राजनीति

10 लाख करोड़ बट्टे खाते में डालने पर वरुण गांधी का पीएम मोदी से सवाल, सरकारी खजाने पर पहला हक किसका

Janjwar Desk
6 Aug 2022 10:41 AM GMT
10 लाख करोड़ बट्टे खाते में डालने पर वरुण गांधी का पीएम मोदी से सवाल, सरकारी खजाने पर पहला हक किसका
x

10 लाख करोड़ बट्टे खाते में डालने पर वरुण गांधी का पीएम मोदी से सवाल, सरकारी खजाने पर पहला हक किसका

गजब! जो सदन गरीब को 5 किलो राशन दिए जाने पर धन्यवाद की आकांक्षा रखता है वही सदन बताता है कि 5 वर्षों में भ्रष्ट धनपशुओं का 10 लाख करोड़ तक का लोन माफ हुआ है।

नई दिल्ली। सरकारी खजाने से 10 लाख करोड़ रुपए बट्टे खाते ( NPA ) में डालने और जनता की कमाई को डकारने वालों की सहायता करने वालों के खिलाफ राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) के बाद अब भाजपा सांसद वरुण गांधी ( Varun Gandhi ) ने मोदी सरकार ( Modi Government ) जोरदार हमला बोला है। उन्होंने ऋषि अग्रवाल और मेहुल चोकसी सहित पूंजीपति मित्रों का नाम लेते हुए सीधे पीएम की नीयत पर सवाल उठा दिया है। वरुण गांधी ने बिना नाम लिए भाजपा सांसद निशिकांत दुबे को भी इसके दायरे में लपेट लिया है।

भाजपा सांसद वरुण गांधी ( Varun Gandhi ) ने अपनी ही पार्टी की सरकार और नेतृत्व से पूछा है कि सरकारी खजाने पर पहला हक किसका है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा - जो सदन गरीब को 5 किलो राशन दिए जाने पर धन्यवाद की आकांक्षा रखता है। वही सदन बताता है कि 5 वर्षों में भ्रष्ट धनपशुओं का 10 लाख करोड़ तक का लोन माफ हुआ है। मुफ्त की रेवड़ी लेने वालों में मेहुल चोकसी और ऋषि अग्रवाल का नाम शीर्ष पर है। सरकारी खजाने पर आखिर पहला हक किसका है। क्या सरकार इसका जवाब देगी।

दोस्तों पर फ्री रेवड़ी उड़ाना मां भारती से गद्दारी

भाजपा सांसद वरुण गांधी ही नहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( Arvind Kejriwal ) ने भी नई आबकारी नीति पर घमासान के बीच पूंजीपतियों को लाखों करोड़ माफ करने पर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि देश के बच्चों को फ़्री शिक्षा देना और हर भारतवासी के लिए फ्री इलाज का इंतज़ाम करना देशभक्ति है, पुण्य है, धर्म है, राष्ट्र निर्माण है। अपने दोस्तों पर फ्री की रेवड़ी उड़ाना मां भारती के साथ ग़द्दारी है।

केजरीवाल गद्दारी की बात न करे तो अच्छा

इसके जवाब में भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने अपने ट्वीट में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल हमला बोला है। उन्होंने लिखा है कि लोन रिटर्न ऑफ करना माफी नही होता। फर्जी आईआरएस ऑफिसर। बाकी सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वाला, बटला हाउस एंकाउंटर को फर्जी कहने वाला, भारतीय सेना को रेपिस्ट कहने वालों का स्वागत करने वाला, ग़द्दारी की बात न ही करे तो अच्छा है।

Write Off Loan : बता दें कि 31 जुलाई को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे सवालों का लिखित में जवाब देते हुए केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री भागवत कराड ने बताया था कि देश के बैंकों ने पिछले 5 सालों में 10 लाख करोड़ रुपए का ऋण बट्टे खाते में डाल दिया। वित्त मंत्री ने बताया कि मार्च 2022 तक शीर्ष 25 लोगों में गीतांजलि जेम्स लिमिटेड इस सूची में सबसे ऊपर है। गीतांजलि जेम्स फरार हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी की कंपनी है।

Next Story

विविध