समाज

Kanpur News : 10 माह से न्याय के लिए भटक रही सिपाही दुष्कर्म की शिकार युवती, थाने से FR लगने के बाद फिर से खुलेगा पूरा मामला

Janjwar Desk
29 Aug 2022 9:30 AM GMT
Kanpur News : पुलिसकर्मी की दरिंदगी की शिकार पीड़िता ने बताया कि बाबूपुरवा थाने में तैनात रहे एक सिपाही ने उसे होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया और इसके बाद वीडियो बना लिया था।
x

Kanpur News : पुलिसकर्मी की दरिंदगी की शिकार पीड़िता ने बताया कि बाबूपुरवा थाने में तैनात रहे एक सिपाही ने उसे होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया और इसके बाद वीडियो बना लिया था। 

Kanpur News : पुलिसकर्मी की दरिंदगी की शिकार पीड़िता ने बताया कि बाबूपुरवा थाने में तैनात रहे एक सिपाही ने उसे होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया और इसके बाद वीडियो बना लिया था....

Kanpur News : कानपुर के बाबूपुरवा इलाके की रहने वाली युवती ने कानपुर कमिश्नरेट पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाए है। पुलिसकर्मी की दरिंदगी की शिकार पीड़िता ने बताया कि बाबूपुरवा थाने में तैनात रहे एक सिपाही ने उसे होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया और इसके बाद वीडियो बना लिया था। तत्कालीन पुलिस आयुक्त के निर्देश पर 29 अक्टूबर 2021 को थाना बाबूपुरवा में सिपाही अमित कुमार के खिलाफ रेप,पॉस्को और धमकाने की गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था।

पीड़िता के अनुसार मुकदमा दर्ज होने के 10 माह बीतने के बावजूद बाबूपुरवा पुलिस ने आरोपी सिपाही के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की। उल्टा साठगाँठ करके मुक़दमे में फाइनल रिपोर्ट लगा दी। पीड़िता ने आरोप लगाया कि जब वो अपने मुकदमा की जानकारी करने थाने गयी तो बाबूपुरवा इंस्पेक्टर ने गाली-गलौज करके उसको भगा दिया, जिसके बाद से पीड़िता एसीपी बाबूपुरवा, सँयुक्त पुलिस आयुक्त कानून /व्यवस्था के पास न्याय की गुहार लगाने गयी। वही सँयुक्त पुलिस आयुक्त आनन्द प्रकाश तिवारी ने बताया कि पीड़िता के आरोपों के निष्पक्ष जाँच के निर्देश दिए गए है।

क्या है पूरा मामला?

पीड़िता के मुताबिक वर्ष 2019 में बाबूपुरवा निवासी फैसल ने उसे प्रेमजाल में फंसाकर दुष्कर्म किया था। युवती की तहरीर पर बाबूपुरवा पुलिस ने फैसल समेत चार लोगों पर मुकदमा दर्ज किया था। जिसके बाद फैसल को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। युवती बाकी आरोपितों पर भी कार्रवाई की मांग करती रही, पर सुनवाई नहीं हुई। युवती के मुताबिक थाने जाने पर उसकी मुलाकात सिपाही अमित कुमार से हुई। सिपाही ने उसका फोन नंबर ले लिया और बाकी आरोपितों के खिलाफ भी कार्रवाई कराने का भरोसा दिलाया।

सिपाही पर ये आरोप

11 माह पूर्व सिपाही बहाने से युवती को कलक्टरगंज थाना क्षेत्र के एक होटल में ले गया, जहां नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया। विरोध करने पर अश्लील फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी दी। इसके बाद पीडि़ता ने पुलिस अधिकारियों को प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। युवती ने तत्कालीन पुलिस आयुक्त असीम अरुण से गुहार लगाई, तब जाकर आरोपी सिपाही पर मुकदमा दर्ज हो सका था, जिसमें बीती 17 अगस्त को एफआर (Final Report) लग गयी।

एसीपी का बयान

एसीपी बाबूपुरवा आलोक सिंह ने बताया कि, मुकदमें में परिस्थिति जनक साक्ष्यों के आधार पर फाइनल रिपोर्ट लगाई गयी है। युवती ने 161 के बयान में घटना जुलाई 2021 की बताई और 164 के बयानों में जून 2021 की घटना बताया, झकरकटी के पास जिस होटल की घटना बताई वहाँ के रजिस्टर में एंट्री नही मिली, युवती ने मुकदमें में लिखाया है कि बाबूपुरवा में दर्ज 2019 के मुकदमा में आरोपी सिपाही ने उसको मदद का झांसा दिया था, बल्कि 2018 में सिपाही बाबूपुरवा से पुलिस लाइन चला गया था। वहीं एसीपी के अनुसार पीड़िता अस्पताल में भर्ती होने के प्रपत्र नही दे सकी, कॉल डिटेल्स के अनुसार युवती ने ही 3 बार सिपाही को कॉल किया था।

इस मामले में ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर का कहना है कि, मुकदमा संख्या 201/2021 थाना बाबूपुरवा के संबंध में पीड़िता ने अंतिम प्रपत्र जो कि थाने में दिया गया है, से असहमति जताई है। चूंकि यह मामला एक महिला के साथ हुए अपराध का है, इसलिए कानपुर कमिशनरेट पुलिस ने इसकी गंभीरता को देखते हुए विवेचना एक महिला निरीक्षक से कराने का निर्णय लिया है। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया है कि इस पूरे मामले को फिर से एडिशनल एसपी अमिता सिंह के सुपरविजन में पुन: जांच कराई जाएगी।

Next Story

विविध