समाज

मुस्लिम बुजुर्ग की दाढ़ी काटने का मामला: गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर, अल्ट न्यूज, राणा अयूब समेत 9 के खिलाफ दर्ज की FIR

Janjwar Desk
16 Jun 2021 8:12 AM GMT
मुस्लिम बुजुर्ग की दाढ़ी काटने का मामला: गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर, अल्ट न्यूज, राणा अयूब समेत 9 के खिलाफ दर्ज की FIR
x

(सोमवार 14 जून को गाजियाबाद से एक बुजुर्ग का वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में दिख रहा है कि बुजुर्ग शख्स मारने वालों के आगे हाथ जोड़ रहा है लेकिन वो उसकी नहीं सुन रहे। आरोपी, बुजुर्ग की पिटाई करते जा रहे हैं।)

पुलिस के मुताबिक अब्दुल समद तावीज बनाने का काम करता है, उसके दिए गए तावीज से उनके परिवार पर उल्टा असर हुआ। इस वजह से उन्होंने यह कृत्य किया। पुलिस के मुताबिक अब्दुल समद और प्रवेश, आदिल, कल्लू वगैरह लड़के एक दूसरे को पहले से ही जानते थे क्योंकि अब्दुल समद के ज़रिए गांव में कई लोगों को तावीज दिए गए थे.....

जनज्वार डेस्क। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक बुजुर्ग मुस्लिम की कथित तौर पर जबरन दाढ़ी काटने और पिटाई करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस बीच पुलिस ने इस मामले में मुख्यारोपी परवेश गुज्जर और दो अन्य कल्लू व आदिल की 14 जून को गिरफ्तारी की जा चुकी है। वहीं पुलिस ने दूसरी ओर माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर और फैक्टर चेकर साइट अल्ट न्यूज के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।

गाजियाबाद पुलिस ने इसके अलावा कथित तौर पर भ्रामक खबरें फैलान और धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में पत्रकार राणा अयूब, जुबेर अहमद, सलमान निजामी, मसकूर उस्मानी, डॉ. समा मोहम्मद, सब नकवी समेत नौ के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

पुलिस इस मामले में धार्मिक भावनाएं आहत करने की धारा लगाई है। पुलिस ने आईपीसी की धारा 153,153A,295A,505,120B और 34 के तहत केस दर्ज किया है। लोनी बॉर्डर थाने में सब इंस्पेक्टर नरेश सिंह ने यह एफआईआर दर्ज कराई है।

बीते सोमवार 14 जून को गाजियाबाद से एक बुजुर्ग का वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में दिख रहा है कि बुजुर्ग शख्स मारने वालों के आगे हाथ जोड़ रहा है लेकिन वो उसकी नहीं सुन रहे। आरोपी, बुजुर्ग की पिटाई करते जा रहे हैं। घटना का वीडियो वायरल हुआ तो अगले दिन मंगलवार को पीड़ित का एक और वीडियो ट्विटर पर ट्रेंड कर गया। इसमें आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने पीड़ित से धर्म विशेष के नारे लगवाए। इसे माहौल बिगाड़ने की साजिश मानते हुए पुलिस ने वीडियो वायरल करने वालों पर कार्रवाई शुरू कर दी।

गाजियाबाद पुलिस ने इस घटना को लेकर अपने ट्विटर हैंडल से लिखा कि सोशल मीडिया पर बुजुर्ग के साथ मारपीट और अभद्रता के वायरल वीडियो के संबंध में जांच करने पर पाया कि पीड़ित अब्दुल समद 5 जून को बुलंदशहर से बेहटा, लोनी बॉर्डर आया था। जहां से एक दूसरे शख्स के साथ अहम मुल्ज़िम परवेश गुज्जर के घर बंथला, लोनी गया था। पुलिस ने आगे बताया कि परवेश के घर पर कुछ वक्त में बाकी लड़के कल्लू, पोली, आरिफ, आदिल और मुशाहिद वगैरह आ गए और परवेश के साथ मिलकर बुजुर्ग से मारपीट शुरू कर दी।

पुलिस के मुताबिक अब्दुल समद तावीज बनाने का काम करता है, उसके दिए गए तावीज से उनके परिवार पर उल्टा असर हुआ। इस वजह से उन्होंने यह कृत्य किया। पुलिस के मुताबिक अब्दुल समद और प्रवेश, आदिल, कल्लू वगैरह लड़के एक दूसरे को पहले से ही जानते थे क्योंकि अब्दुल समद के ज़रिए गांव में कई लोगों को तावीज दिए गए थे।

Next Story

विविध

Share it