आरोप लगाया था...

जनज्वार ब्यूरो। पटना के पारस हॉस्पिटल में इलाजरत कोरोना पीड़ित 45 वर्षीय महिला की मौत हो गई है। पीड़िता की बेटी ने सोमवार को अस्पताल के स्टाफ पर अपनी मां के साथ बलात्कार करने का गंभीर आरोप लगाया था। पिछले 2 दिनों से महिला को वेंटिलेटर पर रखा गया था। मां की मौत की खबर मिलने के बाद से बेटी का बुरा हाल है। मृतक महिला आंगनवाड़ी सेविका थी।

महिला के कोरोना संक्रमित पाये जाने पर बेहतर इलाज के लिए पारस हॉस्पिटल में 15 मई को एडमिट कराया गया था। सोमवार को 2 वीडियो और 1 ऑडियो सामने आए थे। जिसमें हॉस्पिटल के आईसीयू के अंदर स्टाफ के लोगों पर बेटी ने अपनी मां के साथ हाथ-पैर रस्सी से बांधकर अमानवीय व्यवहार व रेप करने का गंभीर आरोप लगाया था। इसके संबंध में पीड़िता के बयान के साथ वीडियो भी वायरल हुआ था।

मंगलवार को मृतका की बेटी ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि वह चाहती है कि किसी तरह से उसकी मां ठीक हो जाए उसके बाद सारे सवालों का जवाब उसकी मां खुद देगी। लेकिन अब महिला की मौत के बाद कई सारे राज दब गये हैं।

बुधवार को महिला की मौत के बाद शास्त्री नगर थाना की पुलिस ने बेटी का लिखित बयान लिया है। बेटी के आरोप पर जिला प्रशासन की तरफ से मजिस्ट्रेट को प्रतिनियुक्त किया गया है जो अपने स्तर से जांच करेंगे। पुलिस की जांच भी जारी रहेगी इसके बाद ही आगे कोई कार्यवाही होगी।


मामले पर पूर्व सांसद पप्पू यादव ने आरोपियों पर 302 का मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है

जेल में बंद पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने ट्विटर पर लिखा है- जो आशंका जताई थी वही हुआ सीएम साहब के गांव की उस माँ को पारस हॉस्पिटल में मार दिया गया। जिसका ऑक्सीजन लेवल 89 था, लंग्स भी बहुत कम संक्रमित थे। उन्हें वेंटिलेटर पर चढ़ाना संकेत था कि रेप के महापाप को छुपाने के लिए उनकी जान ले ली जाएगी। सब पर 302 का मुकदमा हो। सरकार इस केस को टेक ओवर करे।

फ्रीलांसर पत्रकार रोहिन वर्मा ने थाना इंचार्ज पर जवाब न देने का आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा है- पटना शास्त्री नगर थाने के इंचार्ज ने आज शाम मुझे डांटते हुए कहा, "बलात्कार नहीं हुआ है. बलात्कार मत कहिए."

मैंने पूछा, "केस क्यों नहीं दर्ज़ हुआ है अब तक? महिला का बयान क्यों नहीं लिया गया? जबकि उनका तो वीडियो भी है पब्लिक में?"

थाना इंचार्ज ने फोन काट दिया।

राजद के राज्य कार्यकारिणी के सदस्य जयंत जिज्ञासु ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा है- जो आशंका थी, वही हुआ। पटना के पारस अस्पताल मे जिस इलाजरत महिला के साथ आईसीयू वार्ड मे गैंगरेप की खबर उनकी बेटी के ज़रिए बाहर आई, अब वह माँ नही रहीं! उनकी जान ले ली गई, इसकी जाँच हो!बहुत बड़े लम्पट और उचक्के हो आप नीतीश कुमार! आपको हत्यारा क्यूँ न कहा जाए! लफंगा और क़ातिल एक साथ!

Next Story

विविध

Share it