Top
समाज

कानपुर में BJP विधायक के होटल में गैंगरेप, पुलिस ने की रिपोर्ट दर्ज करने में आनाकानी तो पीड़िता पहुंची रेलवे क्रॉसिंग पर जान देने

Janjwar Desk
8 Oct 2020 8:58 AM GMT
कानपुर में BJP विधायक के होटल में गैंगरेप, पुलिस ने की रिपोर्ट दर्ज करने में आनाकानी तो पीड़िता पहुंची रेलवे क्रॉसिंग पर जान देने
x

भाजपा विधायक के इसी गेस्ट हाउस में बलात्कार का मामला आया है सामने

जहां हुआ लड़की से बलात्कार वह गेस्ट हाउस है विधायक अजीत पाल का, अजीत पाल मौजूदा समय सिकन्दरा से भाजपा की टिकट पर 2017 से विधायक हैं, इस गेस्ट हाउस में बने कमरों का भी बिना किसी आईडी के ही दे देने का मामला आया है सामने...

जनज्वार, कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में जन्मदिन पार्टी के बहाने होटल में बुलाकर युवती से दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। मामले में गौरेकाबिल बात यह है कि युवती को उसकी ही सहेली अपने भाई का जन्मदिन होने की बात कहकर लाई थी। पुलिस ने सहेली और दो युवकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। खबर लिखे जाने तक प्राप्त सूचना के मुताबिक पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल कल्याणपुर में रहने वाली युवती दिल्ली की एक हेल्थ केयर कंपनी में काम करती थी। लगभग एक साल पहले मां की बीमारी के चलते कानपुर लौट आई थी। युवती ने बताया कि इलाके की रहने वाली उसकी सहेली मोनिका मंगलवार 6 अक्टूबर की सुबह उसके पास आई। उसने अपने भाई आशीष की जन्मदिन पार्टी में शामिल होने के लिए उसे भी सचान चौराहा स्थित सोना मेन्शन होटल लेकर पहुंची। लड़की के पहुँचने पर वहाँ आशीष और एक अन्य लड़का अभिषेक पहले से ही मौजूद थे। यहाँ बड्डे पार्टी के तौर पर सभी ने बीयर पी।

बीयर पीने के बाद लड़की अचेत हो गई। बीयर में कोई नशीला पदार्थ होने के चलते वह बेहोश हो गई। लड़की को बियर की यह कैन अभिषेक ने ही दी थी, जिसे पीकर वह अचेत हो गई थी। जब उसे होश आया तो पता चला कि उसके साथ दुष्कर्म हुआ है। इसके बाद मोनिका उसे पुलिस के आने की बात कहकर घर ले आई। शाम करीब आठ बजे जब वह बेहोशी की हालत में घर पहुंची तो घर वालों ने भगा दिया, जिसके बाद युवती ने थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। एसएचओ थाना बर्रा हरमीत सिंह ने बताया कि आरोपियों की तलाश की जा रही है।

इस घटनाक्रम के बाद युवती नशे की हालत में जब अपने घर पहुँची तो परिजनो ने उसे देखकर घर से भगा दिया। घरवालों द्वारा भगाए जाने से आहत होकर वह गुरुदेव क्रासिंग पर जान देने पहुंच गई। इसी बीच उसके एक दोस्त का फोन आ गया। युवती ने आपबीती बताई तो वह भी गुरुदेव क्रासिंग पहुंचा तथा उसे समझा—बुझाकर घर ले आया। बुधवार 7 अक्टूबर जब वह शिकायत लेकर कल्याणपुर थाने पहुंची तो पुलिस ने बर्रा थाने जाने की बात कही। बर्रा थाने में भी पुलिस ने बहुत देर तक बैठाए रखने के बाद रिपोर्ट दर्ज की।

इस मामले में कानपुर पुलिस पर आरोप है कि पीड़िता रिपोर्ट लिखवाने के लिए सुबह से शाम तक थाने में बैठी रही, मगर एफआईआर दर्ज नहीं की गयी। बाद में जब मामला मीडिया में उछलने लगा तो पुलिस ने इस मामले में एक्शन लिया।

कानपुर में बीते काफी समय से होटलों को लेकर अनियमितताओं की खबरें सुनने में आ रही हैं, बावजूद इसके प्रशासन ध्यान नहीं देता। ध्यान देता भी है तो महज खानापूर्ति के बाद पहले की तरह फिर सब बहाल हो जाता है। मौजूदा घटना वाले सोना मेन्शन में आरोप है कि होटल के मैनेजर ने बिना आईडी के ही कमरा दिया था। यह होटल भी किसी बीजेपी नेता का बताया जा रहा है। आरोप यह भी है कि पुलिस ने होटल संचालक और मैनेजर पर कार्रवाई न करते हुए उसे बचा लिया।

सोना मेन्सन से महज 200 कदम पर बना गेस्ट हाऊस आर.के. पैलेस में भी जुआंखाना चलता पकड़ा गया था, जिसमें 8 से 9 लोगों को हिरासत में लिया गया था। यह गेस्ट हाउस विधायक अजीत पाल का है। अजीत पाल मौजूदा समय सिकन्दरा से भाजपा की टिकट पर 2017 से विधायक हैं। इस गेस्ट हाउस में बने कमरों का भी बिना किसी आईडी के ही दे देने का खेल बताया जाता है।

Next Story

विविध

Share it