Top
राजनीति

मुख्यमंत्री योगी ने भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज के SSP अभिषेक दीक्षित को किया सस्पेंड

Janjwar Desk
8 Sep 2020 1:18 PM GMT
मुख्यमंत्री योगी ने भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज के SSP अभिषेक दीक्षित को किया सस्पेंड
x

लखनऊ। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज मंगलवार 8 सितंबर को प्रयागराज के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को सस्पेंड कर दिया। मुख्यमंत्री ने उनके खिलाफ भ्रष्टाचार और कानून-व्यवस्था लागू नहीं कर पाने के आरोप को देखते हुए यह कदम उठाया है। उन्हें अब डीजीपी मुख्यालय, लखनऊ भेज दिया गया है।

दीक्षित को हाल ही में 16 जून को प्रयागराज का एसएसपी बनाया गया था। उन्हें सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज के स्थान पर एसएसपी बनाया गया था।

गृह विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि यह निर्णय अधिकारी के खिलाफ पुलिस ट्रांसफर और पोस्टिंग में भ्रष्टाचार के कई आरोपों की वजह से लिया गया है। दीक्षित पर जिले में कानून-व्यवस्था लागू नहीं करने का भी आरोप था।

दीक्षित पर उत्तर प्रदेश पुलिस मुख्यालय के आदेश की अवहेलना का भी आरोप था।

गृह विभाग के बयान के मुताबिक, अभिषेक दीक्षित पर पोस्टिंग में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगा था। इसके अलावा कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना कराने और 3 महीने में विवेचनाओं के लंबित होने के मामले में भी उनकी कार्रवाई पर सवाल उठे थे। ऐसे में सीएम ने जानकारी मिलने के बाद उन्हें निलंबित कर दिया।

गौरतलब है कि अभिषेक दीक्षित को बीते दिनों सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज के स्थान पर प्रयागराज का एसएसपी बनाया गया था। सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को भी पद से हटाया गया था। सरकार की दलील थी कि सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को कोरोना के संक्रमण के कारण पदमुक्त कर प्रतीक्षा सूची में डाला गया है।

हालांकि उस दौरान प्रतियोगी छात्रों और विपक्षी दलों ने यह दलील दी थी कि सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने शिक्षक भर्ती कांड का खुलासा किया था, जिसके बाद उन्हें प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया था।

Next Story
Share it