समाज

परिजनों की मर्जी के खिलाफ प्रेम विवाह करने वाले जोड़े को गोलियों से भूना, पति की मौत-पत्नी की हालत गंभीर, ऑनर किलिंग का शक

Janjwar Desk
25 Jun 2021 10:40 AM GMT
परिजनों की मर्जी के खिलाफ प्रेम विवाह करने वाले जोड़े को गोलियों से भूना, पति की मौत-पत्नी की हालत गंभीर, ऑनर किलिंग का शक
x

दिल्ली में प्रेम विवाह करने वाले जोड़े पर बरसायीं ताबड़तोड़ गोलियां, परिजनों पर हत्या का शक

नवविवाहित जोड़े विनय और किरण ने घरवालों की मर्जी के खिलाफ सालभर पहले घर से भागकर शादी की थी, लड़का-लड़की के प्यार को शुरू से परिवार वालों की मंजूरी नहीं थी, क्योंकि कथित तौर पर दोनों का गोत्र एक ही था...

जनज्वार। प्रेम विवाह करने वाले ज्यादातर मामले में ​परिवार और समाज ही नवदंपती का दुश्मन बन बैठता है। परिवार तो अपने इज्जत आन से इसे ऐसे जोड़ता है कि दोनों की हत्या करने से भी गुरेज नहीं करता। ऐसी दिल दहलाने वाली हत्यायें लगभग रोज सामने आती हैं। अब दिल्ली से ऐसा ही एक मामला सामने आ रहा है, जिसमें ऑनर किलिंग की संभावना जतायी जा रही है।

एक साल पहले शादी करने वाले विनय और उसकी पत्नी किरण को कल गुरुवार 24 जून को गोलियों से भून दिया गया। विनय की मौके पर ही मौत हो गई, और किरण बहुत सीरियस हालत में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली के द्वारका स्थित अमराई गांव में विनय दहिया और उसकी पत्नी किरण किराए पर कमरा लेकर रहते थे, कल गुरुवार 24 जून की रात उनके घर पर कुछ लोगों ने हमला किया और दोनों को संभलने का मौका दिये बिना ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दीं। गोलीबारी में विनय दहिया को चार गोलियां लगी और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया, वहीं किरण पर भी गोली चलायी गयी, अस्पताल में उसकी हालत गंभीर बनी हुयी है।

पुलिसिया जानकारी में सामने आया है कि इस नवविवाहित जोड़े विनय और किरण ने घरवालों की मर्जी के खिलाफ सालभर पहले घर से भागकर शादी की थी। पुलिस ने मीडिया को दिये बयान में कहा है, लड़का-लड़की के प्यार को शुरू से परिवार वालों की मंजूरी नहीं थी, क्योंकि कथित तौर पर दोनों का गोत्र एक ही था।'

बकौल डीसीपी द्वारका संतोष मीणा, गुरुवार '24 जून की रात अमराई में गोली चलने की जानकारी मिली थी। लड़के को 4 गोलियां लगी थीं, जबकि लड़की को एक गोली लगी। लड़के की तुरंत मौत हो गयी थी। पुलिस को लड़की के परिवार वालों पर हॉरर किलिंग का शक है। पुलिस इसी कोण से मामले की जांच कर रही है। शुरुआती जानकारी में सामने आया है कि विनय एक प्राइवेट एयरलाइन में नौकरी करता था। किरण और विनय एक ही गांव और एक ही गोत्र के थे, जिस कारण परिजनों को उनका एक होना किसी भी ​कीमत पर मंजूर नहीं था। मगर इस जोड़े ने किसी की परवाह न करते हुए सालभर पहले घर से भागकर शादी कर ली और बहुत प्रेम से अपनी जिंदगी बिता रहे थे।

पुलिस ने सीसीटीवी के आधार पर कई आरोपियों की पहचान कर ली है। आरोपियों में लड़की के सगे भाई, चाचा और चचेरे भाई के शामिल होने का शक जताया जा रहा है। पुलिस ने कई टीमें बनाकर सोनीपत और हरियाणा के दूसरे इलाकों में छापेमारी शुरू कर दी है, मगर अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

जांच में सामने आया है कि शादी के बाद दोनों दिल्ली के अमराई गांव के किराए के मकान में रह रहे थे। जिस मकान में विनय की हत्या हुई, वहां वह 10 दिन पहले ही किराए पर रहने आये थे। शादी से परिजन नाराज थे, ऐसे में दोनों ने अपने परिजनों से सम्पर्क नहीं रखा हुआ था।

विनय और किरण के पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि जब हमलावरों ने गोली चलाई तो लड़की जान बचाकर छत पर भागी थी। फिर अपनी बिल्डिंग की छत से बगल वाली बिल्डिंग की छत पर कूद गई। वहां एक महिला थी, जिससे जाकर लड़की लिपट गई और बिलखते हुए बोल रही थी, 'दीदी, मेरी जान बचा लो। महिला तुरंत लड़की को नीचे ले गई। वहां से पुलिस को सूचना दी गई। इससे लड़की की जान बच गई, लेकिन तब तक लड़की को एक गोली लग चुकी थी।'

विनय भी अपनी जान बचाने के लिए भागा था, मगर आरोपियों ने उसे घेर लिया और एक-एक करके चार गोलियां मार दीं। जानकारी यह भी सामने आ रही है कि गोली मारने से पहले हमलावर विनय और किरण के कमरे में गए और वहां चाय पी, फिर पनीर मंगाया। पनीर खाने के दौरान ही पिस्टल निकालकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दीं।

द्वारका जिले के अमराई गांव में नव दंपती पर चली गोलियों के मामले में मीडिया में कई जानकारियां मिल रही हैं। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने लड़की के परिजनों को इस घटना के लिए आरोपी बनाया है।

पुलिस के हवाले से खबर यह भी आ रही है कि घरवालों की मर्जी के खिलाफ हुई शादी का बदला लेने के लिए लड़के की हत्या कर दी गयी, जबकि लड़की गंभीर रूप से घायल है। सीसीटीवी फुटेज को देखकर भी ऐसा ही लग रहा है।

Next Story

विविध

Share it