राजनीति

RRB NTPC भर्ती परीक्षा में छात्रों ने धांधली का लगाया आरोप, विरोधी दलों ने की जांच की मांग, 500 के खिलाफ FIR

Janjwar Desk
25 Jan 2022 3:17 AM GMT
RRB NTPC भर्ती परीक्षा में छात्रों ने धांधली का लगाया आरोप, विरोधी दलों ने की जांच की मांग, 500 के खिलाफ FIR
x

छात्रों ने आरआरबी एनटीपीसी भर्ती परीक्षा में धांधली का आरोप लगाया। नोटिफिकेशन वापस लेने की मांग की। 

RRB NTPC Result 2021 : बिहार में रेलवे भर्ती बोर्ड की गैर-तकनीकी श्रेणियों की परीक्षा 2021 में शामिल हुए छात्रों ने पटना और आरा रेलवे स्टेशन पर धरना प्रदर्शन किया।

RRB NTPC Result 2021 : आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा के परिणाम जारी होने के बाद उम्मीदवारों ने जमकर हंगामा किया। नाराज छात्रों ने भर्ती परीक्षा में धांधली ( Fraud ) का आरोप लगाया है। आरआरबी एनटीपीसी का परिणाम ( RRB NTPC Result ) जारी होते ही छात्रों ने उसमें संशोधन की मांग की और पटना ( Patna ) के राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन पर पहुंचकर हंगामा किया। हंगामे की वजह से 8 घंटे तक पटना-हावड़ा रेल लाइन पर ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहा। प्रदर्शन की वजह से कई ट्रेनें देरी से पहुंची। बता दें कि RRB NTPC परीक्षा 2021 के रिजल्ट का इंतजार उम्मीदवार काफी लंबे समय से कर रहे थे।

विरोधी दलों के नेताओं ने जांच की मांग की

आरआरबी एनटीपीसी भर्ती परीक्षा ( RRB NTPC Result 2021 ) में धांधली का मामला सामने आने के बाद वामपंथी सहित विरोधी दलों के नेताओं ने छात्रों का समर्थन किया है। साथ ही इस मामले में जांच की मांग की है। निष्पक्ष जांच न होने पर विरोधी दलों ने इसके खिलाफ मोर्चा खोलने की भी चेतावनी दी है। पप्पू यादव ने कहा कि छात्रों के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं करेंगे। सरकार इस मामले में जांच कराए और छात्रों के साथ न्याय करे।

500 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ केस दर्ज

आरपीएफ और बिहार पुलिस ने सोमवार शाम प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले भी दागे। वहीं इस मामले में पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है और अब 500 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

आरा में छात्रों ने की नोटिफिकेशन वापस लेने की मांग

वहीं आरआरबी एनटीपीसी रेलवे ग्रुप-डी की परीक्षा में बदलाव सहित कई मांगों को लेकर आरा में भी भारी संख्या में छात्र रेलवे ट्रैक पर उतरे और रेलवे परिचालन को पूरी तरह बाधित कर दिया। छात्रों ने कहा कि रेलवे के नए निर्णय से हमलोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

छात्रों का कहना है कि फरवरी 2019 को फार्म भरा गया था। रेलवे की तरफ से सितम्बर 2019 में परीक्षा कराने की बात कही गई थी। लेकिन निर्धारित समय पर परीक्षा नहीं लिया गया। डिपार्टमेंट ने दिसम्बर 2021 में कहा कि CBT की परीक्षा 23 फरवरी 2022 से शुरू होगी। अचानक रेलवे के तरफ से आज नोटिस जारी किया गया कि ग्रुप-डी की एक परीक्षा ( CBT ) नहीं, बल्कि दो परीक्षा (CBT) लेने का निर्णय लिया गया है। यह निर्णय छात्र हित में नहीं है। नाराज छात्रों का आरोप है कि एग्जाम में पहले ही देरी हो चुकी है। अब दो परीक्षा होने से और दो-तीन साल लग जाएंगे। दूसरे छात्र ने कहा कि NTPC की परीक्षा दिसम्बर 2020 से अप्रैल 21 में हुई थी। बोर्ड ने कहा था कि पीटी परीक्षा का रिजल्ट 20 गुना ज्यादा देंगे। नोटिफिकेशन के आधार पर बोर्ड अपने वादे पर खड़ा नहीं उतरा। छात्रों की मांग है कि ग्रुप-डी का नोटिफिकेशन वापस लें और एनटीपीसी रिजल्ट को संशोधित करें।

प्रदर्शनकारी छात्रों ने लगाया धांधली का आरोप

RRB NTPC Result 2021 : रेलवे की घोषित परीक्षा परिणाम में नाराज प्रदर्शनकारी छात्रों ने आरोप लगाया है कि आरआरबी एनटीपीसी परिणाम में धांधली हुई है। नाराज छात्र आरा रेलवे स्टेशन पर सोमवार को जम गए। साथ ही राजेंद्र नगर टर्मिनल पर भी छात्रों ने पांच से छह घंटे तक रेलवे ट्रैक पर जाम लगा राजेंद्र नगर जंक्शन पर हंगाम किया। छात्रों के हंगामे की वजह से राजेंद्र नगर टर्मिनल से चलने वाली तेजस राजधानी, संपूर्ण क्रांति दिल्ली के लिए रवाना नहीं हो पाई। नाराज प्रदर्शनकारी उम्मीदवारों को रेल और पुलिस प्रशासन ने लगातार समझाने की कोशिश की। प्रदर्शनकारी उम्मीदवारों के हंगामे की वजह से स्टेशन के दोनों दिशा की तरफ जाने वाले दर्जनों ट्रेनें एक जगह पर ही खड़ी रहीं।

रेल मंत्रालय ने पेश की सफाई

दूसरी तरफ छात्रों द्वारा विरोध जताने पर रेल मंत्रालय की ओर से जारी स्पष्टीकरण में कहा गया है कि यह कहीं भी उल्लेख नहीं किया गया था कि दूसरे चरण की कंप्यूटर आधारित परीक्षा ( सीबीटी 2 ) के लिए सात लाख अलग-अलग उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा। बयान में कहा गया है कि दूसरे चरण में पांच अलग-अलग स्तरों की कंप्यूटर आधारित परीक्षा ( सीबीटी ) होती है। इसमें एक उम्मीदवार को पात्रता, योग्यता और विकल्प के अमुताबिक एक से अधिक स्तरों के लिए चयनित किया जा सकता है। इसलिए 7 लाख रोल नंबरों की सूची में कुछ नाम एक से अधिक सूची में शामिल है।

ये है पूरा मामला

RRB NTPC Result 2021 : दरअसल, आरआरबी ने 13 पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित की थी। इसके नतीजों में बोर्ड द्वारा कई पदों के लिए एक ही उम्मीदवार का चयन कर लिया गया है। ऐसी परिस्थिति में एक उम्मीदवार की वजह से दो से तीन छात्र दौड़ से बाहर हो गए और चयन से वंचित रह गए। इस बात को लेकर छात्रों में असंतोष है।

Next Story

विविध