समाज

लखनऊ में KTL कर्मचारियों की गुंडई, गाड़ी खड़ी करने के विवाद में डॉक्टर दंपती को घर में घुसकर किया लहूलुहान

Janjwar Desk
30 Aug 2021 7:30 AM GMT
लखनऊ में KTL कर्मचारियों की गुंडई, गाड़ी खड़ी करने के विवाद में डॉक्टर दंपती को घर में घुसकर किया लहूलुहान
x

KTL कर्मचारियों की गुंडई का शिकार डॉ. राजेश सिंह (photo/janjwar)

घर से लगभग 50-60 गज की दूरी पर मीनाक्षी ने देखा की राहुल टंडन उसके पति को बुरी तरह पीट रहे हैं। इस बीच मीनाक्षी व उनके बेटे ने राजेश को बचाने की कोशिश की तो राहुल व उनके साथ के अन्य लोग मीनाक्षी व उनके बेटे पर हावी हो गये...

जनज्वार, लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के थाना गाजीपुर में केटीएल कर्मचारियों की गुंडई का मामला सामने आया है। यहां गाड़ी खड़ी करने को लेकर हुए विवाद के बाद डॉक्टर के घर में घुसकर केटीएल कर्मचारियों ने परिवार के साथ मारपीट की। आरोप है, जब डॉक्टर ने थाना गाजीपुर में इसकी शिकायत की तो पुलिस ने उनपर जबरन दबाव बनाकर समझौता करवा दिया।

मामला शनिवार 28 अगस्त का है। लखनऊ के इंदिरा नगर स्थित थाना गाजीपुर (Ghazipur) में 54 वर्षीय डॉक्टर राजेश सिंह, परिवार के साथ रहते हैं। पीड़ित की पत्नी मीनाक्षी सिंह द्वारा दिए गये प्रार्थना पत्र के मुताबिक, डॉ. राजेश सुबह 10 से 45 पर घर से निकले थे। इसी समय उनके घर में कार्य करने वाली सहायिका दौड़ते हुए आई और बताया कि, 'भइया को कुछ लोग मार रहे हैं।'

इसके बाद मीनाक्षी लगभग दौड़ते हुए वहां पहुँची। घर से लगभग 50-60 गज की दूरी पर मीनाक्षी ने देखा की राहुल टंडन उसके पति को बुरी तरह पीट रहे हैं। इस बीच मीनाक्षी व उनके बेटे ने राजेश को बचाने की कोशिश की तो राहुल व उनके साथ के अन्य लोग मीनाक्षी व उनके बेटे पर हावी हो गये। पत्र के मुताबिक वहां से गुजर रहे कुछ राहगीरों ने मीनाक्षी को बचाया।

इन धाराओं में दर्ज हुआ है मुकदमा

मामले के बाद सभी अपने घर आ गये। रात तकरीबन 11 बजे डॉ. राजेश (Dr. Rajesh) के घर में 20 से 25 लोग घुस गये। घर में घुसे लोगों ने सभी से अभद्रता करते हुए मारपीट की। डॉ राजेश की बेटी ने किसी तरह पुलिस को फोन किया। पुलिस घर के बाहर पहुँची तो सभी जान से मार देने की धमकी देते हुए भाग गये। इस घटना के् बाद पुलिस डॉ. राजेश, राहुल टंडन सहित केटीएल के दो से तीन कर्मचारियों को थाने ले गई।

आरोप है कि, थाना गाजीपुर पुलिस ने डॉ. राजोश को प्रेशराइज्ड करते हुए जबरन सुलहनामा करवा दिया। जिसके बाद डॉ. राजेश की पत्नी ने पुलिस में तहरीर दी है। मीनाक्षी से मिली तहरीर के बाद पुलिस ने एफआईआर संख्या 450/2021 के तहत धारा 147/323/504/ व 452 ipc में राहुल टंडन सहित 20 से 25 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

राहुल टंडन व उसके गुंडों के खिलाफ दर्ज FIR

इस मामले में थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने जनज्वार से हुई बातचीत में बताया कि, हमने अभी डॉ. राजेश कुमार को बयान दर्ज करने के लिए बुलाया है। ये किसी का नाम नहीं बता रहे हैं। बाकी जिन भी आरोपियों के नाम हैं एफआईआर में उनकी खोजबीन की जा रही है। जल्द ही गिरफ्तार कर उचित विधिक कार्रवाई की जाएगी।

वहीं इस पूरे मसले पर डॉ. राजेश सिंह ने जनज्वार को बताया कि, राहुल टंडन जो केटीएल में काम करता है, ने अपने 20 से 25 साथियों को बुलाकर मुझे बुरी तरह पीटा है। मैं राहुल को छोड़कर बाकी किसी अन्य को नहीं जानता। राहुल यहां रहता है, इस कारण उसे जानते हैं बाकी जो भी लोग थे उन्हे उनने पहली बार यहां देखा था। जो राहुल टंडन के कहने पर मुझे व मेरे परिवार को पीट रहे थे।

Next Story

विविध