Top
समाज

किसान आंदोलन : पाॅपस्टार रिहाना के बाद मिया खलीफा बोलीं कौन से मानवाधिकारों का हो रहा उल्लंघन

Janjwar Desk
3 Feb 2021 10:27 AM GMT
किसान आंदोलन : पाॅपस्टार रिहाना के बाद मिया खलीफा बोलीं कौन से मानवाधिकारों का हो रहा उल्लंघन
x

जनज्वार। पिछले 2 महीने से कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को न सिर्फ राष्ट्रीय बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी समर्थन मिलना शुरू हो गया है। ख्यात पॉपस्टार रिहाना के बाद अब मिया खलीफा ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए ट्वीट किया है, 'कौन सा मानवाधिकार उल्लंघन हो रहा है कि उन्होंने नई दिल्ली के आसपास इंटरनेट काट दिया?'

मिया खलीफा का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। गौरतलब है कि इससे पहले पाॅपस्टार रिहाना और ग्रेटा थनबर्ग किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट कर चुकी है। रिहाना के अलावा मिया खलीफा आज ट्विटर पर टाॅप ट्रेंड में बनी हुई हैं। मिया खलीफा ने अपने ट्वीट के साथ एक फोटो भी शेयर की है, जिसमें प्रदर्शनकारियों के हाथों में एक पोस्टर हैए जिसमें लिखा है, 'किसानों को मारना बंद करो।'

मंगलवार 2 फरवरी को पूर्व पोर्नस्टार रिहाना ने किसान आंदोलन से जुड़ी एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट किया था, 'हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?

दूसरी तरफ मानवाधिकार कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया था, 'हम भारत में चल रहे किसान आंदोलन के साथ मजबूती से खड़े हैं।'

हालांकि रिहाना के ट्वीट पर हमेशा की तरह बाॅलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत एक बार फिर भड़क गयी है। कंगना ने रिहाना को मूर्ख करार देते हुए कहा था कि हम इस पर चर्चा इसलिए नहीं कर रहे हैं क्योंकि आंदोलन करने वाले लोग किसान नहीं हैं, बल्कि आतंकवादी हैं।

कंगना रनौत ने लिखा था, 'कोई भी बात इसलिए नहीं कर रहा है क्योंकि ये किसान नहीं, आतंकवादी हैं। जो भारत को बांटना चाहते हैं ताकि चीन हमारे देश पर कब्जा कर ले और यूएसए जैसी चाइनीज कॉलोनी बना दे। शांति से बैठो बेवकूफ। हम तुम्हारे जैसे मूर्ख नहीं है जो अपने देश को बेच दें।'

दूसरी तरफ बाॅलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर और ऋचा चड्ढा ने कंगना को मुंहतोड़ जवाब दिया है और अभिनेता दिलजीत दोसांझ ने तो रिहाना की तस्वीर इंस्टाग्राम स्टोरी पर भी शेयर की है। गौरतलब है कि पंजाबी अभिनेता दिलजीत दोसांझ किसान आंदोलन को लेकर शुरू से खासे सक्रिय रहे हैं। वह सिंघू बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे किसानों को संबोधित करने गए थे और उन्हें एक करोड़ रुपये डोनेट भी किया था।

Next Story

विविध

Share it